Sukhdev Singh Gogamedi Murder Case: 7 मिनट बातचीत, 20 सैकंड में 17 राउंड फायर, दो हत्या कर फरार हुए दो बदमाश

 रोहित गोदारा गैंग पर कसा जाएगा शिकंजा  हरियाणा समेत प्रदेशभर में बदमाशों के ठिकानों पर दबिश शुरू

Sukhdev Singh Gogamedi Murder Case: 7 मिनट बातचीत, 20 सैकंड में 17 राउंड फायर, दो हत्या कर फरार हुए दो बदमाश

श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के घर में घुसकर हत्या करने के मामले की खबर जैसे ही फैली तो आमजन से लेकर पुलिस प्रशासन में हड़कम्प मच गया।

जयपुर। श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के घर में घुसकर हत्या करने के मामले की खबर जैसे ही फैली तो आमजन से लेकर पुलिस प्रशासन में हड़कम्प मच गया। विरोध प्रदर्शन, धरना और आगजनी शुरू हो गई। पूरे पुलिस तंत्र को अलर्ट मोड पर लिया गया। इसी दौरान लॉरेंंस गैंग के गुर्गे रोहित गोदारा ने हत्याकांड की जिम्मेदारी लेते हुए पोस्ट सोशल मीडिया पर अपलोड कर दी। गोगामेड़ी के निवास स्थल के आसपास के लोगों में भय व्याप्त था। एक बारगी कोई भी कुछ भी कहने से डर रहा था। पुलिस ने घटनास्थल से एफएसएल की सहायता से साक्ष्य जुटाए हैं। हत्यारों की तलाश के लिए कई टीमें दबिश दे रही हैं। पुलिस ने तीन दर्जन लोगों को हिरासत में लेकर जांच की जा रही है। हत्या करने के लिए आरोपी एक बजकर 14 मिनट पर गोगामेड़ी के घर पहुंचे, करीब सात मिनट बैठकर बातचीत की, एक बजकर 10 सेकण्ड पर पहला फायर किया और 20 सेकण्ड में ताबड़तोड़ 17 राउण्ड फायर कर दो हत्या और तीन जनों को घायल कर दो बदमाश फरार हो गए। 

पहले कई बार मिल चुकी थी धमकी
लोगों का कहना है कि सुखदेव सिंह गोगामेड़ी को पहले कई बार धमकी मिली चुकी थी। इसको लेकर उन्होंने पुलिस को शिकायत दी थी कि मेरी जान को खतरा है। जब गोगामेड़ी की पत्नी कॉलोनी स्थित मंदिर में पूजा के लिए जाती थीं तो उनके साथ निजी गनमैन जाते थे। 

फिल्म निर्देशक भंसाली को थप्पड़ मारकर चर्चा में आए थे गोगामेड़ी
सुखदेव सिंह गोगामेड़ी करीब सात साल पहले फिल्म निर्देशक संजय लीला भंसाली को थप्पड़ मार कर चर्चा में आए थे। इससे पहले भी हनुमानगढ़ जिले में कोर्ट में सुनवाई के दौरान कटघरे को फांद कर भागने के बाद सुर्खियों में आ चुके थे। जयपुर में नाहरगढ़ फोर्ट में गत 28 जनवरी 2017 को फिल्म पद्मावती की शूटिंग चल रही थी। उस दौरान गोगामेड़ी अपने कुछ समर्थकों के साथ पहुंचे और फिल्म निर्देशक संजय लीला भंसाली को उन्हीं के सेट पर जाकर थप्पड़ मार दिया था। गोगामेड़ी ने इस फिल्म के खिलाफ  मोर्चा खोला तो देशभर में वह चर्चा में आ गए। इसके बाद भंसाली की फिल्म का पूरे देश में विरोध शुरू हो गया। फिल्म को राजस्थान में करणी सेना ने रिलीज भी नहीं होने दिया। इस विरोध से परेशान होकर फिल्म निर्माता ने फिल्म का नाम बदलकर पद्मावत करना पड़ा।    

