ट्विटर इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर को गाजियाबाद पुलिस का नोटिस, 7 दिन में बयान दर्ज कराने को कहा

ट्विटर इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर को गाजियाबाद पुलिस का नोटिस, 7 दिन में बयान दर्ज कराने को कहा

पुलिस ने व्यक्ति की पिटाई के मामले में ट्विटर पर कार्रवाई की है। पुलिस ने ट्विटर इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर को नोटिस दिया है।

नई दिल्ली। माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर इन दिनों सुर्खियों में है। केंद्र सरकार के नए आईटी कानूनों को लागू नहीं करने पर कंपनी का भारत में लीगल प्रोटेक्शन खत्म हो गया है। लीगल प्रोटेक्शन खत्म होने के बाद उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में मुस्लिम बुजुर्ग से मारपीट और अभद्रता के मामले में वायरल वीडियो पर ट्विटर की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। बुजुर्ग से मारपीट और अभद्रता के मामले में गाजियाबाद पुलिस ने ट्विटर इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर मनीष माहेश्वरी को लीगल नोटिस भेजा है और उन्हें 7 दिन के अंदर लोनी बॉर्डर पुलिस स्टेशन आकर बयान दर्ज कराने को कहा है। उधर नए कानूनों पर विवाद को लेकर ट्विटर की संसदीय कमेटी के सामने पेशी भी होनी है। इस कमेटी को ट्विटर द्वारा एक प्रेजेंटेशन दी जानी है, जिसमें सोशल मीडिया के गलत इस्तेमाल को किस तरह रोका जा सके।

दरअसल गाजियाबाद के लोनी में हुए बुजुर्ग से मारपीट विवाद में पुलिस ने ट्विटर पर गलत जानकारी फैलाने के आरोप में केस दर्ज किया है। मामले में अब पुलिस ने 60 सीआरपीसी के तहत ट्विटर इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर मनीष माहेश्वरी को नोटिस भेजा है। पुलिस ने अपील की है कि वो एक हफ्ते में लोनी पुलिस स्टेशन आएं और अपना बयान दर्ज करवाएं। नोटिस में गाजियाबाद पुलिस ने लोनी में दर्ज एफआईआर के बारे में बताते हुए कहा कि ट्विटर कम्यूनिकेशन इंडिया और ट्विटर INC के जरिए कुछ लोगों ने अपने ट्विटर हैंडल का प्रयोग करते हुए समाज में नफरत फैलाने की कोशिश की। इन कोशिशों को रोकने के लिए कंपनी की तरफ से कोई संज्ञान नहीं लिया गया और ऐसे समाज विरोधी संदेश को लगातार वायरल होने दिया गया। पुलिस ने स्पष्टीकरण देने के लिए ट्विटर को एक हफ्ते की मोहलत दी है।

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News