जोधपुर में राष्ट्रीय स्तर के कॉलेज में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स के लिए उड़ीसा, आंध्र प्रदेश से नशे की सप्लाई

ऑपरेशन शंकर के तहत सवा चार करोड़ कीमत के 850 किलो गांजे के साथ तस्कर गिरफ्तार

जोधपुर में राष्ट्रीय स्तर के कॉलेज में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स के लिए उड़ीसा, आंध्र प्रदेश से नशे की सप्लाई

तस्कर के साथ उसका रिश्तेदार भी शामिल था, उसके घर पर भी दबिश देकर नशा जब्त किया गया। गांजे की कीमत करीब 4 करोड़ 30 लाख है। 

जोधपुर। जोधपुर के स्टूडेंट्स के लिए उड़ीसा व आंध्र प्रदेश से नशा सप्लाई होने वाला था। उससे पहले ही एनसीबी टीम ने ऑपरेशन शंकर के तहत तस्कर को पकड़कर 850 किलो गांजा बरामद कर लिया। तस्कर के साथ उसका रिश्तेदार भी शामिल था, उसके घर पर भी दबिश देकर नशा जब्त किया गया। गांजे की कीमत करीब 4 करोड़ 30 लाख है। 
एनसीबी के ज्वॉइंट डायरेक्टर घनश्याम सोनी ने बताया, गांजे को उड़ीसा और आंध्र प्रदेश बॉर्डर के पास के एक गांव से लाया जा रहा था। ये जोधपुर नागौर रोड स्थित आईआईटी, आयुर्वेद कॉलेज, एनआईएफटी, एनएलयू व एफडीडीई जैसे राष्ट्रीय स्तर के कई संस्थानों में ड्रग पैडलर के जरिए सप्लाई होना था। मामले की जानकारी पर जोधपुर में कार्रवाई की गई। गांजे के कुल 170 पैकेट बरामद हुए। हर पैकेट का वजन करीब 5 किलो है। टीम ने करीब 22 दिन पहले कोटा से गांजा लेकर आ रहे एक युवक को जयपुर से पकड़ा था। उससे 35 किलो गांजा भी बरामद किया गया था। युवक ने गांजे की बड़ी खेप जोधपुर भी सप्लाई होना बताया था।

पिकअप में भरा था गांजा
मुखबीर की सूचना के बाद टीम ने सुबह सवा 8 बजे जोधपुर के कुड़ी क्षेत्र में गोरा होटल से आगे फिटकासनी के पास एक पिकअप को रोका। उसकी तलाशी में गांजे के 71 पैकेट मिले। हर पैकेट का वजन 5 किलो था। पिकअप ड्राइवर तस्कर अनिल कुमार पुत्र जालाराम निवासी बिश्नोईयों की ढाणी मोगड़ा कला जोधपुर को हिरासत में लिया गया।

रिश्तेदार के घर भी की सप्लाई
पूछताछ में बताया, कि गांजे की एक खेप रिश्तेदार भागीरथ  निवासी मंगल नगर गुडा विश्नोइयां के घर पर रखकर आया है। टीम ने उसके रिश्तेदार भागीरथ के घर दबिश दी और 99 पैकेट बरामद किए। टीम में मामले में शामिल अन्य आरोपियों की तलाश कर रही है।

इंस्टीट्यूट में करते थे सप्लाई 
सोनी ने बताया, तस्कर से पूछताछ में सामने आया, कि नशे की खेप उड़ीसा के पुरी नाशक से सड़क मार्ग से जोधपुर लाया जाता था। इसके बाद जोधपुर-नागौर रोड पर स्थित राष्ट्रीय स्तर के संस्थानों तक अलग-अलग ड्रग पैडलर के जरिए सप्लाई किया जाता था। इन संस्थानों में पढ़ने वाले कई छात्र नशे की चपेट में आ चुके हैं। 

Read More CM का बजट पूर्व संवाद,  सीएम बोले, हमारा लक्ष्य - समर्थ राजस्थान, विकसित राजस्थान

ढाबों-थड़ियों से भी नशा परोसते 
बता दें, कि जोधपुर-नागौर रोड पर आईआईटी, आयुर्वेद कॉलेज, एनआईएफटी, एनएलयू व एफडीडीई जैसे राष्ट्रीय स्तर के कई संस्थान है। इन संस्थान में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स को नशा माफिया दोस्ती के बहाने नशे का आदी बनाते हैं। एनसीबी टीम ने संस्थानों के आस.पास तहकीकात की तो कई ढाबों, थड़ियों और होटलों की गतिविधियां संदिग्ध नजर आई। इससे पुख्ता हो गया, कि यहां से भी स्टूडेंट्स को नशा परोसा जाता है। 

Read More 24000 खानों को ईसी मंजूरी का मामला : 21422 खानधारकों के दस्तावेज वेलिडेटेड, जल्द जारी होगी ईसी

Post Comment

Comment List

Latest News

UGC NET Exam : 18 जून को हुआ पेपर गड़बड़ी के चलते रद्द UGC NET Exam : 18 जून को हुआ पेपर गड़बड़ी के चलते रद्द
यूजीसी द्वारा 18 जून को करवाया गया नेट का एग्जाम परीक्षा में गड़बड़ी के चलते रद्द कर दिया गया है। ...
प्राइवेट अस्पतालों के डॉक्टर चिरंजीवी योजना को बदनाम करने से बचें: गहलोत
24000 खानों को ईसी मंजूरी का मामला : 21422 खानधारकों के दस्तावेज वेलिडेटेड, जल्द जारी होगी ईसी
Silver & Gold Price चांदी दो सौ रुपए सस्ती और सोना दो सौ रुपए महंगा
युवा विरोधी भजनलाल सरकार को सड़क से लेकर सदन में घेरेंगे: पूनिया
मोदी कैबिनेट में हुए 5 बड़े फैसले, 14 खरीफ की फसलों की एमएसपी बढ़ाई
नीट में धांधली के खिलाफ 24 जून को संसद घेराव करेगी NSUI