41 साल में पैलेस ऑन व्हील्स के 1178 फेरे, 80 हजार से अधिक पर्यटकों ने किया सफर

आज शाम दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से पर्यटकों को लेकर निकलेगी शाही ट्रेन

41 साल में पैलेस ऑन व्हील्स के 1178 फेरे, 80 हजार से अधिक पर्यटकों ने किया सफर

आरटीडीसी से मिली जानकारी के अनुसार पैलेस ऑन व्हील्स ट्रेन से विजिट कर रहे पर्यटकों को प्रदेश के ऐतिहासिक मॉन्यूमेंट्स की विजिट तो कराई जाती है। साथ ही उन्हें आगरा के ताजमहल के दीदार भी कराए जाते हैं।

नवज्योति, जयपुर। प्रदेश की शाही ट्रेन पैलेस ऑन व्हील्स साल 1982-83 से अब तक लगातार शाही ठाट-बाट से सफर कराती आ रही है। इस दौरान हजारों की संख्या में देसी और विदेशी पर्यटकों ने चलते-फिरते महल में शाही सफर का लुत्फ उठाया है। पीओडब्ल्यू ट्रेन की इस सीजन की शुरूआत विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर बुधवार शाम को दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से होगी। इसके तहत इस सीजन के पहले सफर में 60 से अधिक पर्यटक गुरुवार सुबह जयपुर पहुंचेंगे। जानकारी के अनुसार ट्रेन में सुरक्षा को देखते हुए 39 सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं। साथ ही ट्रेन के इंटीरियर और लुक में भी बदलाव किया गया है। गौरतलब है कि कोविड़ के चलते शाही ट्रेन का संचालन 2020-21 और 2021-22 में नहीं हो सका था। 

आरटीडीसी से मिली जानकारी के अनुसार पैलेस ऑन व्हील्स ट्रेन से विजिट कर रहे पर्यटकों को प्रदेश के ऐतिहासिक मॉन्यूमेंट्स की विजिट तो कराई जाती है। साथ ही उन्हें आगरा के ताजमहल के दीदार भी कराए जाते हैं। 1982-83 से पैलेंस ऑन व्हील्स ट्रेन का संचालन हो रहा है। ट्रेन में अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, ब्रिटेन, ब्राजील, चायना, डच, फ्रांस, जर्मनी, ग्रीस, हॉगकॉग, ईटली, इंडोनेशिया, जापान, कैन्या, कुवैत, मलेशिया, मैक्सिको, न्यूजीलैंड, रशिया, साउथ अफ्रीका, श्रीलंका, सहित अन्य देशों के पर्यटकों ने सवारी का लुत्फ उठाया। पैलेस आॅन व्हील्स ट्रेन के पूर्व जनरल मैनेजर और वर्तमान में एक निजी कम्पनी के डायरेक्टर प्रदीप बोहरा ने 1982-83 से 2022-23 (दिसम्बर 2022 तक) तक ट्रेन के तकरीबन 1178 फेरों में 80126 पर्यटकों ने शाही सफर का लुत्फ उठाया। एक सप्ताह के टूर के तहत सफर की शुरुआत दिल्ली से शुरू होती है, जो जयपुर, सवाई माधोपुर, चित्तौड़गढ़, उदयपुर, जैसलमेर, जोधपुर और आगरा होते हुए पुन: दिल्ली पहुंचकर समाप्त होती है। 

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News

टनल से सुरक्षित बाहर आए सभी 41 श्रमिक, अस्थाई मेडिकल केम्प में किया जा रहा है स्वास्थ्य प्रशिक्षण टनल से सुरक्षित बाहर आए सभी 41 श्रमिक, अस्थाई मेडिकल केम्प में किया जा रहा है स्वास्थ्य प्रशिक्षण
उत्तराखंड के उत्तरकाशी जनपद के अंतर्गत, निर्माणाधीन सिलक्यारा सुरंग में बीते 12 नवंबर दीपावली के दिन से भूस्खलन के कारण...
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी के जीवन पर आधारित फिल्म मैं अटल हूं इस तारीक को हो रही है रिलीज
सैम बहादुर में इंदिरा गांधी की भूमिका निभाने को लेकर नर्वस थी फातिमा सना शेख
हवामहल के चार और आमेर के दो बूथ पर 90 फीसदी मतदान हुआ
राजस्थान विधानसभा चुनाव : इन सीटों पर महिलाओं के वोट प्रतिशत अधिक रहने के पीछे महिलाओं से जुड़ी योजनाओं का प्रभाव
NATO Foriegn Minister Meeting: मंत्रियों की बैठक ब्रुसेल्स में दो दिवसीय बैठक
खेलों में भी मिले पीएलआई सुविधा..!