उर्स: पाकिस्तान सरकार की चादर पेश

811वें उर्स में शिरकत करने आए पाकिस्तानी जायरीन

उर्स: पाकिस्तान सरकार की चादर पेश

जियारत करने के बाद सैयद जाद्गान अंजुमन ने सभी की दस्तारबंदी कर स्वागत किया और तबर्रुक भेंट कर उनके हक में दुआ की। 

अजमेर। ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती के 811वें उर्स में शिरकत करने आए पाकिस्तानी जायरीन दल ने सोमवार को ख्वाजा साहब की मजार पर पाकिस्तान सरकार सहित अपनी व्यक्तिगत चादरें पेश कर अमन, खुशहाली व भाईचारा सहित दोनों मुल्कों के मजबूत व भरोसेमन्द रिश्ते बनने की दुआ मांगी।

जियारत करने के बाद सैयद जाद्गान अंजुमन ने सभी की दस्तारबंदी कर स्वागत किया और तबर्रुक भेंट कर उनके हक में दुआ की। 
पाक जायरीन दल सेन्ट्रल गर्ल्स स्कूल परिसर पुरानी मंडी से सुबह जुलूस के रूप में चादर लेकर निकला। चादर पेश करते समय कई पाक जायरीन की आंखों से आंसू बह रहे थे। पाक दल में शामिल जायरीन ने अपने-अपने दुआगो खादिमों के जरिए चादर पेश की। अधिकांश पाकिस्तानी जायरीन ख्वाजा साहब की मजार पर चढ़ चुकी छोटी-बड़ी चादरें लेकर गए। 

बच्चों ने पेश किए सूफियाना कलाम

कार्यक्रम की शुरुआत कुरान की तिलावत से हुई। ख्वाजा साहब की शान में नात व मनकबत पेश की गई। पाक जायरीन दल के सदस्यों ने भी नात व मनकबत पेश की। इसके बाद शाही कव्वाल स्वर्गीय असरार हुसैन के बच्चों ने सूफियाना कलाम पेश किए। जिसे पाक जायरीन दल ने काफी सराहा और दिल खोलकर ख्वाजा के नाम पर पैसे लुटाए।

Read More आमजन को किया लिवर रोगों के प्रति जागरूक

Post Comment

Comment List

Latest News

कम वोटिंग से राजनीति दलों में मंथन का दौर शुरू, दूसरे चरण की 13 सीटों को लेकर रणनीति बनाने में जुटे कम वोटिंग से राजनीति दलों में मंथन का दौर शुरू, दूसरे चरण की 13 सीटों को लेकर रणनीति बनाने में जुटे
ऐसे में इस बार पहले चरण की सीटों पर कम वोटिंग ने भाजपा को सोचने पर मजबूर कर दिया है।...
भारत में नहीं चाहिए 2 तरह के जवान, इंडिया की सरकार बनने पर अग्निवीर योजना को करेंगे समाप्त : राहुल
बड़े अंतर से हारेंगे अशोक गहलोत के बेटे चुनाव, मोदी की झोली में जा रही है सभी सीटें : अमित 
किडनी ट्रांसप्लांट के बाद मरीज की मौत, फोर्टिस अस्पताल में प्रदर्शन
इंडिया समूह को पहले चरण में लोगों ने पूरी तरह किया खारिज : मोदी
प्रतिबंध के बावजूद नौलाइयों में आग लगा रहे किसान
लाइसेंस मामले में झालावाड़, अवैध हथियार रखने में कोटा है अव्वल