अंतरराष्ट्रीय योग दिवस विशेष - योग से लोगों के हुए असाध्य रोग भी ठीक

लोगों के थायरायड, बीपी, शुगर, सयटिका हुए ठीक

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस विशेष - योग से लोगों के हुए असाध्य रोग भी ठीक

ऐसे में अपने शरीर और मन दोनों को सेहतमंद बनाए रखने के योगा को अपने डेली रूटीन में शामिल करें। योग तनाव और चिंता का प्रबंधन करने में भी सहायक है।

कोटा। हर साल 21 जून को देश-दुनिया में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस  मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का मुख्य उद्देश्य सिर्फ योग के फायदों के बारे में लोगों को जागरूक और प्रेरित करना है। क्योंकि,जिंदगी की भागदौड़ में हम अपनी सेहत को नजरअंदाज कर देते है। जिसके चलते हमारा शरीर बीमारियों से घिर जाता है। ऐसे में अपने शरीर और मन दोनों को सेहतमंद बनाए रखने के योगा को अपने डेली रूटीन में शामिल करें। योग तनाव और चिंता का प्रबंधन करने में भी सहायक है। योग आसन शक्ति, शरीर में  लचीलेपन और आत्मविश्वास विकसित करने के लिए जाना जाता है। कोटा में कई लोगों ने योग से असाध्य रोगों से राहत पायी है। ऐसे कुछ लोगों की योग से ठीक होने की कहानी उन्हीं की जुबानी। कोटा में लोग अब अपनी जीवन शैली का हिस्सा बना रहे है और अपने तन मन को स्वस्थ्य रख रहे है। कोटावासी इस कविता को अपने जीवन में आत्मसात कर रहे है। 
सवेरे उठ, देख उगता सूरज,
ले योग का अनमोल सन्देश।
तन-मन को कर लो स्वस्थ,
हर दिन पाओ नया प्रकाश।
आसन से मिलती शक्ति निराली,
प्राणायाम से पाओ शांति की लहर।
ध्यान से भर जाती मन की गागर,
योग से संवरता जीवन का हर पल।

मधुमेह व थायरायड को किया कंट्रोल
पिछले 22 साल से अनवरत योग कर रही हूं। योग से मेरा थायरायड, शुगर कंट्रोल हो गया। सुबह 5 बजे से उठती हूं और योग करती हूं। शाम तक ऊर्जावान रहती हूं। 60 साल की उम्र में अब कोई शारीरिक परेशानी नहीं। योग से पहले कई शारीरिक व्याघियों से ग्रसित थी अब बिल्कुल फिट हूं। स्वयं योग कर रही और महिलाओं को भी सुबह योग का अभ्यास करा रही हूं। शरीर को ऊर्जावान रखने के लिए योग जरूरी है।
-उषा शर्मा, कोटा 

मानसिक और सामाजिक फायदा मिलता है योग से
योग से तो बचपन से जुड़ा हुआ हूं। बैक कार्य करने के दौरान लंबे समय तक बैठक होने पेट बढ़ गया। बैंक अधिकारी से सेवानिवृत होने के बाद से नियमित योग कर रहा हूं। अभी मेरी उम्र 72 साल है। योग से मेरा फेफड़ो का संक्रमण ठीक हो गया। मोटापा कम हो गया। बिना गोली दवा के बेहतर जीवन चल रहा हूं। योग से किसी भी समस्या से लड़ने की शक्ति मिलती है। योग से मानसिक, सामाजिक फायदा हो रहा है। 
-आरसी गोयल, सेवानिवृत बैंक अधिकारी कोटा

