कोटा दक्षिण वार्ड 58 - कछुआ चाल सा सीवरेज का काम, जनता परेशान

सरकारी विभागों में आपसी तालमेल का आभाव

 कोटा दक्षिण वार्ड 58 - कछुआ चाल सा सीवरेज का काम, जनता परेशान

शहर के कोटा दक्षिण वार्ड 58 में कछुआ चाल से कार्य हो रहा है। स्थानीय लोगों का कहना है की आरयूआईडीपी द्वारा सीवरेज पाइपलाइन डलवाने का कार्य कछुआ चाल से भी धीमीं गती से हो रहा है।

कोटा । कोटा शहर में सीवरेज कार्य की कछुआ चाल से पूरा शहर परेशान है। कभी सीवरेज तो कभी अन्य पाइनलाइन डालने का हवाला देकर सड़के खोद दी जाती है। जगह-जगह सीवरेज लाइन डालने के लिए सड़के खोद कर छोड़ दी गई है। जिन क्षेत्रों में नई सड़के बनाई गई है, उन सड़कों को भी खुदवाया जा रहा है। सरकारी विभागों में आपसी तालमेल का आभाव बना हुआ है। जगह-जगह गड्ढें खुदवाकर छोड़ दिए गए है। इससे लोग दुर्घनाओं का शिकार हो रहे है। यही हाल है शहर के कोटा दक्षिण वार्ड 58 का। इस वार्ड में कछुआ चाल से कार्य हो रहा है। स्थानीय लोगों को कहना है की आरयूआईडीपी द्वारा सीवरेज पाइपलाइन डलवाने का कार्य कछुआ चाल से भी धीमीं गती से हो रहा है। स्थानीय लोगों का कहना है की छावनी मेन रोड़ में सीवरेज डलवाई जानी थी। यह कार्य एक माह के अधिक के समय से बंद है। यहां गड्ढें खुदवाकर छोड़े गए है। अभी तक इनमें ना तो पाइपलाइन डाली गई है और ना ही इन गड्ढों को बंद करवाया गया है। इन गड्ढों की वजह से आए दिन वार्ड क्षेत्र में हादसे होते रहते है। इसके बावजूद भी प्रशासन व विभाग के कर्मचारी आंखे मंूदकर बैठे है। वहीं हर बार अधिकारी कहते हैं की बारिश की वजह से वह काम शुरु नहीं कर रहे।

चौड़ाई बढ़ाने की मांग
स्थानीय लोगों का कहना है की छावनी मेन रोड़ वाला क्षेत्र भीड़ भाड़ वाला क्षेत्र है। दिन के समय में यहां बहुत अधिक भीड़ रहती है। यहां से चौपहिया वाहन निकाल पाना बहुत मुश्किल होता है। यहां पर भारी जाम लगा रहता है। इससे यहां के लोग परेशान है। स्थानीय लोगों ने छावनी बंगाली कॉलोनी, जामा मस्जिद रोड़ को चौड़ा करने की मांग की है। इससे छावनी क्षेत्र में ट्रेफिक की समस्या से निजात मिलेगी। इस रोड़ की चौड़ाई बढ़ाने के लिए काफी बार विभाग को भी अवगत करवाया जा चुका है और जनप्रतिनिधियों को भी पत्र लिखे जा चुके है, लेकिन आज तक इसकी और किसी ने कोई ध्यान नहीं  दिया।

यह है वार्ड क्षेत्र
बंगाली कॉलोनी, शीतला माता मंदिर वाला सम्पूर्ण एरिया, दैनिक नवज्योति रोड़ आजाद पार्क, शकुन्तला अपार्टमेन्ट, चिल्ड्रन स्कूल, बडी मस्जिद, राजोरा कम्प्लेक्स, भूत बंग्ला का क्षेत्र एवं तिलक नगर इस वार्ड क्षेत्र में आता है।

वन-वे हो रोड
मस्जिद वाली रोड़ को वन-वे किया जाना चाहिए। दिन के समय इस रोड़ से बडेÞ वाहन नहीं गुजरेंगे तो आसानी होगी। इससे ट्रेफिक जाम भी नहीं लगेगा। रात्रि व सुबह के समय में इस रोड़ को खोल दिया जाना चाहिए। इसके साथ ही सड़कों पर बिजली विभाग के तार व लाइटें लटकती रहती है, जिससे हादसे होने का खतरा बना रहता है। इस समस्या को लेकर भी विभाग को कई बार अवगत करवाया गया है, लेकिन इसकी और कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा।
- एस.ए खान, स्थानीय निवासी

बिजली रहती है गुल
वार्ड क्षेत्र में बिजली कटौती की भंयकर समस्या है। वार्ड में ज्यादात्तर बिजली गुल ही रहती है। इससे कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। बार-बार बिजली के कट लगाए जाते हैैं।
- मोहम्मद अफजल, स्थानीय निवासी

नहीं आ रहा पानी
वार्ड क्षेत्र में लंबे समय से पानी सप्लाई कि समस्या भी बनी हुई है। पिछले चार दिनों से वार्ड क्षेत्र में पानी सप्लाई नहीं हुआ है। जलदाय विभाग के अधिकारी पानी अधिक होने का हवाला देते हैं और कहते हैं की पानी बहुत ज्यादा हैं, जिसकी वजह से पानी फिल्टर नहीं हो पाता। वार्ड क्षेत्र में 5 हजार से अधिक की जनसंख्या है। स्थानीय लोग पानी के लिए दर-दर भटक रहे है।
-संतोष सिंह, स्थानीय निवासी

खोद रखे हैं गड्ढे
आरयूआईडीपी ने वार्ड क्षेत्र में जगह-जगह गहरे गड्ढें खुदवाकर छोड़ दिए है। कार्य बहुत ही धीमीं गती से हो रहा है। इससे वार्ड के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। इन गड्ढों के कारण वार्ड क्षेत्र में रोजान हादसे होते है, लेकिन इसकी और कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा।
- शिवांगिनी सोनी, पार्षद

Post Comment

Comment List

Latest News