कांग्रेस से देश को बचाना, हर BJP कार्यकर्ता का कर्तव्य है : PM मोदी

करोड़ों बच्चों, युवाओं और सामान्य जन के लिए रातों में जागता हूं- मोदी

कांग्रेस से देश को बचाना, हर BJP कार्यकर्ता का कर्तव्य है : PM मोदी

मोदी ने कहा कि कांग्रेस अस्थिरता, परिवारवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण की जननी है तथा भाजपा के प्रत्येक कार्यकर्ता का कर्तव्य है कि देश को और देश के हर नागरिक को कांग्रेस से बचाना है।

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के करोड़ों कार्यकर्ताओं को अगले सौ दिनों में हर नये मतदाता तक पहुंचना और उन्हें विकसित भारत के हमारे संकल्प से अवगत कराने का आह्वान किया और कहा कि विपक्ष इतना हताश हो चुका है कि उसमें विकसित भारत के संकल्प करने का सामथ्र्य नहीं है और इसीलिए वह देश में अस्थिरता पैदा करने की नयी नयी साजिश रचने में लगा है।

मोदी ने राजधानी के प्रगति मैदान स्थित भारत मंडपम में भाजपा के राष्ट्रीय अधिवेशन 2024 को संबोधित करते हुए यह आह्वान किया और कहा कि यह कांग्रेस अस्थिरता, परिवारवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण की जननी है तथा भाजपा के प्रत्येक कार्यकर्ता का कर्तव्य है कि देश को और देश के हर नागरिक को कांग्रेस से बचाना है।

प्रधानमंत्री ने दो दिन तक चले इस अधिवेशन के समापन अवसर पर देश भर से आये करीब 12 हजार प्रतिनिधियों का मार्गदर्शन करते हुए कहा, ''आज 18 फरवरी है और इस दौर में जो युवा 18 साल के हो गए हैं, वे देश के 18वें लोकसभा चुनाव में वोट करेंगे. अगले 100 दिनों में आपको हर नए मतदाता से जुडऩा है, हर लाभार्थी, हर वर्ग, हर समुदाय और हर धर्म को मानने वाले हर व्यक्ति तक पहुंचना है। हमें हर किसी का विश्वास हासिल करने की जरूरत है।"

लोकसभा चुनाव जीतने के बाद अगले पांच वर्षों में भारत के विकसित भारत की ओर एक बड़ी छलांग लगाने की बात की विवेचना करते हुए मोदी ने दोहराया, ''पिछले 10 वर्षों में, भारत ने अभूतपूर्व गति हासिल की है और महत्वपूर्ण लक्ष्यों को प्राप्त करने का साहस हासिल किया है। भारत आज हर क्षेत्र में नई ऊंचाइयों पर पहुंचा है, हर नागरिक को ²ढ़ संकल्प की भावना से जोड़ा है। और ये संकल्प है- विकसित भारत। हमें भारत को विकसित बनाना है और इसमें अगले 5 साल अहम भूमिका निभाएंगे। अगले 5 वर्षों में भारत को पहले से कहीं अधिक तेज गति से काम करना होगा।"

प्रधानमंत्री ने भाजपा की सत्ता में जोरदार वापसी पर जोर देते हुए कहा, ''आज विपक्षी नेता भी राजग सरकार के 400 का आंकड़ा पार करने के नारे लगा रहे हैं। और राजग को 400 पार करने के लिए, भाजपा को 370 के मील के पत्थर को पार करना होगा।"

Read More चुनाव का पहला चरण : 16.63 करोड़ मतदाता करेंगे 1605 प्रत्याशी के भविष्य का फैसला 

