कोल्हापुर में औरंगजेब के पोस्टर से उठे विवाद पर भड़के दंगे पर राउत बोले, जिम्मेदार शिंदे-फडणवीस सरकार 

बोले, उनके कारण कोल्हापुर में अराजकता का माहौल बना

कोल्हापुर में औरंगजेब के पोस्टर से उठे विवाद पर भड़के दंगे पर राउत बोले, जिम्मेदार शिंदे-फडणवीस सरकार 

शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने गुरुवार शिंदे-फडणवीस सरकार पर आरोप लगाया कि उनके कारण कोल्हापुर में अराजकता का माहौल बना हुआ है।

संभाजीनगर। शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने गुरुवार शिंदे-फडणवीस सरकार पर आरोप लगाया कि उनके कारण कोल्हापुर में अराजकता का माहौल बना हुआ है। राउत ने आज पत्रकारों से बातचीत में कहा कि कोल्हापुर जैसे शहर में दंगे महाराष्ट्र के लिए सहीं नहीं होंगे।  उन्होंने कहा कि दंगे की राजनीति करने और लोगों तथा समाज में खाई पैदा कर चुनाव लडऩे की यह तकनीक भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की है।

उन्होंने कहा कि जब उनके पैरों की जमीन खिसक जाती है तो उन्हें बजरंगबली और हनुमान चालिसा याद आती है जो कर्नाटक चुनाव में उनके काम नहीं आयी है। मुझे लगता है कि उन्हें अंत में औरंगजेब और टीपू सुल्तान पर आत्मसमर्पण करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि हमने 400 साल पहले सांभजीनगर में औरंगजेब को यहां दफनाया था। फिर भी भाजपा उसे बार-बार पुनर्जीवित कर रही है। उन्होंने सवाल किया कि वे इस मुद्दे को बार-बार क्यों उठा रहे हैं इस पर भाजपा को जवाब देना चाहिए। कोल्हापुर में हुए दंगे में शहर का कोई भी व्यक्ति नहीं था, दंगा करने वाले शहर के बाहर के लोग थे। उन्होंने कहा कि उद्धव सरकार में ऐसा कभी नहीं हुआ। जब भाजपा सरकार सत्ता में आई थी तौ ऐसा क्यों हो रहा है। उन्होंने कहा कि अगर उनकी ताकत है, तो असली दंगाइयों को ढूंढें।

उन्होंने आरोप लगाया कि वे गैंगस्टर के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रहे हैं, लेकिन अपने समर्थकों को बचाने के लिए पुलिस का उपयोग कर रहे है। वे इसका इस्तेमाल चुनाव जीतने के लिए करेंगे। उन्होंने विधायक की अयोग्यता पर कहा कि उनका भविष्य विधानसभा के अध्यक्ष पर निर्भर है वह अदालत द्वारा दिए गए निर्देशों और विधानसभा के अध्यक्ष के रूप में उनके अधिकार के आधार पर निर्णय लेंगे।

Post Comment

Comment List

Latest News

संग्रहाध्यक्ष, खोज व उत्खनन अधिकारी प्रतियोगी परीक्षा-2023 होगी 19 जून को संग्रहाध्यक्ष, खोज व उत्खनन अधिकारी प्रतियोगी परीक्षा-2023 होगी 19 जून को
परीक्षा केन्द्र पर किसी भी परीक्षार्थी को परीक्षा प्रारंभ होने के 60 मिनट पूर्व तक ही प्रवेश दिया जाएगा। इसके...
NDA Government राजस्थान पर मेहरबान, केंद्र ने राज्य को जारी किए 8421.38 करोड़
बाड़मेर-ऋषिकेश एक्सप्रेस रेलसेवा एलएचबी रैक से संचालित होगी
राज्यवर्धन ने सूचना सहायक पदों की संख्या बढ़ाई
कांग्रेस ने आंध्रप्रदेश के विशेष दर्जे पर मोदी से मांगा स्पष्टीकरण
सीएम को लिखा पत्र : निकायों का पुनः परिसीमांकन एवं वार्डों की संख्या के निर्धारण का कार्य पारदर्शी तरीके से हो: राजेंद्र राठौड़
Single Use Plastic Seizure Campaign: 1 लाख 35 हजार रूपये से अधिक जुर्माने के साथ 109 किलो से अधिक प्रतिबंधित सिंगल यूज प्लास्टिक जब्त