चुनावी मोड में भाजपा : PM Modi 31 मई को अजमेर में करेंगे सभा, 7 जून को भाजपा भ्रष्टाचार को लेकर सचिवालय घेरेगी

एक दिवसीय दौरे पर पीएम आएंगे अजमेर

चुनावी मोड में भाजपा : PM Modi 31 मई को अजमेर में करेंगे सभा, 7 जून को भाजपा भ्रष्टाचार को लेकर सचिवालय घेरेगी

मोदी इससे पहले हाल ही में राजसमंद और आबूरोड में बड़ी जनसभाओं को संबोधित करके गए हैं। पिछले 9 महीनों में मोदी का यह राजस्थान का 6 वा दौरा है।

जयपुर। भाजपा की प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी और नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने मंगलवार को भाजपा ऑफिस में मीडिया से मुखातिब होते हुए बताया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 31 मई को एक दिवसीय दौरे पर अजमेर आ रहे हैं । वह यहां बड़ी जनसभा को संबोधित करेंगे। मोदी इससे पहले हाल ही में राजसमंद और आबूरोड में बड़ी जनसभाओं को संबोधित करके गए हैं। पिछले 9 महीनों में मोदी का यह राजस्थान का 6 वा दौरा है। इससे पहले जोशी और राठौड़ ने बताया कि राजस्थान सरकार के साडे 4 साल में व्याप्त भ्रष्टाचार को लेकर भारतीय जनता पार्टी आगामी महीने 7 जून को जयपुर शहर के कार्यकर्ताओं के साथ शासन सचिवालय का घेराव करके विरोध प्रदर्शन करेगी। नेता प्रतिपक्ष आएंगे राठौर ने सरकार पर आकंठ भ्रष्टाचार में डूबे होने के आरोप लगाते हुए कहा कि शासन सचिवालय से कुछ दूरी पर योजना भवन में अलमारी में अफसर के करोड़ों रुपए और सोने की सिल्ली मिलना राजस्थान के इतिहास में पहली बार हुआ है। 

उन्होंने कहा कि सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग में राजस्थान सरकार ने इस साल बजट में 400 करोड़ से ज्यादा रखे हैं। इसके अलावा 125 करोड़ रुपए अभय कमांड सेंटर के लिए और 400 करोड रुपए की विवाग को ड्रोन खरीदने के लिए दिए गए हैं। वहीं सरकार ने सभी विभागों के लिए बाध्यता की है कि वह अपने कुल बजट का 5% हिस्सा सूचना प्रौद्योगिकी पर खर्च करेंगे। ऐसे में सूचना प्रौद्योगिकी के इस बजट को देखें तो यह 16000 करोड से ज्यादा का है। हाल ही में जो दो करोड़ 31 लाख रुपए एक जॉइंट डायरेक्टर स्तर के अफसर से पकड़े हैं अगर उसके ऊपर अधिकारियों को देखें तो साफ है कि मुख्यमंत्री के इस डिपार्टमेंट में बड़े स्तर पर भ्रष्टाचार हो रहा है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा राजस्थान में महंगी बिजली खरीदने के पीछे भी भ्रष्टाचार चल रहा है। राजस्थान के थर्मल पावर में करीब 4 प्रति यूनिट के हिसाब से बिजली बनती है। जबकि सरकार ने इन प्लांटों को बंद करके प्राइवेट कंपनियों से 17 प्रति यूनिट में बिजली खरीदी है। पिछली बार विरोध पर बाद में विभाग ने 12 प्रति यूनिट के हिसाब से बिजली खरीदी । इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि बिजली खरीद में कितना करोड़ों का भ्रष्टाचार हो रहा है। सरकार ने राजस्थान की 1 क्रॉफ् 35 लाख महिलाओं को स्मार्टफोन देने के लिए घोषणा के बाद टेंडर निकाले थे। यह स्मार्टफोन करीब 21000 करोड के आने हैं। लेकिन चहेती फर्म को टेंडर नहीं होने के कारण सरकार ने बाद में उन तीनों को निरस्त कर दिया। अब दोबारा से इसकी प्रक्रिया होगी तो करोड़ों के भ्रष्टाचार की साफ आशंका है। वही 3000 करोड के राशन कार्ड के माध्यम से भी सरकार करोड़ों रुपए का संस्थागत भ्रष्टाचार करने की ओर बढ़ रही है। 

उन्होंने कहा कि सरकार के तमाम भ्रष्टाचार को लेकर भारतीय जनता पार्टी जनता के बीच जाएगी इसलिए पहले आगामी महीने में 7 जून को शासन सचिवालय का घेराव किया जाएगा और उसके बाद सभी जिलों में विधायकों से स्थानीय घोटालों और भ्रष्टाचार के मुद्दों को संकलित करके प्रदेश भर में भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन किए जाएंगे। प्रेस वार्ता में राठौड़, जोशी के साथ राज्यसभा सांसद किरोडी लाल मीणा भी मौजूद थे।

Post Comment

Comment List

Latest News

सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण हिन्द प्रशांत क्षेत्र अमेरिका की प्राथमिकता : अमेरिकी सैन्य प्रमुख सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण हिन्द प्रशांत क्षेत्र अमेरिका की प्राथमिकता : अमेरिकी सैन्य प्रमुख
हिन्द प्रशांत देशों के सेना प्रमुखों के 13वें सम्मेलन का आयोजन भारत और अमेरिका यहां संयुक्त रूप से कर रहे...
राजकोट में क्लीन स्वीप के इरादे से उतरेगा भारत
आर्मेनिया में गैस स्टेशन पर विस्फोट, 200 से अधिक घायल
प्रदेश में खोले जाएंगे विभिन्न श्रेणी के 11 न्यायालय
भाजपा नेता शाहनवाज हुसैन को आया हार्ट अटैक
बारामूला में दो आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया, आतंकवादी समेत आठ गिरफ्तार
Rajasthan Assembly Election & Genral Election : निर्वाचन विभाग ने वाहन अधिग्रहण की नवीन दरें की जारी