जैसलमेर,बाड़मेर के कई हिस्सों से हुई मानसून की विदाई

जैसलमेर,बाड़मेर के कई हिस्सों से हुई मानसून की विदाई

मानसून की अब तक की स्थिति के अनुसार राजस्थान में सामान्य से 14 फीसदी ज्यादा बरसात हो चुकी है। राजस्थान में 1 जून से 24 सितंबर तक औसत बारिश 430.6 एमएम होती है, जबकि इस सीजन में अब तक 491.6 एमएम बारिश हो चुकी है।

ब्यूरो/नवज्योति, जयपुर। प्रदेश में सोमवार से मानसून की विदाई शुरू हो गई है। इसकी शुरुआत जैसलमेर और बाड़मेर के कुछ हिस्सों से हुई है। वहीं 27 सितंबर से अगले तीन-चार दिनों के दौरान राज्य के अधिकांश भागों में बारिश की गतिविधियों में कमी होने की संभावना है। इधर राजस्थान के उत्तरी हिस्से में रविवार देर शाम तूफानी बारिश देखने को मिली। हनुमानगढ़ में कई जगहों पर 50 किमी स्पीड से हवा चली। तेज बरसात से कई जगह पानी भर गया। हनुमानगढ़ के अलावा गंगानगर, चूरू और बीकानेर में भी ऐसा ही मौसम रहा। वहीं राजधानी जयपुर में सोमवार अल सुबह और फिर दिन में बारिश हुई। हालांकि धूप छांव के इस मौसम में गर्मी और उमस ने शहरवासियों को सताया भी। वहीं जयपुर में सोमवार को दिन में अधिकतम तापमान 33.2 डिग्री और न्यूनतम तापमान 23.5 डिग्री दर्ज किया गया।

राज्य में अब तक 14 फीसदी ज्यादा बारिश
मानसून की अब तक की स्थिति के अनुसार राजस्थान में सामान्य से 14 फीसदी ज्यादा बरसात हो चुकी है। राजस्थान में 1 जून से 24 सितंबर तक औसत बारिश 430.6 एमएम होती है, जबकि इस सीजन में अब तक 491.6 एमएम बारिश हो चुकी है। जिलेवार स्थिति देखें तो हनुमानगढ़, अलवर, बारां, भीलवाड़ा, बूंदी, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर, झालावाड़, कोटा, सवाई माधोपुर और टोंक ऐसे जिले हैं, जहां सामान्य से कम बारिश हुई है।

Tags: Monsoon

Post Comment

Comment List

Latest News

राज्यवर्धन राठौड़ ने निगम के अधिकारियों साथ की बैठक, विकास कार्यों पर की चर्चा राज्यवर्धन राठौड़ ने निगम के अधिकारियों साथ की बैठक, विकास कार्यों पर की चर्चा
मानसून के आगमन से पहले सारी व्यवस्थाएं सही करने के भी निर्देश दिए। 
चंद्रबाबू नायडू ने 2 साल बाद विधानसभा में किया प्रवेश, अपमानित होने के बाद चले गए थे बाहर
बिना रजिस्ट्रेशन के रियल स्टेट में खरीद-बेचान करने वाले एजेंटों पर रेरा अथॉरिटी का शिकंजा, थमाएं नोटिस
2.69 करोड़ ग्राहकों के साथ प्रदेश में सबसे आगे जियो
पत्नी की हत्या : कटा सिर और हाथ नाले में फेंके
रूस में हेलीकॉप्टर क्रैश, पायलट सहित 3 लोगों की मौत
अन्नपूर्णा रसोईयों का किया औचक निरीक्षण, 7 लाख से अधिक का लगाया जुर्माना