राजनीतिक गिरदावरी तो जनता ही करेगी : राजेन्द्र राठौड़

जिलावृष्टि से हुए नुकसान के रुझान भी धीरे-धीरे सामने आए

राजनीतिक गिरदावरी तो जनता ही करेगी : राजेन्द्र राठौड़

राठौड़ ने कहा कि राजनीतिक प्रभाव भी देखो कितना होता है, दूदू व खेरथल की यात्रा ग्राम पंचायत से सीधे जिले पर पहुंचकर समाप्त हुई। कुचामन व डीडवाना जिला, विश्व का पहला जिला कलेक्ट्रेट बनेगा 45 किमी लंबा, क्योंकि दोनों शहरों के बीच की दूरी है 45 किमी और घोषित जिला मुख्यालय है दोनों शहर।

जयपुर। उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने बयान जारी कर कहा कि राजस्थान के कई हिस्सों में बारिश के साथ ओलों की जगह पर जिले गिरे। जिलावृष्टि से हुए नुकसान के रुझान भी धीरे-धीरे सामने आए, लेकिन राजनीतिक गिरदावरी तो जनता ही करेगी। 

राठौड़ ने कहा कि राजनीतिक प्रभाव भी देखो कितना होता है, दूदू व खेरथल की यात्रा ग्राम पंचायत से सीधे जिले पर पहुंचकर समाप्त हुई। कुचामन व डीडवाना जिला, विश्व का पहला जिला कलेक्ट्रेट बनेगा 45 किमी लंबा, क्योंकि दोनों शहरों के बीच की दूरी है 45 किमी और घोषित जिला मुख्यालय है दोनों शहर। भीनमाल की तुलना में सांचौर की आबादी आधी है, जिला मुख्यालय होगा सांचौर। राजस्थान की राजधानी जयपुर अब जयपुर उत्तर में होगी या जयपुर दक्षिण में या फिर दूदू में, कोई अता-पता नहीं। ऐतिहासिक मारवाड़ जोधपुर का स्वरूप भी क्या होगा, अब मुखिया जी ही जाने। कोटपूतली व बहरोड़ में बनेगा 25 किमी लंबा कलेक्ट्रेट, क्योंकि दोनों शहरों के बीच में दूरी 35 किमी है और जिला मुख्यालय  बनाने की घोषणा भी दोनों शहरों में हुई है।

कर्नल राज्यवर्धन ने खराबे पर चिंता जताते हुए लिखा पत्र
भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता और जयपुर ग्रामीण सांसद कर्नल राज्यवर्धन राठौड़ ने प्रदेश में अचानक मौसम में हुए बदलाव के कारण ओलावृष्टि से किसानों की फसलों को हुए भारी नुकसान पर गहरी चिंता व्यक्त की है। इस संबंध में उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखकर प्रभावित क्षेत्रों में अतिशीघ्र गिरदावरी करवाकर किसानों को मुआवजा देने की मांग की है। कर्नल राज्यवर्धन ने पत्र के माध्यम से अवगत करवाया कि ओलावृष्टि के कारण प्रदेश के किसानों की फसल बर्बाद हो गई है।

Post Comment

Comment List

Latest News