योग ने बदली जीवन की दिनचर्या
पिछले दस साल से योग कर रहा हूं। योग तन और मन को ठीक कर देता है। कोविड के दौरान अचानक लकवा हो गया। लगातर योग करने से तीन दिन में रिकवर हो गया। अभी गाडी चलाता हूं। सभी कार्य करता हूं। मानसिक थकान तनाव चिंता डिप्रेशन इन सभी रोगों में योग करने से आराम हुआ है। सरकार स्कूलों में नियमित योग शुरू करें जिससे बच्चे अवसाद मुक्त शिक्षा ग्रहण कर सकेंगे। योग से ऊर्जा मिलती है। जो दिन भर सकारात्मक रहने में मदद करती है। 
-देवेंद्र गुप्ता मोटर पार्ट्स विक्रेता

Read More प्रेम जाल में फंसाकर गैंग के साथियों के साथ करती थी नकबजनी, 1.35 लाख रुपए बरामद

चिंता और अवसाद से मिली मुक्ति
पहले मैं चिंता अवसाद और कई शारीरिक समस्याओं से परेशान थी। पिछले एक साल से धारा योग संस्थान से जुड़कर नियमित योग कर रही हूं। वसुदा राजावत के निर्देशन योग सिखा पहले में चिंता अवसाद में इतनी परेशान हो गई की पूरा घर अस्तव्यस्त हो गया था। एक बार गर्भपात का भी सामना करना पड़ा। अब सब नार्मल है। मेरा एक बेटा भी है। योग से मन शांत है। सारा काम अब ठीक से चल रहा है। किसी प्रकार कोई चिंता नहीं है। 
-शिप्रा खंडेलवाल, कोटा

Read More शातिर ई-रिक्शा चोर गिरफ्तार

सैकड़ों बच्चों को अवसाद से दिलाई मुक्ति 
अर्हं ध्यान योग बच्चों पढाई में एकाग्रता बढ़ती है। कोटा के कई स्कूलों में नि:शुल्क क्लॉस लगाकर बच्चों को ऊर्जावान बनाने का कार्य पिछले कई सालों से कर रही हूं। बच्चों के साथ बडो को नियमित अर्हं ध्यान से जोड रहा है। जैन समाज के सभी कार्यक्रमों योग की अलग अभ्यास अनवरत करा रही हूं। लोगों को योग की तरफ प्रेरित कर रही है। 
-मेघना शर्मा, योग शिक्षक

Read More राजस्थान इंवेस्टमेंट समिट दिसंबर में, तैयारियां शुरू

हार्ट की परेशानी में मिली राहत
पिछले एक साल से  रेगुलर योगा प्राणायाम करती हूं। 67 साल की उम्र है। मैं हर्ट पेशेन्ट हूं।मेरा एक हार्ट का वाल्व लीक करता है। वर्ष भर से मैं पति के साथ योगा प्राणायाम कर रही हूं। सबसे बड़ा फायदा तो मुझे यह हुआ है कि मुझे पहले हर तीन महीने में चैकअप करवाना पड़ता था,लेकिन साल भर से डाक्टर से चैकअप भी करवाना नहीं पड़ा है। मैं काफी खुश हूं और इस अभ्यास को नमन करती हूं।
-मंजु जैन, आरकेपुरम,
 
योग करने से कमर दर्द में मिली राहत
 पिछले 30 साल  सुबह मॉर्निंग वॉक करता हूं। नियमित, जिम, स्विमिंग करता रहा हूं पर फिर भी शरीर में बहुत थकावट, अकड़न, कमरदर्द रहता था । पिछले 6 महीने से योग से जुड़ा हुआ हूं। निरंतर योग अभ्यास कर रहा हूं । पहले से ज्यादा ऊर्जा रहती है, शरीर पहले ज्यादा लचीला व कमर दर्द भी ठीक हुआ है। मन भी शांत रहता है ।  
-विजय दासवानी, मैनेजिंग डायरेक्टर रानपुर 