मोदी ने कहा, ''मुझे सत्ता अपने किसी सुख वैभव के लिए नहीं चाहिए। मैं करोड़ों बच्चों, युवाओं और सामान्य जन के लिए रातों में जागता हूं, जूझता हूं। हम वो लोग हैं जो छत्रपति शिवाजी महाराज का सम्मान करते हैं। जब शिवाजी महाराज को ताज पहनाया गया, तो उन्होंने यह नहीं कहा कि अब मेरे पास शक्ति है, आइए इसका आनंद लें। उन्होंने अपना मिशन जारी रखा। इसी तरह, मैं ऐसा व्यक्ति नहीं हूं जो व्यक्तिगत धन और समृद्धि के लिए जीता है। मैं सत्ता के लिए भाजपा सरकार में तीसरा कार्यकाल नहीं चाहता हूं। मैं राष्ट्र के संकल्प से प्रेरित व्यक्ति हूं। सपना करोड़ों युवाओं, करोड़ों बहनों-बेटियों, करोड़ों गरीबों का संकल्प है मोदी का। और इसी संकल्प को पूरा करने के लिए हम दिन-रात काम कर रहे हैं।"

Read More कांग्रेस ने भाजपा पर उसके पोलिंग एजेंटों पर हमला करने का लगाया आरोप

उन्होंने कहा, ''आज भाजपा युवाओं, महिलाओं, गरीबों और किसानों की शक्ति को विकसित भारत के निर्माण की ताकत में बदल रही है। पहले लोग सोचते थे कि सरकारें तो बदल जाती हैं, लेकिन व्यवस्था नहीं बदलती। हमने सामाजिक न्याय की सच्ची भावना के साथ, हर व्यवस्था को पुरानी सोच और पुराने ²ष्टिकोण से परे ले जाया है। हमने उन लोगों से पूछा और स्वीकार किया जिनकी किसी और ने परवाह नहीं की थी।"

Read More अफ्रीकी गणराज्य में लोगों से खचाखच भरी नाव पलटी, 58 की मौत

महिलाओं की भलाई के लिए किए गए प्रयासों पर प्रकाश डालते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ''मैं देश का पहला प्रधान मंत्री हूं जिसने लाल किले से स्वच्छता जैसे मुद्दों को संबोधित किया। मैं पहला प्रधानमंत्री हूं जिसने महिलाओं के प्रति अपमानजनक भाषा के इस्तेमाल के खिलाफ लाल किले पर सवाल उठाया। महिलाओं की गरिमा और सम्मान हमारे लिए सर्वोपरि है। मुझे गर्व है कि पिछले 10 वर्षों में भाजपा सरकार ने महिलाओं के जीवन को आसान बनाने के लिए कई कदम उठाए हैं। महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने और बेटियों के लिए काम करना आसान बनाने के लिए, हमने कई कदम उठाए हैं।"

प्रधानमंत्री ने महिला सशक्तिकरण के उद्देश्य से कई पहलों पर चर्चा की, जिनमें बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ, लखपति दीदियां, स्वयं सहायता समूह, मातृत्व अवकाश नीतियां और मुद्रा ऋण जैसे कार्यक्रम शामिल हैं।

मोदी ने पिछले 10 वर्षों को साहसिक निर्णयों और अभूतपूर्व संकल्पों का जिक्र करते हुए कहा, ''जो मुद्दे सदियों से लंबित थे...हमने उन्हें सुलझाने का साहस दिखाया। अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण करके हमने 5 शताब्दियों के इंतजार को समाप्त किया। गुजरात के पावागढ़ में 500 साल बाद धर्म ध्वजा फहराई गई है. 7 दशकों के बाद हमने करतारपुर कॉरिडोर खोला। 7 दशकों के इंतजार के बाद देश को अनुच्छेद 370 से मुक्ति मिली। लगभग 6 दशक बाद, राजपथ का नया रूप, कर्तव्य पथ सामने आया। आखिरकार 4 दशक बाद वन रैंक वन पेंशन की मांग पूरी हुई. 3 दशक बाद देश को नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति मिली। दशकों से महसूस की जा रही एक नए संसद भवन की आवश्यकता आखिरकार हमने पूरी की।" उन्होंने कहा कि प्रत्येक भाजपा कार्यकर्ता ऐसी असंख्य उपलब्धियों का हिस्सा बनने के लिए भाग्यशाली है।

