पहला विश्व टेस्ट चैंपियन बनने उतरेंगे भारत और न्यूजीलैंड, कुछ घंटों बाद शुरू होगा खिताबी मुकाबला

पहला विश्व टेस्ट चैंपियन बनने उतरेंगे भारत और न्यूजीलैंड, कुछ घंटों बाद शुरू होगा खिताबी मुकाबला

न्यूजीलैंड के खिलाफ एजेस बाउल स्टेडियम में आज से शुरू होने वाले विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) फाइनल के लिए भारतीय क्रिकेट टीम ने गुरुवार को अपनी एकादश घोषित कर दी। भारतीय टीम प्रबंधन 5 गेंदबाजों के साथ गया है। रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा 2 स्पिनर होंगे, जबकि अन्य 3 तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह होंगे।

साउथम्पटन। न्यूजीलैंड के खिलाफ एजेस बाउल स्टेडियम में आज से शुरू होने वाले विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) फाइनल के लिए भारतीय क्रिकेट टीम ने गुरुवार को अपनी एकादश घोषित कर दी। बीते दिनों घोषित हुई 15 सदस्यीय टीम के 4 सदस्य हनुमा विहारी, रिद्धिमान साहा, मोहम्मद सिराज और उमेश यादव एकादश से बाहर हो गए हैं। भारतीय टीम प्रबंधन 5 गेंदबाजों के साथ गया है। रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा 2 स्पिनर होंगे, जबकि अन्य 3 तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह होंगे। 2014 के बाद यह दूसरा मौका है, जब जडेजा और अश्विन इंग्लैंड में एक साथ टेस्ट मैच खेलेंगे। समझा जाता है कि रोहित शर्मा और शुभमन गिल पारी की शुरुआत करेंगे। इसके बाद मध्य क्रम में चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे और रिषभ पंत रहेंगे।

भारत को अनुभव का लाभ
भारतीय टीम को विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल से पहले भले ही इंग्लैंड में टेस्ट मैच खेलने का अवसर नहीं मिला हो लेकिन उसके पास यहां खेलने का न्यूजीलैंड से ज्यादा अनुभव है। भारत ने यहां इंग्लैंड के खिलाफ दो मैच खेले हैं और दोनों में उसे हार का सामना करना पड़ा है। हालांकि कीवी टीम के खिलाफ इसका अनुभव भारतीय टीम के काम आएगा, जिसने यहां एक भी मैच नहीं खेला है।

रिकॉर्ड भारत के पक्ष में
ओवरऑल भारत का न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में रिकॉर्ड अच्छा है। दोनों टीमों ने एक दूसरे के खिलाफ 59 टेस्ट मैच खेले हैं जिसमें से भारत ने 21 मुकाबले जीते हैं और 12 में उसे हार मिली है। हालांकि इनमें से 16 जीत भारत को घर में मिली हैं। वहीं न्यूजीलैंड में खेले गए 25 टेस्ट में से उसे 10 में हार मिली और भारत ने सिर्फ पांच मैच जीते हैं।

पहली बार तटस्थ स्थल पर मुकाबला
यह पहली बार है जब दोनों टीमें तटस्थ स्थल पर एक दूसरे का सामना करेंगी। न्यूजीलैंड को पाकिस्तान के खिलाफ यूएई में खेलने का अनुभव है लेकिन भारतीय टीम ने कभी तटस्थ स्थल पर टेस्ट मैच नहीं खेला है।

स्विंग गेंदबाजों को मिलेगी मदद
इंग्लिश वातावरण में स्विंग गेंदबाजों को मदद मिलती है जिससे न्यूजीलैंड को कुछ फायदा हो सकता है। हालांकि स्पिनरों के लिए यह फायदमेंद हो सकता है क्योंकि पिच ड्रायर होने की उम्मीद है।

भारत की एकादश-: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शुभमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, रिषभ पंत (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा, जसप्रीत बुमराह।

Post Comment

Comment List

Latest News