कोरोना पीड़ितों को आर्थिक मदद से केंद्र के इनकार पर राहुल गांधी का निशाना, कहा- यह सरकार की क्रूरता

कोरोना पीड़ितों को आर्थिक मदद से केंद्र के इनकार पर राहुल गांधी का निशाना, कहा- यह सरकार की क्रूरता

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोरोना मृतकों के परिजनों को 4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने से सरकार के इंकार करने पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि मोदी सरकार का महामारी की शुरुआत से ही जनता के प्रति क्रूर रवैया रहा है। राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि जीवन की कीमत लगाना असंभव है। सरकारी मुआवजा सिर्फ एक छोटी सी सहायता होती है लेकिन मोदी सरकार ये भी करने को तैयार नहीं।

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोरोना मृतकों के परिजनों को 4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने से सरकार के इंकार करने पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए सोमवार को कहा कि मोदी सरकार का महामारी की शुरुआत से ही जनता के प्रति क्रूर रवैया रहा है। राहुल गांधी ने कहा कि कोरोना पीड़ितों के इलाज के लिए सुविधाओं की भारी कमी रही है, जिसके कारण बड़ी संख्या में लोगों की जान गई है। उनका कहना था कि एक तरफ इलाज के अभाव में लाखों लोगों ने कोरोना के कारण दम तोड़ा तो दूसरी तरफ सरकार मृतकों की संख्या को लेकर झूठे आंकड़े देकर अपनी क्रूरता का परिचय देती रही है।

राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि जीवन की कीमत लगाना असंभव है। सरकारी मुआवजा सिर्फ एक छोटी सी सहायता होती है लेकिन मोदी सरकार ये भी करने को तैयार नहीं। कोविड महामारी में पहले इलाज की कमी, फिर झूठे आंकड़े और ऊपर से सरकार की क्रूरता।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में कहा है कि कोविड-19 से जान गंवाने वाले लोगों के परिवारों को 4 लाख रुपए का मुआवजा नहीं दिया जा सकता है, क्योंकि यह वित्तीय बोझ उठाना मुमकिन नहीं है और केंद्र तथा राज्य सरकारों की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है।

Post Comment

Comment List

Latest News