कोचिंग छात्र ने फंदा लगाकर की आत्महत्या

कोटा में रहकर सेल्फ स्टडी से कर रहा था नीट की तैयारी

कोचिंग छात्र ने फंदा लगाकर की आत्महत्या

छात्र के पिता एमएच खान ने बताया कि तनवीर उनकी आर्थिक स्थिति कमजोर होने से परेशान था।

कोटा। कोचिंग नगरी में छात्रों द्वारा आत्महत्या करने के मामले  थमने का नाम नहीं ले रहे । बुधवार को फिर एक छात्र ने अपने घर में ही फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। छात्र मोहम्मद तनवीर  महाराजगंज यूपी निवासी पिछले ढ़ाई साल से कोटा में रहकर सेल्फ स्टडी कर रहा था। पिता की आर्थिक स्थित ठीक नहीं होने से वह लम्बे समय से परेशान था।  कोटा में अब तक 27 स्टूडेंट अपनी जीवनलीला समाप्त कर चुके हैं। इसमें अकेले 18 स्टूडेंट एलन कोचिंग के शामिल हैं।

पहले भी कर चुका था आत्महत्या का प्रयास
छात्र के पिता एमएच खान ने बताया कि तनवीर उनकी आर्थिक स्थिति कमजोर होने से परेशान था।  इसी कारण वह अच्छी कोचिंग में पढ़ भी नहीं पा रहा था। आर्थिक स्थिति कमजोर होने से वह परेशान था। गत दिनों वह चंबल में भी आत्महत्या के इरादे से गया था। लेकिन उस समय वापस लौट आया था। उसी समय से उसे अकेला भी नहीं छोड़ते थे। लेकिन काफी प्रयास के बाद भी उसे बचा नहीं सके। 

शव लेकर रवाना हो गया परिवार
जानकारी के अनुसार तनवीर ने बुधवार दोपहर 12.30 बजे के आसपास आत्म हत्या कर ली थी। उस समय घर में तनवीर और उसकी बहिन ही थे। पिता अन्य बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने गए थे। बहिन को वह कपड़े बदलने का कह कर अपने कमरे में चला गया और फांसी का फंदा लगा लिया। कुछ देर बाद उन्हें सूचना मिलते ही वह घर पहुंचे। लेकिन तब  तक उसने दम तोड़ दिया था।  पुलिस ने कोचिंग छात्र के शव का गुरुवार को मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया है।कोचिंग छात्र द्वारा आत्महत्या  करने वाले कमरे को सीज कर दिया है। 

पिता और बहन के साथ रहता था
छात्र तनवीर कोटा में किराए का मकान लेकर अपने पिता व बहिन के साथ कुन्हाड़ी स्थित कृष्णा विहार में रहता था।  थानाधिकारी मुकेश मीणा ने बताया कि सूचना मिली थी कि उप्र के महाराजगंज के रहने वाले कोचिंग छात्र मोहम्मद तनवीर (20)पुत्र एम एच खान ने  अपने कमरे में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। वह 12वीं की परीक्षा पास करने के बाद नीट  की तैयारी कर रहा था। उसके पिता वर्तमान में 11वीं 12वीं के बच्चों को स्वयं के  कोचिंग इंस्टीट्ूट में पढ़ाते थे। इसके अलावा बच्चों को घर-घर जाकर भी पढ़ाते थे। 

Read More प्रदेश में लगभग 75 फीसदी हुआ मतदान

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News

प्रदेशभर से मिल रहे फीडबैक से स्थिति स्पष्ट, भाजपा प्रचंड बहुमत से सत्ता में आ रही है:-सीपी जोशी  प्रदेशभर से मिल रहे फीडबैक से स्थिति स्पष्ट, भाजपा प्रचंड बहुमत से सत्ता में आ रही है:-सीपी जोशी 
प्रदेश में विधानसभा चुनावों के लिए मतदान संपन्न होने के बाद भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी ने भाजपा प्रत्याशियों से बात...
पांचों राज्यों में जीतेंगे, राजस्थान में रिवाज बदलने जा रहा है: गहलोत
टनल की ड्रिलिंग का काम पूरा; अब किसी भी वक्त निकाले जा सकते है मजदूर, 2 एंबुलेंस सुरंग के अंदर भेजी गई
मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता की बिगड़ी तबीयत, एसएमएस अस्पताल में भर्ती
देव दीपावली पर जलाए आस्था के दीपक
आज का भविष्यफल     
पश्चिमी विक्षोभ से आज तीसरे दिन भी मावठ, सर्दी बढ़ी, किसानों के खिले चेहरे, कई जिले कोहरे की चपेट में