स्मार्ट सिटी की खुबसूरती बिगाड़ रहे कचरा ट्रैक्टर

ट्रैक्टर ट्रॉलियों बिना कवर कचरा ले जाने दुर्गंध से परेशान हो रहे राहगीर

स्मार्ट सिटी की खुबसूरती बिगाड़ रहे कचरा ट्रैक्टर

दिनभर कचरे पर वाहन गुजरते है जिससे रोड पर दुर्गंध फैली रहती है।

कोटा। कोटा को पर्यटन और स्मार्ट सिटी तो बना दिया लेकिन इसके सौद्धर्य को बिगाड़ने का काम स्वयं नगर निगम के कचरा वाहन कर रहे है। स्मार्ट सिटी के तहत शहर का सौद्धर्यकरण किया गया। सुबह शाम सड़को पर सफाई अभियान भी चलाया जा रहा है। घर घर कचरा संग्रहण भी किया जा रहा है। लेकिन शहर के डंपिग यार्ड से उठने वाले कचरे का परिवहन ठीक से नहीं होने से स्मार्ट शहर पर्यटकों की नजर में बदनाम हो रहा है। जहां एक ओर शहर के चौराहे और रिवर फ्रंट और आॅक्सीजन पार्क की लोग तारीफ कर रहे वहीं निगम की ओर संचालित कचारा उठाने वाले वाहन रोड को गंदा कर स्मार्ट सिटी को गंदा कर रहे है। शहर में वाहन चलाने वालों के लिए तमाम नियम कानून बने हुए हैं। इन नियमों का उल्लंघन करने पर जहां ई-चालान की व्यवस्था शुरू हो गई है वहीं पुलिस भी चाहे जहां रोककर चालान बना देती है लेकिन ऐसा लगता है कि सरकारी वाहनों पर ये नियम लागू नहीं होते हैं, तभी तो नगर निगम के कई वाहन नियमों का खुले आम उल्लंघन करते घूमते रहते हैं। शहर में प्रतिदिन नगर निगम के संवेदकों की ट्रैक्टर ट्रालियां बिना कवर किए कचरा उठाकर टेÑंचिग ग्राउंड पहुंचा रहे लेकिन कई ट्रालियों के नंबर प्लेट तक गायब है। इतना ही नहीं वाहनों में कचरा भरा हुआ था जो हवा में उड़कर पूरी सड़क पर फैला रहता है। दिनभर इस कचरे पर वाहन गुजरते है और रोड पर दुर्गंध फैलती रहती है। 

कचरा परिवहन का यह है नियम
कचरा ढोने वाली गाड़ियों लिए भी स्पष्ट नियम बनाए गए हैं। इसके अनुसार जो भी वाहन कचरा लेकर निकलता उसे पूरी तरह कवर किया जाना चाहिए ताकि वाहन से कचरा सड़क पर न गिरे। इसके अलावा कचरा की बदबू आसपास से गुजरने वाले वाहन चालकों को परेशान न करे। नगर निगम खुद डोर टू डोर कचरा कलेक्शन करनी वाली कंपनी के वाहनों में यह नियम लागू करवाता है। नियम का पालन न करने वाले वाहनों के खिलाफ चालान की कार्रवाई की जाती है लेकिन नगर निगम वाहनों पर यह नियम लागू नहीं करा पा रहा है। जिससे कचरा लेकर जा रहे निगम के वाहन के आस पास चलने वाले वाहन धारकों को परेशानी का समाना करना पड़ रहा है। उन्हें सड़ांध मारती बदूब से दो चार होना पड़ रहा है। 

थर्मल चौराहे तक सड़क पर रोज गिरता कचरा
कोटा स्मार्ट सिटी तो बना दिया लेकिन इसको बदसूरत बनाने का काम भी स्मार्ट सिटी बनाने वाले जिम्मेदार विभाग ही कर रहा है। नगर निगम के कचरा वाहन दशहरा मैदान से होकर थर्मल चौराहे होते हुए ट्रेचिंग ग्राउंड जाते तो रास्ते में कचरा गिराते जाते जिससे लोगों बदबू से दोचार होना पड़ता है। यह रोज का ही। कई बार गीला कचरा रोड पर गिरता है जिससे चहुंओर गंदगी फैल जाती है। सारा दिन इस गंदगी से वाहन गुजरते गंदा लगता है।
- इस्माल अहमद, निवासी सकतपुरा

डीसीएम रोड पर रोज की परेशानी
नगर निगम के ट्रैक्टर टॉली वाहन चालक बिना ढके कचरा लेकर जाते है। और इतनी तेज गति से जाते है । जिससे हवा से कचरा रोड पर गिरते हुए जाता है। इन वाहनों के पीछे चलने वालों के कपड़े तक कई बार खराब हो चुके है। कई बार निगम में शिकायत भी तो दो चार दिन तो कचरा ढक ले जाते फिर वहीं खुले में ले जाते है जिससे आमजन परेशान है। 
- हरिशंकर चौरसिया, निवासी कंसुआ

Read More झुलसाती गर्मी : 8 जिलों में पारा 46 डिग्री पार

इनका कहना
शहर को स्मार्ट रखने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। सभी कचरा परिवहन करने वाले वाहन चालकों को वाहन को कवर करके ही कचरा ले जाने के लिए पाबंद किया हुआ है। जिन संवेदको के वाहन बिना ढके कचरा लेकर जा रहे उनको पाबंद किया जाएगा। जिससे रोड पर गंदगी नहीं फैले। 
- राजीव अग्रवाल, महापौर निगर निगम कोटा

Read More उड़ते विमान में आई तकनीकी खराबी, वापस लौटा

Post Comment

Comment List

Latest News