रोहन बोपन्ना का आखिरी डेविस कप, मुकाबले के लिए तैयार है बोपन्ना

भारत अब तक तीन मौकों (1966 ,1974 और 1987) पर डेविस कप का उपविजेता रहा

रोहन बोपन्ना का आखिरी डेविस कप, मुकाबले के लिए तैयार है बोपन्ना

रविवार को रोहन बोपन्ना और युकी भांबरी की भारतीय जोड़ी मोरक्को के इलियट बेनचेट्रिट और यूनुस लालामी लारौसी से मुकाबला करेगी।

लखनऊ। करीब 23 साल के लंबे अंतराल पर डेविस कप की मेजबानी कर रही नवाब नगरी लखनऊ रविवार को भारत के स्टार टेनिस खिलाड़ी रोहन बोपन्ना के आखिरी डेविस कप मुकाबले की गवाह बनेगी। टेनिस के विश्व कप के रूप में माने जाने वाले डेविस कप में विश्व ग्रुप-2 के मुकाबले शनिवार को गोमती नगर के विजयंत खंड मिनी स्टेडियम में भारत के शशिकुमार मुकुंद और मोरक्को के यासिन डिलीमी के बीच एकल मैच से शुरू हो गये। दूसरा एकल सुमित नागल और एडम माउंडिर के बीच खेल जायेगा। रविवार को रोहन बोपन्ना और युकी भांबरी की भारतीय जोड़ी मोरक्को के इलियट बेनचेट्रिट और यूनुस लालामी लारौसी से मुकाबला करेगी।

बोपन्ना ने हाल ही में अमेरिकी ओपन के युगल फाइनल में प्रतिस्पर्धा करने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बनकर इतिहास रचा था। अनुभवी खिलाड़ी वर्तमान में युगल में विश्व नंबर सात हैं और 2002 से भारत की डेविस कप टीम का हिस्सा हैं। वह दो बार 2010 और 2023 में यूएस ओपन फाइनल में रहे हैं जबकि 2017 फ्रेंच ओपन मिश्रित युगल खिताब जीतकर ग्रैंड स्लैम खिताब जीतने वाले चौथे भारतीय खिलाड़ी बने। 

भारत अब तक तीन मौकों (1966 ,1974 और 1987) पर डेविस कप का उपविजेता रहा है। भारत आंकड़ों में कमजोर दिख रही मोरक्को को हराने में सफल होता है तो वह 2024 डेविस कप विश्व ग्रुप-1 प्लेऑफ़ में प्रतिस्पर्धा करेगा।

Post Comment

Comment List

Latest News

जन भागीदारी विकास योजना में फंड आवंटित, परिसम्पत्ति सृजन के अटके काम शुरू होंगे जन भागीदारी विकास योजना में फंड आवंटित, परिसम्पत्ति सृजन के अटके काम शुरू होंगे
ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग ने महात्मा गांधी जन भागीदारी विकास योजना में 33 जिलों को 20 करोड़ रुपए का...
संग्रहाध्यक्ष, खोज व उत्खनन अधिकारी प्रतियोगी परीक्षा-2023 होगी 19 जून को
NDA Government राजस्थान पर मेहरबान, केंद्र ने राज्य को जारी किए 8421.38 करोड़
बाड़मेर-ऋषिकेश एक्सप्रेस रेलसेवा एलएचबी रैक से संचालित होगी
राज्यवर्धन ने सूचना सहायक पदों की संख्या बढ़ाई
कांग्रेस ने आंध्रप्रदेश के विशेष दर्जे पर मोदी से मांगा स्पष्टीकरण
सीएम को लिखा पत्र : निकायों का पुनः परिसीमांकन एवं वार्डों की संख्या के निर्धारण का कार्य पारदर्शी तरीके से हो: राजेंद्र राठौड़