छात्रों और युवाओं के लिए अलग से पेश किया जाएगा बजट : गहलोत

गंगासिंह यूनिवर्सिटी में महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण

छात्रों और युवाओं के लिए अलग से पेश किया जाएगा बजट : गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कृषि के लिए अलग से बजट पेश किए जाने के बाद अब की बार छात्रों और युवाओं के लिए भी अलग से बजट पेश किया जाएगा।

बीकानेर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कृषि के लिए अलग से बजट पेश किए जाने के बाद अब की बार छात्रों और युवाओं के लिए भी अलग से बजट पेश किया जाएगा। मुख्यमंत्री बीकानेर में गंगासिंह यूनिवर्सिटी में महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण, इंडोर स्टेडियम व ऑडिटोरियम के लोकार्पण समारोह को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार छात्रों और युवाओं के विकास को लेकर प्रतिबद्ध है। इसे देखते हुए ही प्रदेश का अगला बजट भी इन्हीं को केन्द्र में रखते हुए पेश किया जाएगा। इसमें सुझाव दे सकते हैं। बजट में क्या-क्या नवाचार हों, स्कीम हो बता सकते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में शिक्षा को लेकर सरकार संवेदनशील है। खासतौर से अंग्रेजी शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए कई प्रयास किए जा रहे हैं। अंग्रेजी माध्यम स्कूलों की संख्या बढ़ा दी गई है। इनमें एडमिशन भी लॉटरी से हो रहा है। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि अभिभावक इन्हें लेकर कितने गंभीर है। इसे देखते हुए ही दस हजार शिक्षकों की भर्ती चल रही है। स्टूडेंटस को प्रोत्साहन देने के लिए फ्री कोचिंग दी जा रही है। प्रदेश के करीब दो सौ छात्रों को राजीव गांधी एक्सीलेंस एकेडमिक स्कीम के तहत शिक्षा के लिए विदेश भेज रहे हैं। गहलोत ने खेल, किसान, स्टूडेंट, बजट, अंग्रेजी शिक्षा, पेपरलीक आदि पर खुलकर अपनी बात रखी। गहलोत ने प्रदेश में खेलों को बढावा देने को लेकर विधायक कृष्णा पूनिया की खूब तारीफ की। उन्होंने कहा कि पहला अवसर है, जब पद्श्री व अर्जुन अवार्डी पूनिया के अनुभव का लाभ स्पोर्ट्स कौंसिल को मिल रहा है। ग्रामीण ओलंपिक का जिक्र करते हुए गहलोत ने कहा कि इसके माध्यम से भी प्रदेश में खेलों को लेकर माहौल बन गया है। समारोह में शिक्षा मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला, राज्य क्रीड़ा परिषद की अध्यक्ष कृष्णा पूनिया, एमजीएसयू विवि के कुलपति विनोद कुमार सिंह ने भी विचार रखे।

देश में हर व्यक्ति डरा हुआ : गहलोत
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि देश में हर व्यक्ति डरा हुआ है। गहलोत ने कहा कि देश में एक ही पार्टी का शासन हो, यह खतरनाक षड्यंत्र पीएम मोदी या भाजपा और आरएसएस की तरफ से हो रहा है। प्रधानमंत्री मोदी की अग्निपथ, किसान आंदोलन, जीएसटी योजनाओं पर संसद में बहस होनी चाहिए थी, जिसके बाद इन योजनाओं को लागू किया जाता तो इसके परिणाम अच्छे आते। अग्निपथ योजना पर डिफेंस कमेटी व संसद में बहस करके अच्छे ढंग से पेश किया जा सकता था। उन्होंने कहा कि आज देश की 16 महत्वपूर्ण योजनाओं में राजस्थान की कोई भी योजना शामिल नहीं है। इसलिए राजस्थान नहर परियोजना ईआरसीपी को राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा मिले, तो कि प्रदेश के दूरदराज इलाकों में बैठे लोगों को पानी मिल सके। जीएसटी पर एक सवाल के जवाब में कहा कि इसके बढ़ने से महंगाई बढ़ेगी। पहले ही मंहगाई बढ़ी हुई है अब जीएसटी बढ़ाने से महंगाई और बढ़ेगी। इससे आर्थिक व्यवस्था भी चरमरा गई है। रेल फाटकों की समस्या पर गहलोत ने कहा कि यह समस्या 40 साल पुरानी है।  इस पर लगातार काम हो रहा है। इसके लिए पूर्व में 60 करोड़ रुपये भी स्वीकृत किए गए लेकिन बाद में भाजपा सरकार ने इस काम को बंद कर दिया गया।  
पेपर लीक में सरकार ने दिखाई सख्ती
मुख्यमंत्री ने कहा कि देश में पेपर लीक करने वाले कई गैंग बन गए हैं। 9 राज्यों में पेपर लीक हुए। हमारे यहां एसओजी ने अच्च्छा काम किया। पेपर लीक में सरकार ने सख्ती दिखाई। वह लोग जेलों में हैं। गहलोत ने कहा कि अब हम उम्मीद कर सकते हैं कि भविष्य में पेपर लीक नहीं होंगे।

बीकानेर साइक्लिंग में राजस्थान का सिरमौर
सीएम गहलोत ने कहा कि बीकानेर साइक्लिंग में राजस्थान का सिरमौर है। यहां करणी सिंह स्टेडियम में एक और इंडोर स्टेडियम बनाने जा रहे हैं। खेलों को पूरा प्रोत्साहन दिया जाएगा।

Read More रामगंज मंडी नाबालिक बालिका का अपरहण

Post Comment

Comment List

Latest News