शैलेष झंवर के इनोवेशन की हार्वर्ड में होगी स्टडी

स्टूडेंट्स केस स्टडी के रूप में पढेंगे

शैलेष झंवर के इनोवेशन की हार्वर्ड में होगी स्टडी

हैदराबाद के इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस की ओर से इस केस स्टडी को लिखा गया था।

जयपुर।  क्रिटिकल केयर स्पेशलिस्ट डॉ. शैलेष झंवर के इनोवेशन क्रिटिकल केयर होपको हार्वर्ड बिजनेस पब्लिकेशन में 14 पन्नो की केस स्टडी के रूप में प्रकाशित किया गया है। ऐसा पहली बार हुआ है, जब प्रदेश के किसी हेल्थ इनोवेशन को दुनिया की 100 साल पुरानी सबसे विश्वसनीय मैगजीन्स में से एक हार्वर्ड बिजनेस पब्लिकेशन में केस स्टडी के रूप में प्रकाशित किया गया हो। हैदराबाद के इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस की ओर से इस केस स्टडी को लिखा गया था। अब तक इस पब्लिकेशन मे चुनिंदा भारतीय शख्सियतों को ही स्थान मिल सका है। इस स्टडी को अब पूरी दुनिया के मेडिकल मैनेजमेंट एक्सपर्ट और स्टूडेंट्स केस स्टडी के रूप में पढेंगे।

डॉ. शैलेष ने क्रिटिकल केयर होप की थ्योरी के जरिये अब तक प्रदेश के 30 से अधिक दूरस्थ स्थित अस्पतालों को जोड़कर सैकडो की संख्या में लोगो को अचाने में सफलता प्राप्त कर चुके हैं एवं आगे भी काम जारी है। इस थ्योरी में आईसीयू और क्रिटिकल केयर की सुविधा ग्रामीण क्षेत्रो तक ऑनलाईन पहुंचाने का इनोवेशन किया गया, जिसे अब वैश्विक स्तर पर सराहा जा रहा है। शैलेष ने पूणे से एमबीबीएस करने के बाद यूके से नौ वर्षो तक क्रिटिकल केयर के क्षेत्र में मास्टरी हासिल की।

Post Comment

Comment List

Latest News