200 से अधिक यूनिट बिजली खर्च पर देने होंगे सभी चार्ज

बिल में घट जाएंगी 100 यूनिट

200 से अधिक यूनिट बिजली खर्च पर देने होंगे सभी चार्ज

केवल कुल यूनिट खर्च में 100 यूनिट खर्च कम कर दिया जाएगा। नई घोषणा को बिजली कंपनियां वित्त विभाग की जारी एसओपी के बाद लागू करेंगी। 

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सौ यूनिट प्रतिमाह बिजली फ्री घोषणा के बाद सभी स्लैब उपभोक्ताओं के बिलों में नए सिरे से अंतर हो गया है। घोषणा के बाद 200 यूनिट उपभोग तक राहत का दायरा बदल गया। इससे अधिक उपभोग पर सभी सरचार्ज-टैक्स चुकाने होंगे। केवल कुल यूनिट खर्च में 100 यूनिट खर्च कम कर दिया जाएगा। नई घोषणा को बिजली कंपनियां वित्त विभाग की जारी एसओपी के बाद लागू करेंगी। 

रजिस्ट्रेशन के बाद ही मिलेगा फायदा
घोषणा प्रदेश के 1.24 करोड घरेलू उपभोक्ताओं को इसका लाभ मिलेगा। इसमें करीब एक करोड़ से अधिक उपभोक्ता 100 यूनिट तक बिजली खर्च वाले, 101-200 यूनिट वाले करीब 11 लाख और 200 यूनिट से अधिक उपभोग वाले करीब 9 लाख उपभोक्ता हैं। महंगाई राहत कैम्प में अब तक 70 लाख से ज्यादा उपभोक्ता रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं। कैंप में रजिस्ट्रेशन कराने पर ही घोषणा का लाभ मिलेगा। 

ये रहेंगे स्लैब
 जून से पहले 50 यूनिट उपभोग पर खर्च 487.50 रुपए बिल पर पूरी सब्सिडी मिलने से बिल शून्य था।
 एक जून के बाद 100 यूनिट उपभोग पर बिल राशि 832.50 रुपए को भी सरकार वहन करेगी, बिल जीरो आएगा।
 200 यूनिट तक उपभोग पर करीब 1610 रुपए बिल बनेगा, सरकार से 1107 रुपए सब्सिडी के बाद 503 रुपए बिल रहेगा।
 200 से अधिक उपभोग पर सभी चार्ज देने होंगे। कुल यूनिट में 100 यूनिट माफ होंगी, बिल 2400 रुपए से ऊपर आएगा।

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News