विपक्षी दलों पर तीखा प्रहार करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने भारत को विकसित बनाने में अपनी असमर्थता स्वीकार कर ली है। उन्होंने जोर देकर कहा, ''केवल भाजपा ही ऐसी पार्टी है जिसने इसका सपना देखने का साहस किया है। हम 2047 तक भारत को एक विकसित देश में बदलने के मिशन के साथ काम कर रहे हैं। अपने तीसरे कार्यकाल में, हम भारत को दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी आर्थिक शक्ति के रूप में स्थापित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। ये मोदी की गारंटी है. और भारत को तीसरी आर्थिक शक्ति बनाना...भारत की आर्थिक, सैन्य और सांस्कृतिक ताकत के तेजी से विस्तार का प्रतीक है।"

उन्होंने कहा कि भारत की शीर्ष तीन अर्थव्यवस्थाओं में आना मतलब है. भारत के हर परिवार का जीवन स्तर सुधरेगा। हर भारतीय परिवार की आय में उल्लेखनीय वृद्धि होगी। भारत का सार्वजनिक परिवहन और अधिक आधुनिक हो जाएगा। भारत में रोजगार के लिए नए क्षेत्र खुलेंगे, जिससे नौकरियों के और भी अधिक अवसर मिलेंगे। भारत में महिलाओं को हर मोर्चे पर नेतृत्व करने का मौका मिलेगा. हमारे किसान नवीनतम तकनीक के साथ काम करेंगे। लोगों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए देश में पर्याप्त संसाधन और बुनियादी ढांचा होगा।

उन्होंने कहा कि युवा प्रेरित भारत आज अपने लिए महत्वाकांक्षी लक्ष्य निर्धारित कर रहा है और उन्हें हासिल कर रहा है। उन्होंने कहा कि हम 2029 में भारत में युवा ओलंपिक और 2036 में ओलंपिक खेलों की मेजबानी करने के लिए काम कर रहे हैं। हम 2030 तक, हमारे रेलवे के लिए नेट जीरो का लक्ष्य हासिल करने की दिशा में काम कर रहे हैं। हम 2030 के बजाय अपनी लक्ष्य तिथि से पांच साल पहले ही पेट्रोल में 20 फीसदी इथेनॉल मिश्रण का लक्ष्य हासिल कर लेंगे। भारत 2070 तक नेट •ाीरो लक्ष्य हासिल करने के लिए नीतियां भी बना रहा है। इसका मतलब है कि आने वाले वर्षों में, हमारे देश में अनगिनत हरित रोजगार के अवसर दिखाई देंगे।

उन्होंने कहा, ''भाजपा आज एकमात्र ऐसी पार्टी है जो 'एक भारत, श्रेष्ठ भारत' के विचार के प्रति इतनी समर्पित है। मैं पिछले महीने के अपने अनुभवों को नहीं भूल सकता। इस दौरान मुझे भगवान राम से जुड़े कई स्थानों पर जाने का अवसर मिला। इस दौरान दक्षिण भारत के विभिन्न क्षेत्रों में लोगों से मुझे जो गर्मजोशी मिली, वह सचमुच अभिभूत करने वाली है। जैसे ही मैं सड़कों से गुजरा, लोगों ने मुझ पर अपना आशीर्वाद बरसाया।"

'एक भारत, श्रेष्ठ भारत' की भावना के बारे में बात करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारा पूरा ध्यान हर क्षेत्र के विकास पर है। पूर्वोत्तर का उदाहरण आपके सामने है। पिछली सरकारों में पूर्वोत्तर की पूरी तरह उपेक्षा की गई। आज चाहे सियाचिन हो या देश के महत्वाकांक्षी जिले, कोई भी हमसे दूर नहीं है। जिन गांवों को कभी आखिरी गांव कहा जाता था, वे अब हमारे देश के पहले गांव हैं। देश का हर हिस्सा हमारे लिए महत्वपूर्ण है और हमारा ध्यान हर क्षेत्र पर है।

