झारखंड की दो 'केराकत' ने यूथ गेम्स में जमाया रंग

फिल्म चक दे इंडिया के पात्रों से मिलती जुलती कहानी

झारखंड की दो 'केराकत' ने यूथ गेम्स में जमाया रंग

रजनी केरकेता (जूनियर) रांची के पास बरियातू की रहने वाली हैं और पहली बार खेलो इंडिया यूथ गेम्स में भाग ले रही हैं।

ग्वालियर। वर्ष 2007 में रिलीज हुई महिला हाकी पर आधारित बालीवुड फिल्म 'चक दे इंडिया' की किरदार सोईमोई केरकेता से प्रेरणा लेकर खेलो इंडिया यूथ गेम्स (मध्यप्रदेश) में झारखंड के गरीब किसान परिवार की दो खिलाड़ी अपने जिले का नाम रोशन करने पहुंची हैं। चक दे इंडिया में निशा नायर ने झारखंड की खिलाड़ी सोइमोई केरकेता का किरदार निभाया था। फिल्म ने झारखंड में हॉकी की नर्सरी माने जाने वाले सिमडेगा की कई लड़कियों को प्रभावित किया, जिनमें से कुछ का जीवन रील पात्र केरकेता से काफी कुछ मिलता जुलता है। खेलो इंडिया यूथ गेम्स खेलने ग्वालियर पहुंची झारखंड महिला हॉकी टीम के पास दो केरकेता हैं। दोनों को रजनी कहा जाता है और दोनों के पिता किसान हैं और दोनों भारत के लिए खेलना चाहते हैं। फर्क सिर्फ इतना है कि एक खेलो इंडिया में पहली बार भाग ले रहा है और दूसरा पांचवीं बार।

रजनी केरकेता (जूनियर) रांची के पास बरियातू की रहने वाली हैं और पहली बार खेलो इंडिया यूथ गेम्स में भाग ले रही हैं। 14 साल की रजनी इसे लेकर काफी उत्साहित हैं हालांकि उन्हें खेलो इंडिया यूथ गेम्स और वहां मिलने वाली सुविधाओं के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है। रजनी केरकेटा (जूनियर) ने कहा कि यह मेरा पहला खेलो इंडिया यूथ गेम्स है। मैं इसे लेकर रोमांचित हूं। मैं बरियातू हॉस्टल में रहती हूं और वहां प्रैक्टिस करता हूं। मैंने दीदी (सीनियर खिलाड़ी) से खेलो इंडिया यूथ गेम्स के बारे में बहुत कुछ सुना है। मैं यहां खेलकर रोमांचित हूं।

वहीं रजनी केरकेटा (सीनियर) एकलव्य में रहती हैं और अपने पांचवें खेलो इंडिया के लिए ग्वालियर पहुंची हैं। वह 2018 से 2021 तक चार बार खेलो इंडिया यूथ गेम्स में खेल चुकी हैं। रजनी ने कहा, ''यह मेरा पांचवां खेलो इंडिया है। मैं सिमडेगा से हूँ और मेरे पिता एक किसान हैं। मेरा एक भाई है, वह खेती में मेरे पिता की मदद करता है।''

रजनी ने बताया कि झारखंड की टीम ने दिल्ली, पुणे और गुवाहाटी में दूसरा स्थान हासिल किया था। पंचकूला में टीम को कांस्य मिला। रजनी ने कहा, 'हमें अब तक तीन रजत और एक कांस्य मिला है। मैंने पंचकूला में 8 गोल किए। मैं टूर्नामेंट का शीर्ष हॉकी खिलाड़ी बन गयी हूं।' रजनी ने कहा कि जब वह चौथी कक्षा में थी तब उसने खेलना शुरू किया और 2022 में रांची एक्सीलेंसी अकादमी में शामिल हो गई, जिसे खिलाड़ी बोलचाल की भाषा में एकलव्य अकादमी कहते हैं। रजनी ने कहा कि हॉकी खेलने के लिए उनके पिता प्रेरणा के मुख्य स्रोत हैं। रजनी ने यह भी कहा कि वह भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल को अपना आदर्श मानती हैं।

Read More IND vs ENG Test Series: चौथे टेस्ट में बुमराह को आराम

खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2022 की मेजबानी मध्य प्रदेश कर रहा है, जहां वाटर स्पोर्ट्स को एक नए खेल के रूप में शामिल किया गया है। साथ ही पांच पारंपरिक खेल भी इसकी खूबसूरती बढ़ा रहे हैं। इनमें मध्य प्रदेश का राजकीय खेल मलखंभ भी है। मध्यप्रदेश के 8 शहरों में हो रहे 27 खेलों व एक ट्रैक साइकिलिंग इवेंट में 6000 से अधिक खिलाड़ी भाग ले रहे हैं।

Read More खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी प्रतियोगिता में निशानेबाजों ने जीता कांस्य पदक

Tags: hockey

Post Comment

Comment List

Latest News

खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी प्रतियोगिता में निशानेबाजों ने जीता कांस्य पदक खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी प्रतियोगिता में निशानेबाजों ने जीता कांस्य पदक
इन खिलाड़ियों ने 22 स्मॉल बॉल राइफल थ्री पोजीशन इवेंट में कांस्य पदक पर कब्जा किया। हर्षवर्धन सिंह नरूका ने...
नदी में पलटी नाव, बचाव अभियान में 2 पुलिस अधिकारियों की मौत
एयरपोर्ट से तय समय पर नहीं हो रहा है विमानों का संचालन
मनोज पांडे ने सपा के मुख्य सचेतक पद से दिया इस्तीफा, क्रास वोटिंग की आशंका
जमीन विवाद में खूनी संघर्ष, दो की मौत
दुनियाभर में स्वास्थ्य के प्रति बढ़ती सजगता
बॉडी बनाने के लिए खाए जिंक के 39 सिक्के और 37 चुंबक के टुकड़े, पेट में जाकर आंत में फंसे