तहव्वुर राणा ने भारत प्रत्यर्पण को अमेरिका की कोर्ट में दी चुनौती

कोर्ट ने राणा के प्रत्यर्पण को मंजूरी दी थी

तहव्वुर राणा ने भारत प्रत्यर्पण को अमेरिका की कोर्ट में दी चुनौती

मुंबई हमले के आरोपी को भारत लाने की तैयारी के बीच राणा ने अपने अधिवक्ता के जरिए बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर कर इसे भारत-अमेरिका के बीच प्रत्यर्पण संधि का उल्लंघन बताया है।

वाशिंगटन। मुंबई के 26/11 आतंकी हमले के आरोपी पाकिस्तानी मूल के कनाडाई कारोबारी तहव्वुर राणा ने अमेरिकी कोर्ट के भारत प्रत्यर्पण आदेश को चुनौती दी है। पिछले महीने कोर्ट ने राणा के प्रत्यर्पण को मंजूरी दी थी। मुंबई हमले के आरोपी को भारत लाने की तैयारी के बीच राणा ने अपने अधिवक्ता के जरिए बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर कर इसे भारत-अमेरिका के बीच प्रत्यर्पण संधि का उल्लंघन बताया है। बीते 16 मई को सेंट्रल डिस्ट्रक्ट आफ कैलिफोर्निया की अमेरिकी डिस्ट्रिक्ट कोर्ट की मजिस्ट्रेट जैकलिन चूलजियान ने अमेरिकी प्रशासन के इस अनुरोध को स्वीकार कर लिया था कि राणा को भारत को प्रत्यर्पित कर दिया जाए। 2008 के मुंबई हमले में तहव्वुर राणा पर लश्कर-ए-तैयबा के पाकिस्तानी मूल के अमेरिकी नागरिक डेविड कोलमैन हेडली की मदद करने का आरोप है।

हमले में राणा की भूमिका की जांच कर रही एनआइए ने पाया था कि राणा ने मुंबई हमले में हेडली की संलिप्तता जानते हुए भी उसकी सहायता की। मंबई हमले में कुल 166 लोगों की मौत हो गई  थी, जबकि 10 हमलावरों में से 9 सुरक्षाबलों ने मार गिराया था।

 

Post Comment

Comment List

Latest News

लोकसभा प्रत्याशी चयनः प्रदेश कोर ग्रुप की आज दिल्ली में फिर बैठक, शाह, नड्डा, संतोष भी रहेंगे लोकसभा प्रत्याशी चयनः प्रदेश कोर ग्रुप की आज दिल्ली में फिर बैठक, शाह, नड्डा, संतोष भी रहेंगे
भाजपा केन्द्रीय नेतृत्व की ओर से प्रदेश में सभी सीटों पर संभावित उम्मीदवारों का पैनल भी तैयार किया जा रहा...
नाइजीरिया में पलटी नाव, 4 लोगों की मौत
विक्रमादित्य सिंह ने मंत्री पद से दिया इस्तीफा
फिल्म 'तेरा क्या होगा लवली' का फर्स्ट लुक पोस्टर जारी
Himachal Pradesh Politcal Crisis: प्रियंका गांधी बोली- 25 विधायकों वाली पार्टी 43 विधायकों के बहुमत को चुनौती दे रही
भारत ने 200 ब्रह्मोस मिसाइलों का दिया ऑर्डर 
भारत में पहली बार अंतर्राष्ट्रीय न्यूरोट्रॉमा सम्मेलन जयपुर में होगा आयोजित