PTET परीक्षा सेंटरों पर जूते-चप्पल उतार कर जांच

जोधपुर में 88 सेंटर पर परीक्षा शुरू, कड़ी सुरक्षा के बंदोबस्त

PTET परीक्षा सेंटरों पर जूते-चप्पल उतार कर जांच

जोधपुर प्री टीचर एजुकेशन टेस्ट (PTET) देने आज जोधपुर के 88 सेंटर पर स्टूडेंट पहुंचे। चेकिंग के बाद उन्हें एग्जाम सेंटर पर प्रवेश दिया गया। शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालयों में बीएड, 4 वर्षीय इंटीग्रेटेड बीए बीएड व बीएससी बीएड पाठ्यक्रम में प्रवेश लेने के लिए आयोजित इस प्रवेश परीक्षा में रविवार सुबह 11:30 बजे से शुरु हुई।

PTET परीक्षा सेंटरों पर जूते-चप्पल उतरवा कर जांच:जोधपुर में 88 सेंटर पर परीक्षा शुरू, कड़ी सुरक्षा के बंदोबस्त

जोधपुर प्री टीचर एजुकेशन टेस्ट (PTET) देने आज जोधपुर के 88 सेंटर पर स्टूडेंट पहुंचे। चेकिंग के बाद उन्हें एग्जाम सेंटर पर प्रवेश दिया गया। शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालयों में बीएड, 4 वर्षीय इंटीग्रेटेड बीए बीएड व बीएससी बीएड पाठ्यक्रम में प्रवेश लेने के लिए आयोजित इस प्रवेश परीक्षा में रविवार सुबह 11:30 बजे से शुरु हुई।

सेंटर पर परीक्षार्थियों की लम्बी कतारें नजर आईं। एग्जाम से एक घंटे पहले सेंटर पर परीक्षार्थी पहुंचे। कोविड नियमों की पालना के साथ सेंटर में प्रवेश दिया गया। परीक्षार्थियों को सेंटर के अंदर मोबाइल, ब्लूटूथ, स्मार्टवॉच, ईयरफोन, पर्स, थैला, काला चश्मा, बंद जूते व गहने ले जाने की अनुमति नहीं थी। ऐसे में स्टूडेंट्स की जांच की गई। यहां तक कि चप्पल जूते भी सेंटर के बाहर ही उतारने को कहा गया। सिर्फ सिंपल चप्पल को अलाउ किया गया। आधी बांह के कपड़ों में स्टूडेंट परीक्षा देने पहुंचे। सुबह 11:30 से शुरु हुई परीक्षा दोपहर 2:30 बजे तक चलेगी। बता दें कि PTET एग्जाम के लिए प्रदेश में 1558 केंद्र बनाए गए हैं। इन केंद्रों पर 5,44,337 परीक्षार्थी परीक्षा में बैठे। जोधपुर में 88 केंद्र बनाए गए हैं।

Read More 300 करोड़ से होगा जर्जर स्कूलों का कायाकल्प

Post Comment

Comment List

Latest News