ऑस्ट्रेलिया को 4-1 से हराया, ओलिवर गिरौड ने दागे दो गोल

मौजूदा चैंपियन फ्रांस का विजयी आगाज

ऑस्ट्रेलिया को 4-1 से हराया, ओलिवर गिरौड ने दागे दो गोल

दूसरे हाफ में किलियन एमबाप्पे ने 68वें मिनट में डेम्बेले के क्रास पर शानदार हैडर के जरिए गोल किया, वहीं 71वें मिनट में गिरौड ने एम्बाप्पे के क्रास पर कमाल का गोल दाग फ्रांस को 4-1 से मजबूत बढ़त दिला दी, जो आखिर में विजयी स्कोर रहा। 

दोहा। अपने खिताब का बचाव करने उतरे मौजूदा चैंपियन फ्रांस ने फीफा विश्व कप के ग्रुप डी मुकाबले में आस्ट्रेलिया को 4-1 से पराजित कर दिया। कतर के अल जानौब स्टेडियम में हुए इस मुकाबले में फ्रांस की जीत के हीरो अनुभवी स्ट्राइकर ओलिवर गिरोड रहे, जिन्होंने टीम की ओर से दो गोल दागे।  स्टार फारवर्ड करीम बेंजेमा के बिना उतरी फ्रांस ने चार गोल दागे, जबकि कंगारु एक गोल ही कर सके। हालांकि मैच में बढ़त आस्ट्रेलिया ने बनाई, जब नौवें मिनट में ही क्रेग गुडविन ने मैथ्यू लेकी के क्रास पर शानदार गोल बना आस्ट्रेलिया को 1-0 से आगे कर दिया।  इसके बाद फ्रांस की टीम हावी रही। एड्रियन रेबियोट ने 27वें मिनट में स्थानापन्न खिलाड़ी थियो हर्नांडेज के शानदार क्रास पर हैडर से फ्रांस के लिए बराबरी का गोल किया।  वहीं सेंटर फारवर्ड ओलिवर गिरौड ने 32वें मिनट में फ्रांस को 2-1 से बढ़त दिला दी।

हॉफ टाइम तक फ्रांस ने अपनी इस बढ़त को बनाए रखा।  दूसरे हाफ में किलियन एमबाप्पे ने 68वें मिनट में डेम्बेले के क्रास पर शानदार हैडर के जरिए गोल किया, वहीं 71वें मिनट में गिरौड ने एम्बाप्पे के क्रास पर कमाल का गोल दाग फ्रांस को 4-1 से मजबूत बढ़त दिला दी, जो आखिर में विजयी स्कोर रहा। 

Post Comment

Comment List

Latest News

प्रदेशभर में मनाया लैब टेक्नीशियन दिवस प्रदेशभर में मनाया लैब टेक्नीशियन दिवस
प्रदेश भर के सभी चिकित्सा संस्थानों में 15 अप्रैल को लैब टेक्नीशियन दिवस बड़े जोश उल्लास के साथ मनाया गया।...
5.25 लाख की आबादी भुगत रही जेडीए की हठधर्मिता का खामियाजा
भाजपा के संकल्प पत्र पर गहलोत का निशाना- मंहगाई, बेरोजगारी जैसे मुद्दों पर बात नहीं करती भाजपा
आरपीआई पार्टी के अध्यक्ष और केन्द्रीय मंत्री रामदास अठावले बोले- पार्टी भाजपा के साथ
निर्वाचन आयोग ने की रिकार्ड 4650 करोड़ की जब्ती, 75 साल के इतिहास की सबसे बड़ी जब्ती
ट्यूबवेल सात माह से खराब, पेयजल का संकट
टोल बचाने की जुगत: सुकेत में भारी वाहनों का दबाव बढ़ा