भारतीय ओपनर्स ने सही एप्रोच के साथ बल्लेबाजी की: सुनील गावस्कर

दोनों ओपनर्स ने न केवल पाकिस्तान के नई गेंद के आक्रमण को दबाव में ला दिया बल्कि टीम को बैकफुट पर भी धकेल दिया। जहां शुभमन गिल ने कई खूबसूरत शॉट्स लगाए वहीं कप्तान रोहित शर्मा ने नसीम शाह के खिलाफ जबरदस्त प्रतिबद्धता दिखाई।

बारिश में धुला मैच कई बार मुकाबला हार जाने से बेहतर होता है क्योंकि इससे दोनों टीमों को बराबर अंक मिल जाते हैं। ग्रुप स्टेज पर जब टीम इंडिया की बल्लेबाजी के बाद भारत-पाकिस्तान मैच बारिश से धुल गया तो कई प्रशंसकों ने ये सोचकर राहत की सांस ली होगी कि भारत-नेपाल मैच बारिश की भेंट चढ़ भी जाए तब भी टीम इंडिया का सुपर-4 में प्रवेश तय है। 

अगर मामला नेट रनरेट पर आ जाता तब भी भारत अगले चरण में पहुंचने में कामयाब होता क्योंकि उसने पाकिस्तान के खिलाफ 266 रनों का अच्छा स्कोर बनाया था। यानी ग्रुप चरण इस तरह बनाया गया था कि भारत और पाकिस्तान की टीमें अगले दौर में जगह बना ही लें। आईसीसी के स्तर पर भी भारत और पाकिस्तान को एक ही ग्रुप में रखा जाता है ताकि इन दोनों टीमों के बीच कम से कम एक ब्लॉकबस्टर मुकाबला जरूर हो। टीम इंडिया को अब श्रीलंका और बांग्लादेश के खिलाफ होने वाले अपने दोनों मुकाबले जीतने होंगे। श्रीलंका के खिलाफ टीम का रिकॉर्ड बुरा नहीं है। 

हालांकि मौसम भी अहम भूमिका निभाएगा और अगर सुपर-4 चरण के बाकी सभी मुकाबले बारिश से धुल जाते हैं तो श्रीलंकाई टीम भारत के 3 अंकों के मुकाबले 4 अंकों के साथ फाइनल में जगह बना लेगी। ऐसे में घरेलू समर्थकों के साथ श्रीलंका पाकिस्तान की टीम के लिए मुश्किल प्रतिद्वंदी साबित होगी। 

भारतीय ओपनर्स ने सही एप्रोच के साथ बल्लेबाजी की। दोनों ने न केवल पाकिस्तान के नई गेंद के आक्रमण को दबाव में ला दिया बल्कि टीम को बैकफुट पर भी धकेल दिया। जहां शुभमन गिल ने कई खूबसूरत शॉट्स लगाए वहीं कप्तान रोहित शर्मा ने नसीम शाह के खिलाफ जबरदस्त प्रतिबद्धता दिखाई। रोहित का ये प्रयास इसलिए भी सराहनीय रहा क्योंकि नसीम शाह की गेंद असहज तरीके से उछाल ले रही थी। बारिश की वजह से जब खेल रुका तब भारत ने मैच पर अपना दबदबा बना रखा था। अब भारत को आज लगातार तीसरे दिन मैच खेलना है जो बिलकुल भी आसान काम नहीं है। अब उम्मीद है कि बारिश बाकी के मुकाबलों से दूर रहेगी। इससे भारत को भी ये मौका मिल सकेगा कि वो काबिलियत के आधार पर फाइनल में जगह बना सके न कि किस्मत की वजह से।

-सुनील गावस्कर

Post Comment

Comment List

Latest News

किसान भूमि नीलामी बिल का केंद्र से अनुमोदन कराए भजनलाल सरकार : गहलोत किसान भूमि नीलामी बिल का केंद्र से अनुमोदन कराए भजनलाल सरकार : गहलोत
राज्यपाल ने यह बिल केन्द्र सरकार से अनुमोदन के लिए भेज दिया था, लेकिन अभी तक इसे केन्द्र सरकार से...
भीषण गर्मी में नरेगा श्रमिकों को काम करना पड़ रहा भारी, श्रमिक परिवारों की संख्या में कमी
30 लाख सरकारी पद भरकर युवाओं का भविष्य सुरक्षित करेगी कांग्रेस, अग्निवीर योजना होगी बंद : खड़गे
सिंधी कैंप बस स्टैंड पर यात्रियों की भारी भीड़, रोडवेज ने चलाई अतिरिक्त बसें
कांग्रेस ने जगन्नाथ पहाड़िया को दी श्रद्धांजलि
कश्मीर में आतंकवादी हमले में घायल दंपत्ति के घर पहुंचे आरआर तिवाड़ी, सरकार से की मुआवजे की मांग 
एयर इंडिया के विमान के इंजन में लगी आग, एयरपोर्ट पर की आपात लैंडिंग