सीएम के बड़े भाई को ईडी ने किया तीसरी बार तलब

सीएम के बड़े भाई को ईडी ने किया तीसरी बार तलब

किसानों का सब्सिडी वाला फर्टिलाइजर विदेश निर्यात करने के आरोप

नई दिल्ली। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बड़े भाई अग्रसेन गहलोत को फर्टिलाइजर घोटाले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने तीसरी बार पूछताछ के लिए नई दिल्ली तलब किया है। बीते 15 दिनों के भीतर ईडी के दिल्ली स्थित कार्यालय में अग्रसेन गहलोत अपने वकीलों के साथ पेश हुए। ईडी की पूछताछ पर अग्रसेन गहलोत ने कहा कि वह समझ नहीं पा रहे हैं कि ईडी उन्हें बार-बार क्यों बुला रही है। जबकि किसी भी मामले में मेरे खिलाफ कोई सबूत नहीं हैं। गौरतलब है कि ईडी द्वारा अग्रसेन गहलोत से इससे पहले 30 सितंबर और 27 सितंबर को पूछताछ हो चुकी है। बीती 27 सितंबर को अग्रसेन गहलोत से फर्टिलाइजर घोटाले में ईडी ने पूछताछ की थी। पिछले साल जुलाई में ईडी ने अग्रसेन गहलोत के खिलाफ मामला दर्ज किया था। ईडी ने उनके जोधपुर में फार्म हाउस और फर्मो पर ईडी ने छापेमारी की थी।


गिरफ्तारी पर रोक : राजस्थान हाईकोर्ट की जोधपुर बेंच ने अग्रसेन गहलोत की गिरफ्तारी पर रोक लगा रखी है। ऐसे में राज्य हाईकोर्ट की रोक जारी रहने तक ईडी अग्रसेन गहलोत को गिरफ्तार नहीं कर सकती। हाईकोर्ट ने गहलोत को गिरफ्तारी से राहत देते हुए ईडी की जांच में सहयोग करने को कहा था।


यह हैं आरोप
अग्रसेन गहलोत पर किसानों को सब्सिडी पर दिए जाने वाले फर्टिलाइजर को गलत तरीके से महंगे दाम पर निर्यात करने का आरोप है। ईडी के अनुसार, अग्रसेन गहलोत की कंपनी ने सब्सिडी वाले फर्टिलाइजर की बड़ी खेप केमिकल बताकर मलेशिया सहित कई देशों को निर्यात की थी। ईडी द्वारा अग्रसेन गहलोत पर इंडियन पोटाश लिमिटेड के डीलर रहते हुए किसानों को बांटा जाने वाला फर्टिलाइजर गैर कानूनी तरीके से साल 2007 से 2009 के बीच निर्यात करने के आरोप हैं।

Post Comment

Comment List

Latest News