रावण के पुतले को कंकड़ मारने पहुंचे लोग, पुलिस ने की समझाइश

आज शाम होगा रावण दहन

रावण के पुतले को कंकड़ मारने पहुंचे लोग, पुलिस ने की समझाइश

परंपरा की आड़ में कुछ लोगों ने कंकर की जगह पत्थर मारना शुरू कर दिया। जिससे मौके पर काम कर रहे कर्मचारियों और अधिकारियों को पत्थर लगने का खतरा हो गया। ऐसे में पुलिस प्रशासन और निगम अधिकारियों ने लोगों से समझाइश की।

कोटा । राष्ट्रीय मेला दशहरा 2022 के तहत अहंकार का प्रतीक रावण कुटुंब सहित दहन स्थल पर खड़ा हुआ। ऐसे में पुतले को कंकर मारने की परंपरा का निर्वहन करने बुधवार सुबह लोग भी भारी संख्या में पहुँच गए। मान्यता है कि रावण के पुतले को कंकड़ मारने से बीमारियां नहीं होती हैं। ऐसे में मान्यता अनुसार लोग देर रात से ही कंकर मारने पहुंचना शुरू हो गए। जो बुधवार को भी दिनभर पहुँचते रहे।  भारी भीड़ और कुछ असामाजिक तत्वों के कारण मौके पर पुलिस बल भी तैनात करना पड़ा। 

परंपरा की आड़ में कुछ लोगों ने कंकर की जगह पत्थर मारना शुरू कर दिया। जिससे मौके पर काम कर रहे कर्मचारियों और अधिकारियों को पत्थर लगने का खतरा हो गया। दूसरी ओर, पुतले को भी इन पत्थरों से क्षति होने लगी। यहाँ बच्चों के साथ पुतले की एक झलक पाने पहुंचे लोगों को भी पत्थर लगने की आशंका हो गई। ऐसे में पुलिस प्रशासन और निगम अधिकारियों ने लोगों से समझाइश की। मुख्य अभियंता प्रेमशंकर शर्मा, अतिरिक्त आयुक्त अंबालाल मीणा, अधिशासी अभियंता एक्यू कुरेशी, कनिष्ठ अभियंता भुवनेश नावरिया, सहायक अभियंता संजय विजय, तौसीफ खान ने लोगों से पत्थर न फैंकने की अपील की। उल्लेखनीय है कि सिंधी समाज में भी पुतले के पीछे बच्चों का मुंडन कराने की परंपरा है। इससे पहले मंगलवार देर रात को रावण , कुंभकरण और मेघनाथ के पुतलों को दशहरा मैदान स्थित विजयश्री रंगमंच पर खड़ा किया गया। बुधवार शाम को दशहरे पर मुहूर्त के अनुसार रावण दहन किया जाएगा इससे पहले गढ़ पैलेस में दरीखाने की रस्म होगी और शाम 6:30 बजे भगवान लक्ष्मी नारायण की सवारी निकाली जाएगी जो दशहरे मैदान पहुंचने के बाद पूजा अर्चना कर रावण दहन की परंपरा का निर्वहन किया जाएगा। इस बार पहली बार रिमोट से स्टेप बाय स्टेप रावण का दहन किया जाएगा साथ ही ग्रीन आतिशबाजी होगी । रावण को अधिक समय तक जलाने के लिए अतिरिक्त आतिशबाजी का प्रयोग किया गया है । इधर मेले में दो साल बाद बारिश आने की संभावना को देखते हुए सुरक्षा के भी पुख्ता इंतजाम किए गए हैं । सीसीटीवी कैमरों के अलावा बड़ी संख्या में पुलिस जाप्ता तैनात किया गया है । एक पुलिस थाना और 6 चौकियां विभिन्न बाजारों में बनाई गई है जिससे किसी भी तरह की आपराधिक घटनाओं को रोका जा सके।

Post Comment

Comment List

Latest News