टोंक के छह स्थानों पर बजरी स्टॉक अनियमितता पर 17 करोड़ 17 लाख 65 हजार 45 रुपये की 

शास्ती राशि राजकोष में जमा कराने के नोटिस जारी

टोंक के छह स्थानों पर बजरी स्टॉक अनियमितता पर 17 करोड़ 17 लाख 65 हजार 45 रुपये की 

जयपुर। टोंक जिले के पलाड़ा, डोडवारी, मूण्डियां, साईदाबाद और मंडावर में बजरी खनन लीज धारकों के बजरी स्टॉक अनियमितता औरं अंतर पाने पर करोड़ों रुपए के सरकारी राजस्व का नुकसान पाया है। माइंस विभाग द्वारा इस पर कार्रवाई करते हुए खननकर्ताओं पर 17 करोड़ 17 लाख 65 हजार 45 रु. की शास्ती जमा कराने के नोटिस जारी किए हैं।

राज्य सरकार द्वारा 15 जनवरी से 31 जनवरी तक अवैध खनन गतिविधियों के खिलाफ चलाए गए राज्यव्यापी अभियान के दौरान विभाग द्वारा कराई जांच और मौके पर उपलब्ध स्टॉक में अंतर पाए जाने पर टोंक के सहायक खनि अभियंता द्वारा नियमानुसार शास्ती लगाते हुए राशि जमा कराने के नोटिस जारी किए गए हैं। विभाग द्वारा बजरी के मौके पर उपलब्ध स्टॉक की 1.62 टन प्रति घनमीटर के अनुसार गणना की गई है।

टोंक के मण्डावर में विभाग द्वारा 510694.63 टन बजरी का स्टॉक आंका गया जबकि संबंधित द्वारा 370114 टन स्टॉक ही दर्शाया गया। इस प्रकार 1,40,580.93 टन अधिक स्टॉक पाया गया। इस पर नियमानुसार 7 करोड़ 02 लाख 90 हजार 315 रु. की शास्ति लगाई गई है। इसी तरह से डोडवाडी में 238583.84 टन बजरी का स्टॉक आंका गया जबकि संबंधित द्वारा 246893 टन ही स्टॉक मेें दर्शाया गया। इस प्रकार 8309.16 टन स्टॉक कम पाया गया। इस पर नियमानुसार 41 लाख 54 हजार 580 रु. की शास्ती लगाई गई है। टोंक के ही मुण्डिया में 422560.26 टन स्टॉक आंका गया जबकि संबंधित द्वारा 528906 टन स्टॉक पोर्टल पर दर्शाया हुआ था। इस प्रकार 1,06,345.74 टन स्टॉक मौके पर कम पाया गया। इस पर 5 करोड़ 31 लाख 72 हजार 870 रु की शास्री लगाई गई है। इस तरह से इन तीन स्थानों की मय कंपाउंड राशि 12 करोड़ 76 लाख 77 हजार 765 रुपए की शास्ती लगाते हुए नोटिस दिया गया है।

इसी प्रकार से टोंक के ही पालडा में विभाग द्वारा 614796.91 टन बजरी स्टॉक आंकलित किया गया है जबकि संबंधित द्वारा 616598 टन ही स्टॉक पोर्टल पर दर्शा कर 1801.09 टन कम स्टॉक बताया गया है। इस पर 9 लाख 545 रु. की शास्ती लगाई गई है। टोंक के ही सईदाबाद में 467270.31 टन स्टॉक आंका गया है जबकि संबंधित द्वारा पोर्टल पर 413750 टन स्टॉक दर्शाया गया है। इस तरह से 53520.35 टन अधिक स्टॉक बताया गया है। इस पर 2 करोड़ 67 लाख 60 हजार 175 रु. की शास्ती लगाई गई है। टोंक के ही मुण्डिया में 239482.12 टन स्टॉक होना चाहिए था जबकि पोर्टल पर 206749 टन स्टॉक दिखाया गया है। इस तरह से 32733.12 टन अधिक स्टॉक दिखाया गया है। जिस पर नियमानुसार एक करोड़ 63 लाख 66 हजार 560 रु. की शास्ती लगाई गई है। इस तरह से इन तीन स्थानों की मय कंपाउंड राशि 4 करोड़ 40 लाख 87 हजार 280 रु. की शास्ती लगाते हुए सहायक खनि अभियंता संजय शर्मा द्वारा नोटिस दिया गया है।

Tags: gravel

Post Comment

Comment List

Latest News

कांग्रेस ज्यादातर सीटों पर जीत के लिए है आश्वस्त, दूसरे फेज में भाजपा की हालत होगी खराब : गुर्जर कांग्रेस ज्यादातर सीटों पर जीत के लिए है आश्वस्त, दूसरे फेज में भाजपा की हालत होगी खराब : गुर्जर
लोकसभा क्षेत्र में भाजपा नेताओं की यह हालत हो गई की वह अपने लोकसभा छोड़कर दूसरी जगह भी नहीं जा...
समित शर्मा ने पेयजल आपूर्ति का लिया जायजा, अवैध बूस्टरों के विरुद्ध कार्रवाई के दिए निर्देश
मणिपुर में 11 मतदान केंद्रों पर फिर होगा मतदान
भाजपा के लिए एकतरफा जीत इस बार आसान लड्डू नहीं
दूसरे फेज की सीटों में कांग्रेस दलित-अल्पसंख्यकों तक पहुंचने में जुटी
अफगानिस्तान में एक चिपचिपी खदान में बम विस्फोट, एक व्यक्ति की मौत
महावीर जयंती पर निकाली शोभा यात्रा, घरों पर फहराया पचरंगा जैन ध्वज