रिंकू की तारीफ के लिए शब्द नहीं हैं : नीतीश

केकेआर ने अपना सीजन 14 मैचों में छह जीत और आठ हार के साथ समाप्त किया

रिंकू की तारीफ के लिए शब्द नहीं हैं : नीतीश

नीतीश ने रिंकू की तारीफ करते हुए कहा, मुझे ऐसा लगता है कि मैंने सभी मैचों के बाद रिंकू की ही बात की है। मेरे पास उसकी तारीफ करने के लिये शब्द नहीं हैं।

कोलकाता। लखनऊ सुपर जायंट्स के हाथों रोमांचक मुकाबले में एक रन की हार के बावजूद कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के कप्तान नीतीश राणा मध्यक्रम के बल्लेबाज रिंकू सिंह के साहसी प्रयास की तारीफ करने से नहीं चूके। 

लखनऊ ने शनिवार रात खेले गये मुकाबले में केकेआर को एक रन से हराकर प्लेऑफ में जगह बनायी, जबकि केकेआर ने अपना सीजन 14 मैचों में छह जीत और आठ हार के साथ समाप्त किया। नीतीश ने कहा कि वह रिंकू के लिये बहुत खुश हैं और उनके पास उत्तर प्रदेश के इस युवा खिलाड़ी की तारीफ के लिये शब्द नहीं हैं।

नीतीश ने मैच के बाद कहा, मैच हमारे पक्ष में नहीं गया, लेकिन हम इस हार से काफी कुछ सीख सकते हैं और सुधार की भी बहुत गुंजाइश है। हम अगले सीजन में मजबूत टीम बनकर लौटेंगे। आपको प्लेऑफ में पहुंचने के लिये तीनों (बल्लेबाजी, गेंदबाजी, फील्डिंग) मोर्चों पर अच्छा प्रदर्शन करना होता है। मुझे बुरा लग रहा है क्योंकि हमारे पास शीर्ष चार में पहुंचने की क्षमता थी, लेकिन हम अपनी गलतियों की वजह से वहां नहीं पहुंच सके।

केकेआर को जब दो ओवर में 41 रन की जरूरत थी तब रिंकू ने 19वें ओवर में नवीन उल हक के खिलाफ 20 रन जोड़े। आखिरी ओवर में जीत से 21 रन दूर केकेआर को यश ठाकुर की कसी हुई गेंदबाजी का सामना करना पड़ा। ठाकुर ने शुरुआती तीन गेंदों पर सिर्फ तीन रन दिये। रिंकू ने चौथी गेंद पर छक्का जड़ा, लेकिन पांचवीं गेंद पर चौका लगने के कारण केकेआर की हार लगभग सुनिश्चित हो गयी।

Read More IND vs ENG 5th Test: बुमराह टीम में, चोट के कारण राहुल हुए बाहर

केकेआर को आखिरी गेंद पर आठ रन की जरूरत थी और रिंकू छक्का लगाने के बावजूद अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके। वह अपनी जुझारू पारी में 33 गेंद पर छह चौकों और चार छक्कों के साथ 67 रन बनाकर नाबाद रहे। 

Read More खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी प्रतियोगिता में निशानेबाजों ने जीता कांस्य पदक

नीतीश ने रिंकू की तारीफ करते हुए कहा, मुझे ऐसा लगता है कि मैंने सभी मैचों के बाद रिंकू की ही बात की है। मेरे पास उसकी तारीफ करने के लिये शब्द नहीं हैं। अगर वह ऐसी परिस्थिति में इतनी अच्छी बल्लेबाजी कर सकता है तो वह कुछ भी कर सकता है। मैं उसके लिये बहुत खुश हूं क्योंकि उसने बहुत मेहनत की है। अब पूरी दुनिया देख रही है कि वह क्या करने की क्षमता रखता है।

Read More यशस्वी टेस्ट बल्लेबाजी रैकिंग में 12वें स्थान पर पहुंचे

Post Comment

Comment List

Latest News