500 से ज्यादा ब्रेन ट्यूमर सर्जरी, आज खुशहाल जीवन जी रहे मरीज 

उपचार के लिए आजकल आर्टिफिशियल इन्टेलिजेंसी का भी प्रयोग किया जाने लगा है

500 से ज्यादा ब्रेन ट्यूमर सर्जरी, आज खुशहाल जीवन जी रहे मरीज 

500 से अधिक सफल ब्रेन ट्यूमर सर्जरी पूर्ण करने पर मणिपाल हॉस्पिटल जयपुर के डायरेक्टर रंजन ठाकुर ने बताया कि राजस्थान ही नहीं बल्कि पड़ोसी राज्यों के मरीजों की भी सर्जरी हमने की है।

जयपुर। ब्रेन ट्यूमर वर्तमान समय में तेजी से बढ़ रहा है। यह एक ऐसी बीमारी है जिसका नाम सुनते ही आमजन के मन में डर बैठ जाता है। पूर्व में ब्रेन ट्यूमर का नाम बहुत कम सुनाई पड़ता था लेकिन वर्तमान समय में ब्रेन ट्यूमर बहुत ज्यादा हो रहा है। 500 से अधिक सफल ब्रेन ट्यूमर सर्जरी पूर्ण करने पर मणिपाल हॉस्पिटल जयपुर के डायरेक्टर रंजन ठाकुर ने बताया कि राजस्थान ही नहीं बल्कि पड़ोसी राज्यों के मरीजों की भी सर्जरी हमने की है। डॉ. शंकर बसंदानी न्यूरोसर्जन ने बताया की ब्रेन ट्यूमर का समय रहते पता लगने पर पूर्णरुप से उपचार संभव है। इसमें लापरवाही नहीं बरते।

आजकल ब्रेन ट्यूमर के उपचार के लिए कई विकल्प मौजूद है जिसमे आर्टिफिशियल इन्टेलिजेंसी का भी प्रयोग किया जाने लगा है। जो की ब्रेन ट्यूमर व उससे संबंधित डेटा को एकत्रित करके उपचार के बारे में बताती है। साथ ही फरशनल एमआरआई करके भी पता लगाया जा सकता है कि किस प्रकार से उपचार करना है।

अवेक सर्जरी भी एक नई प्रणाली है जिसमे मरीज से बात करते हुये सर्जरी की जाती है। ट्यूमर के बार बार होने वाले रिक्स को रोकने के लिए ऑपरेशन के बाद बोन मेरो ट्रांसप्लांट करते है व हाई रेडियेशन देकर ट्यूमर का दुबारा होना रोक देते है।

इस अवसर पर सर्जरी करवाये हुये मरीजों ने अपने अनुभव साझा किये व बताया कि किस तरह सर्जरी पूर्व उनको डर लगता था व जीवन में ट्यूमर के आने पर अंधकार छा गया था जो सर्जरी के बाद दूर हो गया है।

Read More जयपुर योग महोत्सव-2024 : तीसरे दिन 500 योग साधकों ने किया योग

Post Comment

Comment List

Latest News

जन भागीदारी विकास योजना में फंड आवंटित, परिसम्पत्ति सृजन के अटके काम शुरू होंगे जन भागीदारी विकास योजना में फंड आवंटित, परिसम्पत्ति सृजन के अटके काम शुरू होंगे
ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग ने महात्मा गांधी जन भागीदारी विकास योजना में 33 जिलों को 20 करोड़ रुपए का...
संग्रहाध्यक्ष, खोज व उत्खनन अधिकारी प्रतियोगी परीक्षा-2023 होगी 19 जून को
NDA Government राजस्थान पर मेहरबान, केंद्र ने राज्य को जारी किए 8421.38 करोड़
बाड़मेर-ऋषिकेश एक्सप्रेस रेलसेवा एलएचबी रैक से संचालित होगी
राज्यवर्धन ने सूचना सहायक पदों की संख्या बढ़ाई
कांग्रेस ने आंध्रप्रदेश के विशेष दर्जे पर मोदी से मांगा स्पष्टीकरण
सीएम को लिखा पत्र : निकायों का पुनः परिसीमांकन एवं वार्डों की संख्या के निर्धारण का कार्य पारदर्शी तरीके से हो: राजेंद्र राठौड़