मोदी ने इस बात पर प्रकाश डाला कि सरकार सबका साथ, सबका विकास के सार के साथ समावेशी है। उन्होंने आध्यात्मिक आकांक्षाओं को पूरा करने में करतारपुर साहिब कॉरिडोर की भूमिका पर गर्व व्यक्त किया। पहलों में लंगर वस्तुओं से जीएसटी हटाना, स्वर्ण मंदिर के लिए एफसीआरए पंजीकरण और बलिदानों के सम्मान में वीर बाल दिवस मनाना शामिल है। सरकार ने हज यात्रा प्रक्रिया में सुधार किया है, महिलाओं के लिए इसे सुविधाजनक और आसान बनाया है।

उन्होंने कहा कि 2014 में सत्ता संभालने पर आलोचकों ने हमारे अनुभव और सरकार के कामकाज पर सवाल उठाए थे। उन्होंने विदेश नीति पर हुई महत्वपूर्ण चर्चा पर प्रकाश डालते हुए कहा कि हाल ही में यूएई और कतर से लौटते हुए उन्होंने भारत के वैश्विक रिश्तों की मजबूती पर जोर दिया। पश्चिमी एशियाई देशों के साथ संबंध अब सबसे मजबूत हैं। उन्होंने 2015 में यूएई की अपनी यात्रा को भी याद किया, यह देखते हुए कि पिछले 34 वर्षों में किसी भी भारतीय प्रधानमंत्री ने वहां का दौरा नहीं किया था, जो इस क्षेत्र की पूर्व उपेक्षा को रेखांकित करता है।

उन्होंने कहा कि आज के परिदृश्य में, विभिन्न देशों के राजनीतिक दल खुले तौर पर स्वीकार करते हैं कि भारत की ताकत पूरी दुनिया के लिए फायदेमंद है। हर महाद्वीप में भारत और उसके प्रभाव के प्रति सम्मान बढ़ रहा है। दुनिया भर के देश भारत के साथ गहरे संबंध स्थापित करने पर जोर दे रहे हैं।

उन्होंने दोहराया, ''कई देश हमारी सरकार से चर्चा के लिए जुलाई, अगस्त और सितंबर की तारीखें मांग रहे हैं। इसका मतलब क्या है? इसका मतलब है कि दुनिया भर के विभिन्न देश भाजपा सरकार की वापसी को लेकर पूरी तरह आश्वस्त हैं. वे यह भी जानते हैं - आएगा तो मोदी ही।"

मोदी ने कहा कि देश को कांग्रेस से बचाना हर भाजपा कार्यकर्ता का कर्तव्य है। अस्थिरता, वंशवाद की राजनीति, भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण का स्रोत होने का कांग्रेस का पुराना ट्रैक रिकॉर्ड है। प्रधानमंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि कांग्रेस के पास विकास के एजेंडे और भविष्य के लिए रोडमैप का अभाव है, और इसके वर्तमान कार्य भाषा या क्षेत्र के आधार पर विभाजनकारी दृष्टिकोण दिखाते हैं। कांग्रेस पार्टी नेे हमारी सेना की उपलब्धियों पर लगातार सवाल और संदेह उठाये हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का सबसे बड़ा पाप यह है कि उसने देश की सशस्त्र सेनाओं का मनोबल तोड़ने में संकोच नहीं किया। कांग्रेस ने भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा और सैन्य ताकत को नुकसान पहुंचाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है।

