कोटा उत्तर वार्ड 15: तीन दिन बाद आता है पानी, वो भी 5 मिनट, लोग परेशान

आश्वासन के बाद भी पानी सप्लाई संचारू नहीं

कोटा उत्तर  वार्ड 15: तीन दिन बाद आता है पानी, वो भी 5 मिनट, लोग परेशान

शहर के कोटा उत्तर वार्ड 15 के स्थानीय लोग लंबे समय से पानी की भारी किल्लत से जूझ रहें हैं। लोगों का कहना है की वार्ड क्षेत्र में तीन दिनों बाद पानी की सप्लाई होती है और वो भी मुश्किल से 5 मिनट तक। लोग पीने के पानी के लिए दर-दर भटक रहे हैं।

कोटा। शहर के कोटा उत्तर वार्ड 15 के स्थानीय लोग लंबे समय से पानी की भारी किल्लत से जूझ रहें हैं। लोगों का कहना है की वार्ड क्षेत्र में तीन दिनों बाद पानी की सप्लाई होती है और वो भी मुश्किल से 5 मिनट तक। लोग पीने के पानी के लिए दर-दर भटक रहे हैं। पानी सप्लाई नहीं होने की वजह से हजारों उपभोक्ताओं के रोजमर्रा के काम प्रभावित हो रहे है। स्थानीय पार्षद का कहना है की पानी की किल्लत को लेकर हर रोज उनके घर महिलाएं पहुंच रही है। जलदाय विभाग द्वारा बार-बार आश्वासन देने के बाद भी वार्ड क्षेत्र में पानी की सप्लाई संचारू रुप से शुरु नहीं की गई। इसके साथ ही वार्ड की टूटी सड़कें, नालियों की सफाई व प्रकाश वयवस्था का अभाव वार्ड की पोल खोल रहे हैं। वार्ड क्षेत्र में सीवरेज लीकेज की समस्या भी बनी हुई है। सीवरेज लीकेज से कारण सड़कों के बीचों बीच गहरे गड्ढें बन गए हैं। जो हादसों को न्यौता दे रहे है। वार्ड क्षेत्र में लगी स्ट्रीट लाइटें भी खराब हो चुकी है। इससे रात्रि के समय सड़कों से गुजरने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। लाइटें बंद होने की वजह से हादसे भी होते रहते हैं। टूटी सड़कों से परेशानी वार्ड क्षेत्र में अनेक जगह से सड़के टूटकर क्षतिग्रस्त हो चुकी है। सड़कों पर गहरे गड्ढें बने हुए है, जिससे आए दिन हादसे होते रहते है। सीवरेज लीकेज की समस्या भी वार्ड क्षेत्र में बनी हुई है। पाइपलाइन टूट चुकी है। जिससे नालियों का गंदा पानी सड़कों पर बहता रहता है। गंदे पानी से लोगों को मौसमी बीमारियां हो रही है। खोद रखे है गड्ढे आरयूआईडीपी ने वार्ड क्षेत्र में जगह-जगह गहरे गड्ढें खुदवाकर छोड़ दिए है। कार्य बहुत ही धीमीं गती से हो रहा है। इससे वार्ड के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। इन गड्ढों के कारण वार्ड क्षेत्र में रोजान हादसे होते है, लेकिन इसकी और कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा। यह है वार्ड क्षेत्र जागा बस्ती, गोविन्द नगर आंशिक, अफोर्डेबल ए, बी, सी, डी व ई, प्रेमनगर द्वितीय आंशिक, पे्रमनगर तृतीय का आंशिक भाग इस वार्ड क्षेत्र में आता है। इनका कहना है नहीं दे रहे ध्यान वार्ड क्षेत्र में पानी की भारी समस्या बनी हुई है।

लोग पीने के पानी के लिए भटक रहे है। इस समस्या के बारे में कई बार जलदाय विभाग के अधिकारियों को भी अवगत करवा दिया गया है, लेकिन आज तक इसकी ओर किसी ने कोई ध्यान नहीं दिया। इसके साथ ही वार्ड क्षेत्र में गंदे पानी की निकासी के लिए बनाई गई नालियों का लेवल सही नहीं होने से लोगों के घरों में गंदा पानी घुस जाता है। यह वार्ड विकास से कोसों दूर है। -सुुशील त्रिपाठी, पार्षद

नहीं आ रहा पानी पिछले 5 वर्षों से वार्ड क्षेत्र में पानी की समस्या बनी हुई है। पानी की समस्या से महिलाएं परेशान हैं। इसके कारण रोजाना के घरेलू काम नहीं हो पाते। जलदाय विभाग के अधिकारियों को शिकायत करने के बावजूद भी समस्या का निस्तारण नहीं किया गया। -डॉ.ज्योति गुप्ता, स्थानीय निवासी

Read More हैड कांस्टेबल 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार, थानाधिकारी मौके से फरार

सीवरेज लीकेज से परेशानी वार्ड क्षेत्र में सीवरेज लीकेज की समस्या भी बनी हुई है। सड़कों पर बने गड्ढों में पानी ठहरा रहता है। जिसे आने-जाने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। इन गड्ढों के कारण सड़क पर हादसे भी होते रहते है। पानी के कारण सड़के भी जगह-जगह से क्षतिग्रस्त हो गई है और कंक्रीट भी निकल चुका है। जिसके कारण वाहन फिसलते है। -योगेन्द्र नंदवाना, स्थानीय निवासी

Post Comment

Comment List

Latest News