मन प्रसन्न रहता है
पिछले एक साल से नियमित योग कर रहा हूं। 74 साल की उम्र में पूरी तरह स्वस्थ्य हूं। प्राणायम और ध्यान योग से मन प्रसन्न रहता है नकारात्मक ऊर्जा खत्म हो गई है। शरीर के दर्द से राहत मिली है। मन की स्थिति अब अनुकूल हुई है। प्रतिदिन सुबह आधा घंटा योग व ध्यान का अभ्यास कर रहा हूं। जिससे शरीर में अब कोई व्याधि नहीं है।
-पीसी जैन, आरकेपुरम

जीवन शैली का हिस्सा योग
पिछले दस साल से योग का अभ्यास कर रही हूं। कोराना काल के दौरान अचानक वजटन बढ़ने लगा और घुटने जवाब देने लगे तो आॅनलाइन योग क्लास से जुडी उसके बाद नियमित अभ्यास किया।  बढ़ते वजन और घुटनों के दर्द अब पूरी तरह निजात पा चुकी हूं। दस किलो वजन कम किया। योग जीवन शैली का हिस्सा है। इससे भोजन पर नियंत्रण किया जा सकता है। इसके अभ्यास ये यूरिक एसिड, यूरिया कंट्रोल हुआ। मानसिक व शरीर शिथिल अब शत प्रतिशत राहत है।
-राजरानी जैन, कोटा

योग करने से शरीर हुआ निरोगी
पिछले बीस साल से योग कर रही हूं। अभी 72 साल की उम्र है लेकिन किसी प्रकार कोई बीमारी नहीं है। पहले में सीवर अस्थमा की समस्या से परेशान थी । अब बिल्कुल ठीक है। योग जीवन में बहुत जरूरी है। यह इंसान को आत्मबल देता है। बीमारियों से लड़ने की शक्ति देता है। योग करने से मेरा लो बीपी ठीक हो गया है। इस उम्र में भी दिनभर ऊर्जावान रहती हूं सारा काम करती हूं। योग से आहार विहार सभी में परिवर्तन आ गया है।
-छाया गोयल, कोटा 

पैर का दर्द हुआ ठीक
पिछले एक साल से नियमित योग का अभ्यास कर रही हूं। पहले मुझे मोटापे के कारण चलने फिरने में परेशानी होती थी। पैरो में काफी दर्द रहता था।  मेघना शर्मा के सानिध्य में अर्ह ध्यान का अभ्यास किया अब वजन कम हुआ पैरों का दर्द बिल्कुल ठीक है। 
-रोमा गुप्ता, कोटा

एक साल से थाइयराइड दवा बंद हो गई
पिछले एक साल नियमित अर्हं ध्यान योग का अभ्यास कर रही हूं। थायरायड से लगातर शरीर में सुस्ती रहती थी हर समय थकान और शरीर में आलस रहता था। दवा चल रही थी। एक साल लगातार योग का अभ्यास करने से वचन नियंत्रण हुआ थायरायड की दवा बंद हो गई। 
- मंजु जैन, महावीर नगर कोटा

Post Comment

Comment List

Latest News

शातिर ई-रिक्शा चोर गिरफ्तार शातिर ई-रिक्शा चोर गिरफ्तार
ई-रिक्शा चोरी की वारदातों के बाद टीम ने सीसीटीवी फुटेज खंगाले और सूचना इकट्ठी कर ई-रिक्शा और बैट्री चोरी करने...
BJP विधायक का सरकार के खिलाफ संदेश, यूपी में हलचल
जमीनी विवाद में रिश्तेदार की हत्या करने वाले बुजुर्ग को आजीवन कारावास
चुनावी रैली के दौरान फायरिंग में डोनाल्ड ट्रंप घायल, शूटर सहित एक दर्शक की मौत 
विकास में नहीं छोड़ेंगे कोई कसर, प्राथमिकता से कराएं जाएंगे कार्य- रामबिलास मीना
शिक्षा में नवाचार : यूजी की पढ़ाई के साथ मिलेगी स्किल शिक्षा की ट्रेनिंग
रोमाचंक मुकाबले में अग्रवाल अकादमी ने कोडाई को बुरी तरह रौंदा