लोकेंद्र सिंह कालवी और गोगामेड़ी के बीच विवाद 
राजपूत समाज के बड़े नेता के तौर पर पर पहचान रखने वाले लोकेंद्र सिंह कालवी ने करणी सेना में सुखदेव गोगामेड़ी की एंट्री करवाई थी। करीब 11 साल पहले 2012 में कालवी ने गोगामेड़ी को करणी सेना का अध्यक्ष बनाया था, लेकिन सुखदेव गोगामेड़ी के खिलाफ  कई अपराधिक मामले दर्ज होने के बाद उन्हें पद से हटाया गया। तभी से कालवी और गोगामेड़ी के बीच विवाद छिड़ गया था। गोगामेड़ी ने भादरा विधानसभा सीट पर बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी के रूप में चुनाव भी लड़ा था।

Read More नीट-यूजी में 18 लाख से अधिक हुए आवेदन

21 केस है दर्ज
मीडिया रिपोटर्स के अनुसार सुखदेव सिंह गोगामेड़ी पर 21 केस दर्ज हैं। इसमें से सात गंभीर आपराधिक मामले हैं। साल 2003 में हत्या के मामले में व 2013 में आर्म्स एक्ट में इन्हें दोषी ठहराया गया। साल 2016 में इनके खिलाफ  एक महिला ने यौन उत्पीड़न का भी केस किया था।

Read More देश के युवाओं एक बात नोट कर लो, मोदी की नीयत ही नहीं है रोजगार देने की: राहुल गांधी

रोहित गोदारा : राम-राम सभी भाईयों को
गोगामेड़ी की हत्या के बाद रोहित गोदारा ने सोशल मीडिया पर लिखा राम-राम भाइयों को, मैं रोहित गोदारा कपूरीसर, गोल्डी बरार, भाइयों आज यह जो सुखदेव गोगामेड़ी की हत्या हुई है, इसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी हम लेते हैं यह हत्या हमने करवाई है। भाइयों, मैं आपको बताना चाहता हूं कि यह हमारे दुश्मनों से मिलकर उनका सहयोग करता था! उनको पूर्ण रूप से मजबूत करने का काम करता था! और रही बात हमारे दुश्मनों की तो वह अपने घर की चौखट पर अपनी अर्थी तैयार रखें जल्दी उनसे भी मुलाकात होगी! गोदारा ने यह पोस्ट दस जनों को शेयर की है। पुलिस गोदारा के सोशल मीडिया की पोस्टम की सत्यता की जांच कर रही है। 

Read More राजस्व वसूली का टारगेट पूरा करने में जुटा परिवहन विभाग

कौन है रोहित गोदारा 
गोगामेड़ी की हत्या की जिम्मेदारी लेने वाला गैंगस्टर रोहित गोदारा गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई की गैंग का गुर्गा है। इस पर एक लाख रुपए का इनाम घोषित कर रखा है। गोदारा 2022 में फर्जी नाम से पासपोर्ट बनवाकर देश से बाहर भाग गया था। गोदारा विदेश जाने से पहले बीकानेर के लूणकरणसर में कपूरियासर में रहता था। चूरू के सरदारशहर में 2019 में भींवराज सारण की हत्या के मामले में भी मुख्य आरोपी था। गैंगस्टर राजू ठेहट के मर्डर की भी गोदारा ने जिम्मेदारी ली थी। इसने जयपुर के कई बड़े लोगों को फिरौंती के लिए भी धमकाया है। 

राजपूत करणी सेना ने जताया रोष 
गोगामेड़ी की हत्या पर राजपूत करणी सेना ने बुधवार को बड़ी संख्या में विरोध प्रदर्शन में शामिल होने का आह्वान किया है। राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष प्रताप कालवी ने कहा कि काफी समय से गोगामेड़ी अपनी सुरक्षा की गुहार सरकार से लगा रहे थे, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। 

इस तरह दिन दहाड़े समाज के लोगों की हत्या करने से सम्पूर्ण समाज में भारी रोष है। हमारी मांग है प्रशासन आरोपियों को पकड़कर उनको भी वैसी ही सजा दे।

 

Post Comment

Comment List

Latest News