ट्रैफिक लाइट सिग्नल फ्री शहर, फिर भी जाम और हादसों का खतरा

दिन और शाम के समय रैंग कर निकलने को मजबूर वाहन चालक

ट्रैफिक लाइट सिग्नल फ्री शहर, फिर भी जाम और हादसों का खतरा

वाहन चालकों को अधिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

कोटा। शहर के विकास व बढ़ते यातायात के दबाव को देखते हुए लोगों की सुविधा के लिए शहर को ट्रैफिक लाइट सिग्नल  फ्री तो कर दिया। लेकिन उससे शहर में बने नए चौराहों पर दिन और शाम के समय जाम के हालात तो बन ही रही हैं। हादसों का भी खतरा बना हुआ है। जिससे अधिकतर समय वाहन चालकों को रैंगते हुए वाहन निकालने को मजबूर होना पड़ रहा है। शहर में यातायात के बढ़ते दबाव को कम करने और जाम की समस्या को देखते हुए उसके समाधान  के लिए नगर विकास न्यास द्वारा स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत अंडरपास व फ्लाई ओवर बनाए गए हैं। 

झालावाड़ रोड से स्टेशन तक के क्षेत्र को ट्रैफिक लाइट सिग्नल फ्री बना दिया है। इस रोड पर अब किसी भी चौराहे पर ट्रैफिक सिग्नल लाइटें नहीं है। जिससे अंडरपास व फ्लाई ओवर से वाहन चालक बिना रूके सीधे निकल सके। लेकिन उसके बाद भी अधिकतर समय लोगों को बीच-बीच में बने नए चौराहोंÞ पर जाम व हादसों के खतरे का सामना करना पड़ रहा है। न्यास द्वारा अनंतपुरा व सिटी मॉल के सामने ल्लाई ओवर, गोबरिया बावड़ी व एरोड्राम चौराहे पर अंडरपास, कोटड़ी में ग्रेड सेपरेटर व अंटाघर चौराहे पर अंडरपास का निर्माण किया गया है। साथ ही गुमानपुरा में फ्लाई ओवर बनाया गया है। डीसीएम रोड पर पॉलिटेक् नीक कॉलेज से झालावाड रोड तक बाईपास को चौड़ा किया गया है। उसके बाद भी हालत सुधरने की जगह बिगड़ रहे हैं। 

वल्लभ नगर व ज्वाला तोप पर भी खतरा
वल्लभ नगर चौराहा हो या ’वाला तोप तिराहा। कोटड़ी पेट्रोल पम्प के सामने हो या छावनी व गुमानपुरा में इंदिरा गांधी सर्किल पर। यहां भी चारों तरफ से बिना किसी सिग् नल के दो पहिया व चार पहिया वाहनों के अस्त-व्यस्त आने से शाम के समय तो निकलना उतना आसान नहीं रहता है। एसे में कई बार तो सही चलने वाले वाहन चालकों को अपने वाहन रैंग-रैंग कर निकालने को मजबूर होना पड़ रहा है। धानमंडी चौराहे पर तो शाम के समय ही नहीं सुबह से दिनभर छोटे-बड़े वाहन रोंग साइड से निकलने के कारण हादसों का खतरा हमेशा बना रहता है। यहां दिन में कई बार वाहन आपस में टकराते रहते हैं। इस जगह पर डीसीएम, झालावाड़ रोड, एरोड्राम व धानमंडी समेत कई तरफ से एक साथ वाहन निकलते हैं। जिससे सीधे निकलने वाले वाहन चालकों को हादसों का खतरा बना रहता है। यहां दिन में कई बार जाम भी लगा रहता है। 

यहां अधिक समस्या
शहर में झालावाड़ रोड पर विज्ञान नगर फ्लाई ओवर उतरने के बाद एयरपोर्ट गेट के सामने डीसीएम रोड की तरफ जाने वाली रोड पर तीन तरफ से वाहन आने से दिन में कई बार जाम के हालात बन रहे हैं। साथ ही शाम के समय यहां हादसों का खतरा बना रहता है और वाहनों को रैंग कर निकलना पड़ तहा है। इसी तरह की स्थिति घोड़ा चौराहे पर है। यहां भी चारों तरफ से अस्त-व्यस्त वाहन दिनभर निकलते हैं। जिससे सही रास्ते व सीधे चलने वाले वाहन चालकों को अधिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। जाम में फंसने के साथ ही हादसों का भी खतरा बना हुआ है। जिससे लोगों की जान सांसत में रहती है। 

Read More एक मशीन पर भार, तेल की धार के लिए कतार

विकास हुआ लेकिन ट्रैफिक नहीं सुधरा
शहर वासियों का कहना है कि नगर विकास न्यास की ओर से स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत शहर में विकास तो कराया गया लेकिन जिस मकसद से शहर को ट्रैफिक लाइट सिग् नल फ्री किया गया था वह हालात नहीं सुधरे हैं। महावीर नगर निवासी राजेश नागर का कहना है कि शहर में चौराहों पर ट्रैफिक की हालत इतनी अधिक खराब हो गई है कि शाम के समय कार लेकर निकलना किसी परेशानी से कम नहीं है।   थोड़ी-थोड़ी दूरी पर चौराहों से निकलने में हादसों का खतरा बना रहता है। आमजन के लिए सबसे जरूरी ट्रैफिक है उसकी हालत सुधरनी चाहिए। खेख़्ली फाटक निवासी रमेश लोधा ने बताया कि दो पहिया वाहन से शहर में जाते समय चौराहों पर कोई भी वाहन कहीं से भी आ जाता है। अचानक वाहन आने से कई बार दुर्घटनाग्रस्त होते-होते बचे। पुलिस प्रशासन को चाहिए कि शहर की ट्रैफिक व्यवस्था सुधरनी चाहिए। 

Read More जयपुर में संगणक भर्ती परीक्षा में 49 फीसदी बैठे अभ्यर्थी

इनका कहना है
शहर में जाम जैसे हालात नहीं है। शाम के समय कई बार ट्रैफिक अधिक होने से कभी-कभी परेशानी हो सकती है। लेकिन अधिक समय तक जाम में फंसे रहने जैसी कोई स्थिति नहीं बनी है। रोंग साइट से आने वालों से होने वाली समस्या के लिए चौराहों पर ट्रैफिक के जवान तैनात हैं। रोंग साइड वालों के चालान भी बनाए जा रहे हैं। सुगम यातायात के लिए लोगों को भी जागरूक होना पड़ेगा। 
- पूरण सिंह,यातायात निरीक्षक

Read More तीस हजार विजिटर और 500 करोड़ के व्यापार का कीर्तिमान

Post Comment

Comment List

Latest News