उन्होंने कहा कि इन व्यक्तियों ने हमारी वायु सेना के लिए राफेल जैसे उन्नत विमानों के अधिग्रहण को रोकने की कोशिश की, हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) के खात्मे के बारे में झूठे दावे फैलाए। उनके प्रयासों के बावजूद, एचएएल फला-फूला है, जो इसकी ऑर्डर बुक और बाजार मूल्य से स्पष्ट है। ये वही लोग हैं जिन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान हमारे सशस्त्र बलों की वीरता पर संदेह किया था और हवाई हमले की सफलता का सबूत मांगा था। कांग्रेस लगातार भारतीय सेना को कमजोर करती है।

मोदी ने वैचारिक मुद्दों पर नहीं लड़ने के लिए कांग्रेस पर तीखा हमला बोला और कहा, ''कांग्रेस इतनी हतोत्साहित हो गई है कि वह वैचारिक और बौद्धिक विरोध का साहस खो चुकी है। इसलिए, मोदी के खिलाफ अपमान, झूठे आरोपों का सहारा लेना उनका एकमात्र एजेंडा बन गया है।"

प्रधानमंत्री ने कहा, ''लाल किले से मैंने कहा था-'यही समय है, सही समय है'. आज हमारे देश का भाग्य बदलने का समय आ गया है। आने वाले 100 दिनों में प्रत्येक भाजपा कार्यकर्ता को अपने लिए नए लक्ष्य निर्धारित करने होंगे और उन्हें हासिल करना होगा। पिछले वर्षों में भाजपा सरकार की योजनाओं का लाभ लाखों लाभार्थियों तक पहुंचा है। आपको प्रत्येक लाभार्थी तक पहुंचना होगा और बताना होगा कि प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें बधाई दी है। इसमें नमो ऐप भी मददगार होगा. नमो ऐप के माध्यम से उन लाभार्थियों तक मेरा अभिनंदन, मेरा पत्र पहुंचाएं। सुनिश्चित करें कि किसी भी बूथ पर पहली बार मतदान करने वाला एक भी मतदाता भाजपा कार्यकर्ताओं से अछूता न रहे।"

उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य सिर्फ सरकार बनाने के लिए लोगों को एकजुट करना नहीं है, बल्कि राष्ट्र बनाने के लिए लोगों को एकजुट करना है। हमें उन लोगों तक पहुंचने की जरूरत है जो वर्तमान में भाजपा के साथ नहीं हैं, और हमारा मंत्र है- सबका साथ, सबका विकास। हमारे स्वतंत्रता सेनानियों ने जो सपने देखे थे, उन्हें पूरा करने का समय आ गया है और उसके लिए भाजपा जरूरी है, भाजपा सरकार जरूरी है।

प्रधानमंत्री ने एक बार फिर बड़े भाजपा कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि नई प्रतिबद्धता के साथ क्षेत्र में अपने मिशन पर लग जाएं। इस बार, आइए 400 से आगे का लक्ष्य रखें। हमें इस प्रयास के लिए एक साथ आने की जरूरत है।

Post Comment

Comment List

Latest News

मणिपुर में 11 मतदान केंद्रों पर फिर होगा मतदान मणिपुर में 11 मतदान केंद्रों पर फिर होगा मतदान
कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि हथियारबंद लोगों ने चुनाव अधिकारियों पर हावी होकर एक खास उम्मीदवार के पक्ष में...
भाजपा के लिए एकतरफा जीत इस बार आसान लड्डू नहीं
दूसरे फेज की सीटों में कांग्रेस दलित-अल्पसंख्यकों तक पहुंचने में जुटी
अफगानिस्तान में एक चिपचिपी खदान में बम विस्फोट, एक व्यक्ति की मौत
महावीर जयंती पर निकाली शोभा यात्रा, घरों पर फहराया पचरंगा जैन ध्वज
मोदी को 20 करोड़ लोगों को देना था रोजगार, उल्टे छीन ली युवाओं की नौकरियां : खड़गे
लोकसभा चुनाव में शहर में मतदाताओं का रुझान कम