'रहना है तेरे दिल में' का रीमेक क्यों नहीं चाहते आर माधवन... जाने कारण

ऑडियंस के लिए यह एक मूवी से बढ़कर है। कुछ मायनों में ये एंथम की तरह: आर माधवन

'रहना है तेरे दिल में' का रीमेक क्यों नहीं चाहते आर माधवन... जाने कारण

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता आर माधवन अपनी फिल्म 'रहना है तेरे दिल में' का रीमेक नहीं चाहते हैं। फिल्म 'रहना है तेरे दिल में' साल 2001 में रिलीज हुई थी। इस फिल्म को गौतम वासुदेव मेनन ने लिखा और निर्देशित किया था। इस फिल्म में आर माधवन के साथ दीया मिर्जा और सैफ अली खान लीड रोल में थे।

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता आर माधवन अपनी फिल्म 'रहना है तेरे दिल में' का रीमेक नहीं चाहते हैं।  फिल्म 'रहना है तेरे दिल में' साल 2001 में रिलीज हुई थी। इस फिल्म को गौतम वासुदेव मेनन ने लिखा और निर्देशित किया था। इस फिल्म में आर माधवन के साथ दीया मिर्जा और सैफ अली खान लीड रोल में थे।

आर माधवन ने 'रहना है तेरे दिल में' के रीमेक के बारे में पूछे जाने पर कहा, ''मुझे लगता है कि यह मूर्खता है। मैं इसे छूना नहीं चाहूंगा। मैं इसे एक प्रोड्यूसर के रूप में नहीं करूंगा। मैं अपने दिल की गहराइयों से उन सभी को शुभकामनाएं देता हूं। बहुत से लोगों के लिए इससे बहुत सारी यादें जुड़ी हुई हैं। ऑडियंस के लिए यह एक मूवी से बढ़कर है। कुछ मायनों में ये एंथम की तरह है।''

माधवन ने कहा, ''मैं उस तरह का आदमी नहीं हूं, जो अक्सर पीछे मुड़कर देखता है और जो कुछ हुआ है, उसके बारे में अपनी लाइफ का मूल्यांकन करता है। मैं वास्तव में बहुत ही लिव-इन-द-मोमेंट टाइप का लड़का रहूं। इसलिए मैं आभारी हूं कि मेरे पास काम करने की क्षमता है और मैं जो चाहता हूं, उसे करने के लिए जनता का प्यार है, लेकिन मैं इस पर घमंड नहीं करता हूं। मैं इसके लिए बस आभारी हूं।''

Post Comment

Comment List

Latest News