पूर्व जिला प्रमुख से बदसलूकी, सीओ-एसएचओ निलम्बित

रायल्टी कर्मचारियों की गुंडई का विरोध करने पहुंचे थे चौधरी 

पूर्व जिला प्रमुख से बदसलूकी, सीओ-एसएचओ निलम्बित

पूर्व जिला प्रमुख रामबिलास चौधरी और एक सरपंच प्रतिनिधि को पुलिस ने गर्दन पकड़कर गाड़ी में डाल दिया। मामले ने तूल पकड़ा तो उनको थोड़ी देर बाद छोड़ दिया गया। इससे पहले सुबह ग्रामीणों ने सोहेला डिग्गी स्टेट हाइवे पर हाडीखुर्द के यहां मुख्य सड़क पर जाम लगा दिया।

पीपलू/निवाई। उपखंड क्षेत्र के हाडीखुर्द में बुधवार रॉयल्टी कर्मचारियों की गुंडागर्दी का विरोध कर रहे ग्रामीणों के पक्ष में बोलने पर पूर्व जिला प्रमुख रामबिलास चौधरी और एक सरपंच प्रतिनिधि को पुलिस ने गर्दन पकड़कर गाड़ी में डाल दिया। मामले ने तूल पकड़ा तो उनको थोड़ी देर बाद छोड़ दिया गया। इससे पहले सुबह ग्रामीणों ने सोहेला डिग्गी स्टेट हाइवे पर हाडीखुर्द के यहां मुख्य सड़क पर जाम लगा दिया। जाम की सूचना पर बरौनी, पीपलू डिप्टी एवं पुलिस भी मौके पर पहुंची थी। ग्रामीण नहीं माने तो डिप्टी रूद्रप्रकाश शर्मा ने लाठियां भांजना शुरू कर दिया। 

इधर मामले में मुख्यमंत्री कार्यालय के निर्देश पर पुलिस मुख्यालय ने वृत्ताधिकारी बरौनी रूद्रप्रकाश शर्मा और थानाधिकारी सदर निवाई आशु सिंह गुर्जर को निलंबित कर दिया है। महानिदेशक पुलिस इंटेलिजेंस उमेश मिश्रा ने बताया कि मामले की जांच अजमेर रेंज महानिरीक्षक रूपिंदर सिंह को सौंपी गई है। पीसीसी चीफ गोविन्दसिंह डोटासरा ने भी घटनाक्रम पर आक्रोश जताते हुए कार्रवाई की मांग की थी। 

रॉयल्टी कर्मचारियों ने दुकान में पत्थरबाजी करते हुए एक व्यक्ति से मारपीट कर दी। मौके पर पहुंचा तो वहां मौजूद निवाई डिप्टी और थानाधिकारियों ने मुझे बात करने की तमीज नहीं होने की बात कहकर गिरफ्तार कर लिया। एसपी को जब गिरफ्तार किए जाने की जानकारी मिली तो मुझे सोहेला बरौनी के बीच छोड़ दिया। 
-रामबिलास चौधरी, पूर्व जिला प्रमुख टोंक

Read More द्रव्यवती नदी: कमेटी के निर्णय के बाद जेडीए करेगा भुगतान

मौके पर पहुंचे पूर्व जिला प्रमुख फिर से भीड़ को उकसाने का कार्य करने लगे जिसके चलते उन्हें गाड़ी में बैठाकर दूर ले जाकर छोड़ दिया था। इसके बाद मौके पर शांति हैं। 
-रूद्रप्रकाश शर्मा, डिप्टी निवाई

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News