राजस्थान सरकार ने जल जीवन मिशन को गंभीरता से लागू नहीं कियाः गजेन्द्र सिंह शेखावत

राज्य सरकार पर लगाया तुष्टिकरण का आरोप

राजस्थान सरकार ने जल जीवन मिशन को गंभीरता से लागू नहीं कियाः गजेन्द्र सिंह शेखावत

उन्होंने कहा कि साल 2014 में राजस्थान में केवल 11 फीसदी घरों को ही नल से जल पहुंचता था। जो अब बढ़कर 39 फीसदी तक हो गया है।

नवज्योति ब्यूरो, नई दिल्ली। केन्द्रीय जलशक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने आरोप लगाया है कि राजस्थान की कांग्रेस सरकार ने केन्द्रीय योजना जल जीवन मिशन पर गंभीरता से काम करने के बजाए पूरा समय अपनी कुर्सी बचाने का ही काम किया है। उन्होंने कहा कि देश के अन्य राज्यों के मुकाबले इस योजना के तहत राजस्थान को सबसे ज्यादा धन आवंटित किया गया। लेकिन राज्य सरकार ने इसका ठीक से उपयोग नहीं किया। केन्द्रीय मंत्री शेखावत ने यह बात आज यहां नई दिलली में पत्रकारों से बातचीत में कही।

उन्होंने कहा कि साल 2014 में राजस्थान में केवल 11 फीसदी घरों को ही नल से जल पहुंचता था। जो अब बढ़कर 39 फीसदी तक हो गया है। जबकि इस अवधि में देश के कई राज्य ऐसे जहां सौ फीसदी घरों में नल से जल पहुंच गया है।

‘अजमेर-92’ फिल्म का विरोध क्यों?
केन्द्रीय मंत्री शेखावत ने ‘अजमेर-92’ फिल्म के विरोध पर भी सवाल किया। उन्होंने आरोप लगाया कि यह राज्य सरकार द्वारा लगातार की जा रही तुष्टिकरण की नीति का ही परिणाम है, जो कुछ लोग इसको बैन करने की मांग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि नब्बे के दशक में अजमेर में हुए जिस मामले ने सैंकड़ों मासूम लड़कियों एवं घरों को बर्बाद करने का काम किया हो और अगर उसकी सच्चाई सामने आ रही है। तो कुछ लोगों को तकलीफ क्यों हो रही है? वह इसको बैन करने की मांग क्यों कर रहे हैं?

सीएम का मुझ पर ज्यादा स्नेह
संजीवनी क्रेडिट सोसायटी मामले पर लगातार सीएम अशोक गहलोत के निशाने पर रहे गजेन्द्र सिंह शेखावत ने कहा कि असल में उनका मुझ पर कुछ ज्यादा ही स्नेह है। इसीलिए निरंतर बेबुनियाद आरोप लगाते हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने इस मामले को सीबीआई को क्यों नहीं सौंपा? क्योंकि यह एक से ज्यादा राज्यों का मामला है। इसी प्रकार प्रदेश में संजीवनी के निवेशकों का पैसा सरकार ने लौटाने का प्रयास क्यों नहीं किया? उन्होंने आरोप लगाया कि केवल व्यक्ति विशेष को इस मामले में फंसाने के लिए यह सब हो रहा है। इससे ज्यादा और कुछ नहीं। उन्होंने बताया कि 2019 में नरेन्द्र मोदी को पीएम बनाने के लिए जोधपुर की जनता नेमुझे सांसद के रुप में चुना। जिससे उनके बेटे की हार हुई। इसकी तकलीफ उनको अभी तक हो रही है।

Read More कश्मीर में सड़क से फिसलकर खाई में गिरा वाहन, एक ही परिवार के 4 लोगों की मौत

राज्य की कानून व्यवस्था पर उठाया सवाल
गजेन्द्र सिंह ने आरोप लगाया कि कांग्रेस सरकार में राज्य की कानून वयवस्था बद से  बदतर हुई है। इसीलिए इन कमियों को ढांकने के लिए सरकार लगातार कई मुफ्त की योजनाओं की घोषणा कर रही है। लेकिन यह सब झुनझुना साबित होंगी। क्योंकि आम जनता सब जानती है। वह इसके प्रभाव में नहीं आएगी। कांग्रेस सरकार के शासन में जनता को कई परेशानियों का सामना करना पड़ा है।

Read More रेलवे 25 मार्गों पर चलाएगा जुड़वां ट्रेनें

Post Comment

Comment List

Latest News

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी किस कारण हुई निष्क्रिय, मोदी सरकार ने धारण किया मौनव्रत : खड़गे राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी किस कारण हुई निष्क्रिय, मोदी सरकार ने धारण किया मौनव्रत : खड़गे
वह किस वजह से निष्क्रिय हुई है। इस बारे में सरकार को स्पष्टीकरण देना चाहिए। खड़गे ने कहा कि नरेंद्र...
प्राचीनकाल से राष्ट्र धर्म निभा रहा है राव राजपूत समाज : भजनलाल
जन आकांक्षाओं पर शत-प्रतिशत खरा उतरेगा लोक कल्याणकारी बजट, सरकार ने हर तबके को दी सौगातें : जोगाराम
रेलवे पुल पर फोटो शूट करवा रहे थे दंपती, ट्रेन आती देख 90 फीट गहरी खाई में लगाई छलांग
लोकसभा में गौरव गोगोई बने कांग्रेस के उपनेता, सुरेश को नियुक्त किया मुख्य सचेतक
सोमालिया में जेल से भागने की कोशिश कर रहे कैदियों पर फायरिंग, 8 लोगों की मौत
शॉर्ट फिल्म झूठन की शूटिंग पूरी