मात्र एक चौथाई कर दाताओं ने ही जमा कराया यूडी टैक्स

वित्तीय वर्ष पूरा होने में मात्र छह दिन शेष

मात्र एक चौथाई कर दाताओं ने ही जमा कराया यूडी टैक्स

कोटा दक्षिण निगम में कुल 4753 कर दाता हैं जो नगरीय विकास कर के दायरे में आ रहे हैं। हालांकि अभी सर्वे का काम पूृरा नहीं हुआ है। संभवना है कि कई और प्रतिष्ठान व संस्थाएं इस दायरे में आ सके हैं।

कोटा। वित्तीय वर्ष 2022-23 के समाप्त होने में मात्र 6 दिन का समय शेष है। लेकिन अभी भी नगर निगम में नगरीय विकास कर(यूडी टैक्स)  मात्र एक चौथाई कर दाताओं ने ही जमा कराया है। अभी भी 35 सौ करदाता ऐसे हैं जिन पर टैक्स बकाया है। नगर निगम द्वारा वर्ष 2007 से नगरीय विकास कर वसूलना शुरू किया गया है। शुरुआत से नगर निगम ही यह टैक्स वसूल कर रहा था। लेकिन एक-दो वर्ष को छोड़कर अधिकतर वित्तीय वर्ष में निगम कभी भी यूडी टैक्स के लक्ष्य को पूृरा नहीं कर सका। इसका कारण निगम के राजस्व अनुभाग में कर्मचारियों की कमी को बताया जा रहा था। कोटा में दो नगर निगम उत्तर व दक्षिण बनने के बाद पिछले साल कोटा दक्षिण निगम में नरीय कर वसूली का काम निजी फर्म को दिया गया। जिसका कोटा दक्षिण निगम के पार्षदों ने विरोध भी किया। लेकिन बोर्ड बैठक में लिए गए निर्णय के बावजूद सरकार ने इसे निरस्त नहीं किया। वरन् कोटा उत्तर में यह काम  उसी निजी फर्म को दे दिया। नगर निगम कोटा दक्षिण का वित्तीय वर्ष 2022-23 का यूृडी टैक्स वसूली का लक्ष्य 7 करोड़ रुपए तय किया गया था। जिसे इस बार समय से पहले ही पूरा कर लिया गया है। 

कोटा दक्षिण में 4753 कर दाता
कोटा में वर्ष 2007 के बाद से नगरीय कर का सर्वे नहीं हुआ था। लेकिन निजी फर्म को यह काम देने के बाद उन्होंने नए सिरे से सर्वे का काम किया। जिसमें कई संस्थाएं व प्रतिष्ठान कर के दायरे में आई और कई हटी। जानकारी के अनुसार वर्तमान में कोटा दक्षिण निगम में कुल 4753 कर दाता हैं जो नगरीय विकास कर दे दायरे में आ रहे हैं। हालांकि अभी सर्वे का काम पूृरा नहीं हुआ है। संभवना है कि कई और प्रतिष्ठान व संस्थाएं इस दायरे में आ सके हैं। 

1253 से जमा हुआ सात करोड़ कर
नगर निगम कोटा दक्षिण क्षेत्र में नगरीय विकास कर (यूडी टैक्स) की वसूली करीब एक साल से निजी फर्म द्वारा की जा रही है।  जिससे निगम ने इस बार पिछले कई वर्षों से अधिक नगरीय विकास कर की वसूली की है। सभी प्रतिष्ठानों  व दुकानदारों ने इस वित्तीय वर्ष में लगभग 7 करोड रुपए  टैक्स जमा किया जा चुका है। जो पिछले कई वर्षों से बहुत अधिक है। हालांकि यह कर सिर्फ 1253 करदाताओं ने ही जमा कराया है। उप महापौर पवन मीणा ने बताया कि इस वित्तीय वर्ष 2022- 23 में राज्य सरकार ने नगरीय विकास कर में शत प्रतिशत ब्याज पेनल्टी में छूट प्रदान की हैं जो 31 मार्च को समाप्त हो जाएगी। ऐसे में जिन कर दाताओं ने अभी तक यूडी टैक्स जमा नहीं कराया है वह समय पर करवाकर छूट का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। 

35 सौ कर दाताओं को नोटिस जारी
नगर निगम कोटा दक्षिण में 4753 में से मात्र 1253 ने ही यूडी टैक्स जमा कराया है। ऐसे में शेष 35 सौ कर दाताओं को नगर निगम की ओर से नोटिस जारी किए गए हैं। जिससे वे वित्तीय वर्ष के अंतिम 6 दिन में कर जमा करा सके। जानकारी के अनुसार कुल कर दाताओं में से 26 मार्च तक एक चौथाई कर दाताओं ने ही टैक्स जमा कराया है। जबकि तीन चौथाई अभी शेष हैं। 

Read More Pre Budget Meeting: हर वर्ग की भागीदारी सुनिश्चित करेंगे- दीया कुमारी

कोटा उत्तर में चल रहा काम
नगर निगम कोटा उत्तर में निजी फर्म को कुछ समय पहले ही यूडी टैक्स वसूली का काम दिया  गया है। जिससे उनके द्वारा नए सिरे से सर्वे किया जा रहा है। सर्वे के साथ ही टैक्स भी जमा कया जा रहा है। हालांकि कोटा उत्तर में वित्तीय वर्ष के लक्ष्य 6 करोड़ की तुलना में अभी एक तिराही 2 करोड़ रुपए भी कर वसूल नहीं हो सका है। 

Read More डीसीएम से अनंतपुरा तक अंधेरा ही अंधेरा

इनका कहना है
नगर निगम में कर्मचारियों की कमी  है। जिससे नगरीय विकास कर के लक्ष्य को पूरा नहीं किया जा रहा था।  ऐसे में यह काम निजी फर्म को दिया गया। इस वित्तीय वर्ष में  1253 करदाताओं को डिमांड नोटिस जारी कर निगम कोष में लगभग 7 करोड रुपए की राशि वसूल की गई । इसके साथ ही 3500 करदाताओं को डिमांड नोटिस जारी किए गए हैं । जिनके द्वारा 31 मार्च तक नगरीय विकास कर जमा कराने की संभावना है।
-राजीव अग्रवाल, महापौर, नगर निगम कोटा दक्षिण 

Read More प्रदेश में सरकार बदलते ही अटका सूखनी नदी पर पुल का काम

Post Comment

Comment List

Latest News

जेडीए ने अवैध निर्माण किए ध्वस्त, 200 से अधिक अवैध निर्माणों को तोड़ा जाएगा जेडीए ने अवैध निर्माण किए ध्वस्त, 200 से अधिक अवैध निर्माणों को तोड़ा जाएगा
शहर में अवैध निर्माण एवं अतिक्रमणों को लेकर की जा रही कार्रवाई के दौरान जयपुर विकास प्राधिकरण के प्रवर्तन दस्ते...
सदन में अब नहीं चल पाएगी भाजपा की मनमानी: कांग्रेस
"स्वस्थ और तंदुरुस्त राजस्थान": इस बार के बजट में चिकित्सा और स्वास्थ्य पर होगा सर्वाधिक फोकस
डंपर चालक ने ली बाइक सवार की जान
जनता के सामने एक्सपोज हो चुकी मोदी की गारंटी: गहलोत
मोदी 30 जून को करेंगे मन की बात, देशवासियों से मांगे सुझाव
High Court के निर्देश पर अवैध खनन के खिलाफ जांच अभियान