छात्रा को कुचलने के बाद जागे जिम्मेदार

बेलगाम सिटी बसों पर लगाम की कवायद, मोबाइल मजिस्ट्रेट ने की स्पीड गवर्नर को लेकर कार्रवाई

छात्रा को कुचलने के बाद जागे जिम्मेदार

जोधपुर में 3 जुलाई रविवार को सड़क हादसे में सिटी बस ने छात्रा को कुचल दिया था। तेज स्पीड से चल रही बस से टक्कर के बाद यह हादसा हुआ। इसके बाद अब जिम्मेदारों की आंख खुली है और बेलगाम सिटी बसों को लेकर कार्रवाई की जा रही है।

जोधपुर। जोधपुर में 3 जुलाई रविवार को सड़क हादसे में सिटी बस ने छात्रा को कुचल दिया था। तेज स्पीड से चल रही बस से टक्कर के बाद यह हादसा हुआ। इसके बाद अब जिम्मेदारों की आंख खुली है और बेलगाम सिटी बसों को लेकर कार्रवाई की जा रही है।

गुरूवार को मोबाइल मजिस्ट्रेट हिमांशु कुमावत ने सिटी बसों की स्पीड गवर्नर को लेकर कार्रवाई की। पावटा चौराहे पर मजिस्ट्रेट ने कार्रवाई की और तेज स्पीड में आने वाली बसों को सीज कर दिया।बता दें कि शहर की सड़कों पर तेज रफ्तार में दौड़ती सिटी बसों से आए दिन हादसे होते हैं। लेकिन इन सिटी बसों की रफ्तार पर नकेल कसने की कवायद हर बार नाकाफी ही नजर आई। कार्रवाई के दौरान सिटी बस संचालक रूल फॉलो करते नजर आते हैं लेकिन कुछ दिनों बाद उनकी वही रफ्तार शुरु हाे जाती है। बता दें कि जोधपुर के कुल 11 मार्गों पर 658 सिटी बसें चल रही हैं। इनमें पाल चुंगी नाके से आयुर्वेद विश्वविद्यालय व गुरों के तालाब से आयुर्वेद विश्वविद्यालयके लिए करीब 129 बसों के परमिट हैं।

इसी तरह बोरानाडा से नांदडा कलां के लिए 105 बसे चल रही हैं। चांदपोल से मंडोर केके फिलिंग स्टेशन मंडलनाथ फांटा व एयरफोर्स गुरुद्वारे से मंडोर औद्योगिक क्षेत्र के लिए 24 बसों को परमिट दिया हुआ है। इन बसों में स्पीड गवर्नर नहीं हो रहा था। जिम्मेदार परिवहन विभाग ने पिछले तीन माह में मात्र 95 चालान ही स्पीड को लेकर काटे हैं। ऐसे में इन सिटी बसों के चालक नियम तोड़ते नजर आते हैं। वहीं सवारियां लेने की होड़ में यह चालक सड़क पर बसें दौड़ाते हैं। लंबे समय से शिकायत के बाद गुरुवार को मोबाइल मजिस्ट्रेट ने खुद कार्रवाई की।

Post Comment

Comment List

Latest News