हनुमानगढ़ में दुष्कर्म पीड़िता को फांसी लगाने के लिए होना पड़ा मजबूर, प्रदेश के लिए शर्मनाक: राठौड़

हनुमानगढ़ में दुष्कर्म पीड़िता को फांसी लगाने के लिए होना पड़ा मजबूर, प्रदेश के लिए शर्मनाक: राठौड़

राजस्थान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने ट्वीट कर कहा कि पुलिस प्रशासन की संवेदनहीनता के कारण न्याय नहीं मिलने से दुःखी होकर हनुमानगढ़ जिले में दुष्कर्म पीड़िता को फांसी लगाने को मजबूर होना पड़े तो इससे बड़े शर्म की बात और क्या होगी।

जयपुर। राजस्थान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने ट्वीट कर कहा कि पुलिस प्रशासन की संवेदनहीनता के कारण न्याय नहीं मिलने से दुःखी होकर हनुमानगढ़ जिले में दुष्कर्म पीड़िता को फांसी लगाने को मजबूर होना पड़े तो इससे बड़े शर्म की बात और क्या होगी। 17 दिन पूर्व एसपी कार्यालय के बाहर पीड़िता ने आरोपी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर धरना दिया था, इसके बावजूद भी पुलिस के आला अधिकारियों ने मामले की गंभीरता पर ध्यान नहीं दिया। जिस वजह से लचर कानून व्यवस्था के समक्ष न्याय की आस में पीड़िता को दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर होना पड़ा और अंत में अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।

राठौड़ ने कहा कि कांग्रेस सरकार में महिलाओं के साथ हैवानियत की घटनाएं लगातार घटनाएं सामने आ रही है। दर्जनभर से ज्यादा मामले ऐसे हैं जिसमें पीड़िताओं को न्याय नहीं मिलने की आस में अपनी जान गंवानी पड़ी है। राजस्थान में एक भी दिन ऐसा नहीं गुजरता है जब प्रदेश में कहीं ना कहीं महिलाओं के साथ दरिंदगी की खबरें सामने ना आती हो। रोजाना करीब 17 अबलाओं की इज्जत तार-तार होती है लेकिन गृह विभाग के मुखिया अशोक गहलोत जो राजस्थान के मुख्यमंत्री भी है, उन्हें सिर्फ चुनाव की चिंता है बहन-बेटियों की नहीं।

राठौड़ ने कहा कि राजस्थान में कानून व्यवस्था की स्थिति इतनी विकराल हो चुकी है कि अनिवार्य एफआईआर का खोखला दावा करने वाली गहलोत सरकार के जंगलराज में महिला से दुष्कर्म जैसे मामलों में भी पुलिस प्रशासन गंभीरता नहीं बरतते हुए आरोपी के पक्षकार की भूमिका में काम करता है। थानों में महिलाओं से रिश्वत के रूप मे अस्मत मांगी जाती है। 

राठौड़ ने कहा कि एनसीआरबी के आंकड़ों में राजस्थान दुष्कर्म के मामलों में देशभर में पहले पायदान पर है। प्रदेश में भीलवाड़ा में विवाहिता का अपहरण कर गैंगरेप, कोटड़ी में कोयले की भट्टी में नाबालिग से रेप के बाद उसे जिंदा जलाना, करौली में युवती पर एसिड अटैक करके हत्या और बीकानेर के खाजूवाला में युवती के साथ 2 पुलिसकर्मियों द्वारा गैंगरेप कर हत्या करने जैसी कई घटनाएं हो चुकी है।

Read More जेईसीआरसी में भारतीय अर्थव्यवस्था का पुनसंयोजन पर आर्थिक सम्मेलन 

Post Comment

Comment List

Latest News

राजस्थान में एक पेड़ मां के नाम अभियान का हुआ शुभारंभ राजस्थान में एक पेड़ मां के नाम अभियान का हुआ शुभारंभ
  मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने अभियान के तहत मुख्यमंत्री आवास पर अपनी माताजी गोमती देवी के साथ बेल का पौधा
उच्च गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए राज्य बजट में शामिल किए जाएंगे शिक्षकों के सुझाव: भजनलाल
Upcoming Week of Stock Market : जीएसटी परिषद के नतीजों का बाजार पर रहेगा असर
भजनलाल सरकार 5 साल में नहीं कर पाएगी एक भी भर्ती, भाजपा-आरएसएस की सोच घातक: डोटासरा
गौ रक्षार्थ 11 कुंडीय गायत्री महायज्ञ का हुआ आयोजन
NEET Paper Leak Conflict : सीबीआई ने दायर की पहली FIR, शिक्षा मंत्रालय की शिकायत पर हुई दर्ज
केन्या में कर वृद्धि के विरोध में प्रदर्शन, 2 लोगों की मौत