हर दस में से एक व्यक्ति गंभीर  किडनी रोग से पीड़ित

विश्व में क्रोनिक किडनी रोग खतरनाक स्थिति पर

हर दस में से एक व्यक्ति गंभीर  किडनी रोग से पीड़ित

डॉ. कमल कस्वां ने बताया कि प्रारंभिक क्रोनिक किडनी डिजिज में अक्सर लक्षण दिखाई नहीं देते। किसी भी लक्षण का अनुभव करने से पहले व्यक्ति 90 प्रतिशत तक गुर्दे की कार्यप्रणाली खो सकता है।

जयपुर। किडनी हमारे शरीर का महत्वपूर्ण अंग है, जो खून को साफ  करती है। विश्व में क्रोनिक किडनी रोग खतरनाक स्थिति पर है। हर 10 में से एक व्यक्ति कुछ हद तक गंभीर किडनी रोग से प्रभावित है। यह जानकारी वर्ल्ड किडनी डे पर नारायणा मल्टीस्पेशियालिटी हॉस्पिटल में हुए जागरुकता कार्यक्रम में अस्पताल के गुर्दा रोग विशेषज्ञ डॉ. कमल कुमार कस्वां, डॉ. लवदीप डोगरा एवं यूरोलॉजिस्ट डॉ. उदय बेनीवाल और हरीश कस्वां ने दी। डॉ. कमल कस्वां ने बताया कि प्रारंभिक क्रोनिक किडनी डिजिज में अक्सर लक्षण दिखाई नहीं देते। किसी भी लक्षण का अनुभव करने से पहले व्यक्ति 90 प्रतिशत तक गुर्दे की कार्यप्रणाली खो सकता है। डॉ. डोगरा ने बताया कि सीकेडी जब अपने अंतिम चरण में होती है तो डायलिसिस या किडनी ट्रांसप्लांट ही इसका उपचार होता है। 

Post Comment

Comment List

Latest News

राज्यवर्धन राठौड़ ने निगम के अधिकारियों साथ की बैठक, विकास कार्यों पर की चर्चा राज्यवर्धन राठौड़ ने निगम के अधिकारियों साथ की बैठक, विकास कार्यों पर की चर्चा
मानसून के आगमन से पहले सारी व्यवस्थाएं सही करने के भी निर्देश दिए। 
चंद्रबाबू नायडू ने 2 साल बाद विधानसभा में किया प्रवेश, अपमानित होने के बाद चले गए थे बाहर
बिना रजिस्ट्रेशन के रियल स्टेट में खरीद-बेचान करने वाले एजेंटों पर रेरा अथॉरिटी का शिकंजा, थमाएं नोटिस
2.69 करोड़ ग्राहकों के साथ प्रदेश में सबसे आगे जियो
पत्नी की हत्या : कटा सिर और हाथ नाले में फेंके
रूस में हेलीकॉप्टर क्रैश, पायलट सहित 3 लोगों की मौत
अन्नपूर्णा रसोईयों का किया औचक निरीक्षण, 7 लाख से अधिक का लगाया जुर्माना