चुनाव बाद बंद हो सकती है फ्री 100 यूनिट बिजली

मुफ्त बिजली योजना से कंपनियों पर बढ़ा कर्ज

चुनाव बाद बंद हो सकती है फ्री 100 यूनिट बिजली

मुफ्त बिजली योजना से सरकारी बिजली कंपनियों को करोड़ों का नुकसान हुआ है। घाटे को पूरा करने के लिए बिजलों में सरचार्ज और फ्यूल चार्ज के जरिए राशि वसूली जा रही है।

जयपुर। राजस्थान में घरेलू कनेक्शनों पर सौ यूनिट फ्री और कृषि कनेक्शनों पर दो हजार यूनिट फ्री वाली योजना को राज्य सरकार लोकसभा चुनाव के बाद बंद कर सकती है। बिजली कंपनियों पर लगातार बढ़ रहे कर्ज के चलते यह फैसला लिया जा सकता है। कर्ज वसूलने के बाद बिलों में आ रहे सरचार्ज और फ्यूल चार्ज की राशि में संशोधन कर उपभोग खर्च अनुसार बिल जारी करने के प्रस्ताव को राज्य सरकार मंजूरी दे सकती है। फिलहाल ऊर्जा विभाग ने इस संबंध में कोई निर्णय नहीं लिया। लोकसभा चुनाव के बाद इस संबंध में भजन लाल सरकार फैसला ले सकती है।
बिजली कंपनियों के लिए यह योजना घाटे का खेल गहलोत सरकार में शुरू हुआ था। गहलोत सरकार में लोगों को लुभाने के लिए घरेलू कनेक्शन पर सौ यूनिट और कृषि कनेक्शन पर दो हजार यूनिट तक नि:शुल्क बिजली देने का फैसला किया था। विधानसभा चुनाव के बाद भी अभी तक लोगों को इस योजना का लाभ मिल रहा है, लेकिन पहले से घाटे में चल रही बिजली कंपनियों का घाटा एक लाख सात हजार 655 करोड़ रुपए के ऊपर पहुंच गया है। इस आंकड़े का खुलासा खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल के सदन में पूछे सवाल के आए जवाब से हुआ।
लाखों 

उपभोक्ताओं का बिल जीरो आया 
घरेलू और कृषि उपभोक्ताओं को मुफ्त बिजली लाभ के चलते वर्ष 2023 तक 69.88 लाख से अधिक घरेलू उपभोक्ताओं और 10.09 लाख कृषि उपभोक्ताओं का बिजली बिल जीरो आया। इसके अलावा योजना से प्रदेश के 1.20 करोड़ से अधिक घरेलू उपभोक्ताओं को बिजली बिल में बड़ी राहत मिली है। 

सरचार्ज और फ्यूल चार्ज से राशि वसूली
मुफ्त बिजली योजना से सरकारी बिजली कंपनियों को करोड़ों का नुकसान हुआ है। घाटे को पूरा करने के लिए बिजलों में सरचार्ज और फ्यूल चार्ज के जरिए राशि वसूली जा रही है। कई बार यह चार्ज उपभोक्ता के मूल बिल से भी ज्यादा होता है। लोकसभा चुनाव बाद भजन लाल सरकार मुफ्त बिजली योजना को बंद कर कंपनियों के सुझाव के आधार पर नया फॉर्मूला तैयार कर सकती है। मुफ्त बिजली योजना बंद होने पर बिलों में लगने वाले चार्ज संशोधन को लेकर भी निर्णय लिया जाएगा।

Post Comment

Comment List

Latest News

सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना: 88.44 लाख पेंशनर्स के खातों में 1038.55 करोड़ रुपए की राशि जाएगी सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना: 88.44 लाख पेंशनर्स के खातों में 1038.55 करोड़ रुपए की राशि जाएगी
मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा 24 जून 2024 को राजस्थान इंटरनेशनल सेंटर, जयपुर में सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के तहत बढ़ी हुई...
म्यूजियम जल्द शुरू कर गांधी वाटिका स्टडीज विजिट पाठ्यक्रमों में जोड़े सरकार: गहलोत
शिक्षा मंत्री की प्रेस कॉन्फ्रेंस : एनटीए के लिए हाई लेवल कमेटी गठित होगी
मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा की अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस पर दी प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं
विद्यार्थियों का हित सर्वोपरि, गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई: केंद्र सरकार
World Leader होने की झूठी मार्केटिंग करते हैं मोदी: डोटासरा
Budget में सभी विधायकों को मिलेगी सड़कों की सौगात, विधानसभावार मांगे प्रस्ताव