कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव का निधन

करीब 40 दिन तक ज़िंदगी की जंग लड़ते रहे राजू

कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव का निधन

राजू श्रीवास्तव को तबीयत खराब होने पर गत 10 अगस्त को एम्स में भर्ती कराया गया था। अस्पताल में उनकी हालत ज्यादा समय तक गंभीर बनी रही और उन्हें वेंटिलेटर पर रखना पड़ा।

नई दिल्ली। पिछले एक महीने से भी अधिक समय से बीमार चल रहे मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव का बुधवार को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में निधन हो गया। वह 58 साल के थे। उनके परिवार में पत्नी, एक बेटी और एक बेटा है। राजू श्रीवास्तव को तबीयत खराब होने पर गत 10 अगस्त को एम्स में भर्ती कराया गया था।

अस्पताल में उनकी हालत ज्यादा समय तक गंभीर बनी रही और उन्हें वेंटिलेटर पर रखना पड़ा। करीब 40 दिन तक बीमारी से जूझने के बाद उन्होंने आज अंतिम सांस ली। राजू श्रीवास्तव भारतीय जनता पार्टी से जुड़े हुए थे और वह पार्टी नेताओं से मिलने के लिए यहां आए थे। उसके बाद अचानक उनकी यहीं तबीयत खराब हो गई जिसके बाद उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया।

राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने हास्य कलाकार राजू श्रीवास्तव के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त करते हुए उनकी पुण्यात्मा की शांति के लिए प्रार्थना की है। राज्यपाल ने शोक संतप्त परिजनों को यह आघात सहने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से कामना भी की है।

Read More कश्मीर में सड़क हादसे में एक ही परिवार के 3 लोगों की मौत 

वहीं लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने भी राजू श्रीवास्तव के निधन पर शोक जताया। बिरला ने कहा कि हास्य का उनका अनूठा अंदाज लोगों के चेहरों पर मुस्कान सजाता था। राजू ने समूचे विश्व में अपनी एक अलग पहचान स्थापित की थी। उनका निधन कला क्षेत्र के लिए अपूरणीय क्षति है।

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News

रॉकेट दागने के जवाब में इजरायल ने गाजा पर हवाई हमला किया रॉकेट दागने के जवाब में इजरायल ने गाजा पर हवाई हमला किया
फलिस्तीनी चिकित्सा सूत्रों ने कहा कि मुख्य रूप से इस्लामी प्रतिरोध आंदोलन (हमास) और फ़ििलस्तीनी इस्लामिक जिहाद (पीआईजे) को लक्षित...
भारत जोड़ो यात्रा: स्थानीय कार्यकर्ताओं ने नहीं लगने दिए एआईसीसी के बैनर-पोस्टर
भारत जोड़ो यात्रा से प्रभावित होंगी पांच लोकसभा सीटें
फर्जी पट्टा बनाने वाले गिरोह का सरगना गिरफ्तार
अवैध संबंधों के शक में युवती को पिलाया कीटनाशक, मौत
हेमा देवड़ा और जय जवान जय किसान टीमें शीर्ष पर
सात साल बाद बांग्लादेश में वनडे खेलेगा भारत, पहला मैच आज