राहुल गांधी की ट्रैक्टर रैली पर सतीश पूनिया का निशाना, कहा- यह जनता का मनोरंजन मात्र

राहुल गांधी की ट्रैक्टर रैली पर सतीश पूनिया का निशाना, कहा- यह जनता का मनोरंजन मात्र

भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया ने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी की होने वाली ट्रैक्टर रैली जनता का मनोरंजन मात्र है। पूनिया ने अजमेर में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि दिसंबर 2018 में भी उन्होंने कई रैलियां की और उस दौरान 10 दिनों में ही 29 लाख किसानों का ऋण माफ करने की बात कही थी, लेकिन अब तक 99 हजार करोड़ रुपए का कर्ज किसानों का माफ नहीं किया जा सका।z

अजमेर। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया ने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी की होने वाली ट्रैक्टर रैली जनता का मनोरंजन मात्र है। पूनिया ने अजमेर नगर निगम परिसर में महापौर एवं उपमहापौर के पदभार ग्रहण समारोह में शिरकत करने के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि दिसंबर 2018 में भी उन्होंने कई रैलियां की और उस दौरान 10 दिनों में ही 29 लाख किसानों का ऋण माफ करने की बात कही थी, लेकिन प्रदेश में कांग्रेस राज के बावजूद अब तक 99 हजार करोड़ रुपए का कर्ज किसानों का माफ नहीं किया जा सका। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को प्रदेश के दो दिवसीय दौरे में कर्जमाफी के वादे पर स्पष्टीकरण देना चाहिए, क्योंकि कर्जे से तंग आकर कई किसान मौत को गले लगा रहे हैं। उन्होंने कांग्रेस पर किसानों के नाम पर अवसरवाद की राजनीति करने का भी आरोप लगाया।

बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर लीक और वीक सरकार होने का आरोप जड़ते हुए कहा कि सरकार का  मध्यांतर पूरा हो चुका है। सत्ता विरोधी लहर अथवा आक्रोश शुरुआती दौर से ही कांग्रेस के खिलाफ है और प्रदेश की 90 निकायों के चुनाव और पंचायतराज चुनाव में भी भाजपा को बढ़त मिली है। वर्तमान चुनाव के नतीजे उसी का परिणाम है। उन्होंने कहा कि कभी राजस्थान शांतिपूर्ण प्रदेशों में गिना जाता था, लेकिन अब इंसान तो क्या भगवान भी सुरक्षित नहीं है। उन्होंने जयपुर में जैन मंदिर मूर्ति चोरी का हवाला देते हुए कहा कि कांग्रेस राज के 2 सालों में 5 लाख 80 हजार मुकदमे दर्ज हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री गहलोत पर तंज कसते हुए कहा कि यह सरकार लाचार, मजबूर, बेबस और कमजोर सरकार है तथा अंतर्कलह के चलते सभी मोर्चों पर विफल है। इसे जुगाड़ की सरकार भी कहा जा सकता है।

इससे पहले सतीश पूनिया ने पदभार ग्रहण समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी राजनीतिक यात्रा में अजमेर का महत्वपूर्ण योगदान रहा है और जिस परिश्रम से भाजपा कार्यकर्ताओं को जनादेश मिला है वे प्रदेश में विपरीत सरकार के बावजूद स्थानीय निगम में भाजपा बोर्ड के जरिए जनता का विश्वास हासिल करेंगे और समय के अनुसार बदलाव एवं नवाचार करके वार्ड के विकास में भागीदारी निभाएंगे। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत मिशन और उनके  आह्वान जनभागीदारी की जरूरत को आत्मसात करने की प्रेरणा दी। उन्होंने नवनिर्वाचित पार्षदों का आह्वान किया कि आंकड़ों की जीत भाजपा के पक्ष में है। प्रदेश की 90 निकायों के वर्तमान चुनाव में अजमेर नगर निगम एकमात्र निगम रहा है, जहां भाजपा को स्पष्ट और गौरवपूर्ण बहुमत मिला।

Post Comment

Comment List

Latest News

रपट की ऊंचाई कम होने से जान जोखिम में डाल निकलने को मजबूर ग्रामीण रपट की ऊंचाई कम होने से जान जोखिम में डाल निकलने को मजबूर ग्रामीण
हरनावदाशाहजी क्षेत्र के नदी-नालों पर बनी बरसों पुरानी कम ऊंचाई की रपटों पर बारिश में आज भी ग्रामीण जान जोखिम...
प्रतिबंध की मार से 500 करोड़ की पॉलीथिन व डिस्पोजल इंडस्ट्री खत्म
हर साल 35 लाख से अधिक खर्च, फिर भी नाले उफान पर
कोटा उत्तर वार्ड 18- सुबह-शाम 3 घंटे मिलता पानी, दिनभर रहती मारामारी
पीओपी मूर्तियों पर प्रतिबंध ने छीना मूर्तिकारों का रोजगार
नगर परिषद की कार्रवाई के खिलाफ बीजेपी कार्यकर्ता और व्यापारियों का धरना प्रदर्शन
बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेल 2022: लक्ष्य ने पाया लक्ष्य, जीता गोल्ड मैडल