CA परीक्षा से ‘ऑप्ट आउट’ का विकल्प देने का निर्देश, SC ने कहा- ICAI द्वारा मुहैया कराई गई योजना पर्याप्त नहीं

CA परीक्षा से ‘ऑप्ट आउट’ का विकल्प देने का निर्देश, SC ने कहा- ICAI द्वारा मुहैया कराई गई योजना पर्याप्त नहीं

सुप्रीम कोर्ट ने उम्मीदवारों को चार्टर्ड अकाउंटेंट्स परीक्षा 2021 से बाहर निकलने (ऑप्ट आउट) का विकल्प देने का इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) को निर्देश दिया है। कोर्ट ने कहा कि आईसीएआई द्वारा मुहैया कराई गई योजना पर्याप्त नहीं है।

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने उम्मीदवारों को चार्टर्ड अकाउंटेंट्स परीक्षा 2021 से बाहर निकलने (ऑप्ट आउट) का विकल्प देने का इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) को निर्देश दिया है। न्यायमूर्ति अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली तीन-सदस्यीय खंडपीठ ने बुधवार को कहा कि आईसीएआई द्वारा मुहैया कराई गई योजना पर्याप्त नहीं है। कोर्ट ने कहा कि सीए की आगामी परीक्षा में शामिल होने वाले उम्मीदवार इससे हट सकते हैं, अगर वे या उनके परिवार का कोई सदस्य कोरोना महामारी से पीड़ित हुआ है। इससे पहले आईसीएआई ने एक शहर से दूसरे शहर में परीक्षा केंद्र बदले जाने पर ऑप्ट आउट ऑप्शन देने की बात कही थी।

तो आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट पेश करने की आवश्यकता नहीं
खंडपीठ में न्यायमूर्ति दिनेश माहेश्वरी और न्यायमूर्ति अनिरुद्ध बोस भी शामिल हैं। पीठ ने यह भी स्पष्ट किया कि यदि परीक्षा से हटने के अनुरोध के साथ परिवार के सदस्यों के लिए किसी रजिस्टर्ड डॉक्टर द्वारा जारी मेडिकल सर्टिफिकेट पेश किया जाता है तो उम्मीदवार को आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट पेश करने की आवश्यकता नहीं है। 

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News

मेरी पत्नी ने कहा था सीएम से पंगे मत लो : गुढ़ा मेरी पत्नी ने कहा था सीएम से पंगे मत लो : गुढ़ा
गुढ़ा ने कहा कि किसी विधायक या मंत्री के खिलाफ  थाने में सीधे मामला दर्ज हो जाना सोचने वाली बात...
जी-20 : मिर्चीबड़ा खाकर बोले विदेशी मेहमान-वन्स मोर प्लीज
मीटरगेज को हेरिटेज संरक्षण : फूलाद से कामलीघाट तक चलेगी रेल कार
कैंसर से बचाव में वैक्सीन कितनी कारगर?
सरकार को काम के लिए 5 साल कम, हमारे काम का कांग्रेस मजा उठाती है: वसुन्धरा राजे
मुंह-गले में छाले, निगलने में दिक्कत, आवाज में बदलाव या शरीर में हो गांठ, हल्के में ना लें, हो सकता है कैंसर
दो स्थानों पर अवैध व्यावसायिक बिल्डिंग सील