मिर्गी के दौरों के गंभीर  मरीजों की अब एसएमएस में ही हो सकेगी मोनिटरिंग

एप्लिप्सी मॉनीटरिंग यूनिट की शुरूआत 

मिर्गी के दौरों के गंभीर  मरीजों की अब एसएमएस में ही हो सकेगी मोनिटरिंग

सवाई मानसिंह चिकित्सालय जयपुर के न्यूरोलॉजी विभाग में आज शुक्रवार को विधिवत रूप से एप्लेिप्सी मॉनीटरिंग यूनिट का उदघाटन विधायक आदर्श नगर रफीक खान ने किया।

जयपुर। सवाई मानसिंह चिकित्सालय जयपुर के न्यूरोलॉजी विभाग में आज शुक्रवार को विधिवत रूप से एप्लेिप्सी मॉनीटरिंग यूनिट का उदघाटन विधायक आदर्श नगर रफीक खान ने किया। इस अवसर पर अस्पताल अधीक्षक डॉ अचल शर्मा, न्यूरोलॉजी आचार्य एवं विभागाध्यक्ष डॉ भावना शर्मा, डॉ आर एस जैन, डॉ अरविंद व्यास, डॉ बी एल कुमावत, डॉ त्रिलोचन श्रीवास्तव, डॉ दिनेश खण्डेलवाल, डॉ दीपक जैन, डॉ राकेश अग्रवाल, डॉ किशोर कुमार एवं डॉ वासुदेव शरण पाराशर उपस्थित रहे।

डॉ. अचल शर्मा ने बताया कि एप्लेिप्सी मॉनीटरिंग यूनिट एक ऐसी यूनिट है जिसमें एडवांस्ड ईईजी मशीनो द्वारा मरीज के दिमाग के क्षतिग्रस्त हिस्से को वीडियो एवं ईईजी के मध्य संबंध स्थापित करके अध्ध्यन किया जाता है जिससे यह पता लगाने में सुविधा होती है कि दौरे के प्रकार के अनुसार मरीज के दिमाग के किस हिस्से में खराबी हुई है। इससे मिर्गी के उन मरीजो को चिन्हित किया जा सकता है जिनमें दौरे की कई प्रकार की दवाईयो के कॉम्बिनेशन से भी ठीक नहीं किया जा सकता है एवं उन्हें इस हेतु सर्जरी का सहारा लेना पडता हैं ऐसे मरीजो को डिपार्टमेंट ऑफ न्यूरोसाइंस के तहत चिन्हित कर न्यूरोलॉजी एवं न्यूरोसर्जरी विभाग के चिकित्सको के पैनल द्वारा विस्तृत चर्चा के बाद उनकी सर्जरी की जा सकेगी।

यह सुविधा अभी राजस्थान के किसी भी अस्पताल में उपलब्ध नहीं है व इसकी राजस्थान में शुरूआत सर्वप्रथम न्यूरोलॉजी विभाग सवाई मानसिंह चिकित्सालय जयपुर में की गयी है यह विभाग की तरक्की के नये आयाम स्थापित करेगा।

Post Comment

Comment List

Latest News

जन भागीदारी विकास योजना में फंड आवंटित, परिसम्पत्ति सृजन के अटके काम शुरू होंगे जन भागीदारी विकास योजना में फंड आवंटित, परिसम्पत्ति सृजन के अटके काम शुरू होंगे
ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग ने महात्मा गांधी जन भागीदारी विकास योजना में 33 जिलों को 20 करोड़ रुपए का...
संग्रहाध्यक्ष, खोज व उत्खनन अधिकारी प्रतियोगी परीक्षा-2023 होगी 19 जून को
NDA Government राजस्थान पर मेहरबान, केंद्र ने राज्य को जारी किए 8421.38 करोड़
बाड़मेर-ऋषिकेश एक्सप्रेस रेलसेवा एलएचबी रैक से संचालित होगी
राज्यवर्धन ने सूचना सहायक पदों की संख्या बढ़ाई
कांग्रेस ने आंध्रप्रदेश के विशेष दर्जे पर मोदी से मांगा स्पष्टीकरण
सीएम को लिखा पत्र : निकायों का पुनः परिसीमांकन एवं वार्डों की संख्या के निर्धारण का कार्य पारदर्शी तरीके से हो: राजेंद्र राठौड़