क्लब हाउस चैट वायरल: दिग्विजय सिंह बोले- कांग्रेस सत्ता में आई तो 370 हटाने के फैसले पर करेंगे पुनर्विचार

क्लब हाउस चैट वायरल: दिग्विजय सिंह बोले- कांग्रेस सत्ता में आई तो 370 हटाने के फैसले पर करेंगे पुनर्विचार

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह अनुच्छेद 370 को लेकर एक बार फिर विवादों में घिर गए हैं। बीजेपी ने कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह का एक क्लब हाउस चैट का ऑडियो जारी किया है, जिसमें दिग्विजय सिंह अनुच्छेद-370 पर बात कर रहे हैं। ऑडियो में दिग्विजय कहते सुनाई दे रहे हैं कि अगर कांग्रेस सत्ता में वापस आती है तो 370 हटाने के फैसले पर दोबारा विचार किया जाएगा।

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह अनुच्छेद 370 को लेकर एक बार फिर विवादों में घिर गए हैं। बीजेपी ने कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह का एक क्लब हाउस चैट का ऑडियो जारी किया है, जिसमें दिग्विजय सिंह अनुच्छेद-370 पर बात कर रहे हैं। ऑडियो में दिग्विजय कहते सुनाई दे रहे हैं कि अगर कांग्रेस सत्ता में वापस आती है तो 370 हटाने के फैसले पर दोबारा विचार किया जाएगा। दावा किया जा रहा है कि दिग्विजय की क्लब हाउस चैट में एक पाकिस्तानी रिपोर्टर भी मौजूद था। इस ऑडियो को लेकर भाजपा ने दिग्विजय सिंह पर हमला बोला है। भाजपा ने कहा कि यही तो पाकिस्तान चाहता है।

भाजपा आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय ने क्लब हाउस चैट का एक हिस्सा ट्विटर पर शेयर करते हुए दिग्विजय सिंह पर हमला बोला। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि क्लब हाउस चैट में राहुल गांधी के शीर्ष सहयोगी दिग्विजय सिंह एक पाकिस्तानी पत्रकार से कहते हैं कि अगर कांग्रेस सत्ता में आती है तो वे अनुच्छेद 370 को निरस्त करने के फैसले पर पुनर्विचार करेंगे। वास्तव में? यही तो पाकिस्तान चाहता है। केंद्रीय मंत्रि गिरिराज सिंह ने वायरल चैट को लेकर ट्वीट कर कहा कि कांग्रेस का पहला प्यार पाकिस्तान है। दिग्विजय सिंह ने राहुल गांधी का संदेश पाकिस्तान तक पहुंचाया है। कांग्रेस कश्मीर को हथियाने में पाकिस्तान की मदद करेगी।

 

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कांग्रेस ही थी जिसने कश्मीर में धारा 370 लगाने का पाप किया। कांग्रेस अब फिर पाकिस्तान की भाषा बोल रही है। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह कहते हैं कि धारा 370 हटाने पर पुनर्विचार किया जाएगा। कांग्रेस क्या पुनर्विचार करेगी, क्या धारा 370 थोप कर अलगाववाद को हवा देगी। उधर नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला ने कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के क्लब हाउस में दिए बयान पर कहा कि मैं दिग्विजय सिंह जी का बहुत आभारी हूं। उन्होंने लोगों की भावनाओं को महसूस किया है। मैं उम्मीद करता हूं कि सरकार इस पर दोबारा गौर करेगी।

इस चैट में दिग्विजय कहते सुनाई दे रहे हैं कि जब उन्होंने कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाया तो वहां लोकतंत्र नहीं था। वहां इंसानियत भी नहीं थी, क्योंकि सभी को को जेल में बंद कर दिया गया था।कश्मीरियत वहां के सेक्युलरिज्म का हिस्सा है, क्योंकि मुस्लिम बहुल राज्य का राजा हिंदू था और दोनों साथ मिलकर काम किया करते थे। यहां तक कि कश्मीर में कश्मीरी पंडितों को सरकारी नौकरी में आरक्षण दिया गया था। ऐसे में आर्टिकल 370 को हटाने का फैसला बेहद दुखद था और कांग्रेस जब सत्ता में आएगी तो 370 हटाने के फैसले पर दोबारा विचार करेगी।

Read More कॉलेजियम की सिफारिशों पर फैसला करे केंद्र सरकार : सुप्रीम कोर्ट

Post Comment

Comment List

Latest News