एनआईए का खालिस्तानी नेटवर्क पर शिकंजा, देश के 6 राज्यों में छापेमारी

मोबाइल में अर्शडल्ला से चेटिंग के सबूत मिले है

एनआईए का खालिस्तानी नेटवर्क पर शिकंजा, देश के 6 राज्यों में छापेमारी

एनआईए की टीम ने फिरोजपुर से खालिस्तानी आतंकी अर्शडल्ला के करीबी जोरासिंह का गिरफ्तार किया है। उसके मोबाइल में अर्शडल्ला से चेटिंग के सबूत मिले है।

जयपुर। भारत और कनाडा के बीच चल रहे खालिस्तानी खींचतान को लेकर सुबह से ही देश के 6 राज्यों में दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में 51 ठिकानों पर एनआईए ने छापेमारी कर 2 लोगों को गिरफ्तार किया है। एनआईए (राष्ट्रीय सुरखा एजेंसी)की टीमों ने ये कार्वाई बंबीहा, लॉनेंस और अर्शडल्ला के ठिकानों पर छापेमारी की कोर्रवाई की है। एनआईए की टीम ने फिरोजपुर से खालिस्तानी आतंकी अर्शडल्ला के करीबी जोरासिंह का गिरफ्तार किया है। उसके मोबाइल में अर्शडल्ला से चेटिंग के सबूत मिले है। राजस्थान के जैसलमेर से भी एक व्यक्ति को पकड़ा है, जिससे पूछताछ की जा रही है। 

राजस्थान में 13 ठिकानों पर दबिश
एनआईए की टीम ने राजस्थान के 13 जिलों झुंझनुं, सीकर, हनुमानगढ़, जैसलमेर, बीकानेर, गंगानगर, जोधपुर, पाली, बाड़मेर, अजमेर, कोटा ग्रामीण में कार्रवाई की। टीमों ने यहां सर्च किया, तो कुछ सबूत ऐसे मिले है कि यहां से कनाडाईयों को टच किया जा रहा है। इसके अलावा खुलासा है कि खलिस्तानी सोच को बढ़ावा देने के लिए फंडिग भी की जा रही है। एनआईए ने संदिग्धों के खातों की भी जांच की है। राजस्थान के करीब एक दर्जन जिलों में खलिस्तानी के नए नक्शे मिले है। अब तक की जांच में सामने आया है कि यह कार्रवाई खलिस्तानी सोच रखने वाले लोगों पर की गई है। 

कई राज्यों में एनआईए की छापेमारी 
खालिस्तानी आतंकियों के खिलाफ कई राज्यों में एनआईए की छापेमारी जारी है। उत्तराखंड के भी 2 जिलों उधम सिंह नगर के बाजपुर और देहरादून में एनआईए ने छापेमारी की। उधम सिंह नगर के बाजपुर में कई दस्तावेज की जांच की है। इसके अलावा देहरादून के एक डीलर के यहां भी छापेमारी की। एनआईए ने पंजाब में 30, राजस्थान में 13 और उत्तराखंड में 2 स्थानों, दिल्ली और यूपी में एक-एक स्थान पर पर छापेमारी की है। यह प्रतिबंधित खालिस्तानी संगठन खालिस्तान टाइगर फोर्स पर एक प्रहार है। 

 

Read More राजस्थान को मिला 9959 करोड़ रुपए का बजट

Tags: NIA

Post Comment

Comment List

Latest News

निकायों के निर्माण कार्यों में एम-सैंड का उपयोग अनिवार्य, प्रोजेक्ट्स में न्यूनतम 25 प्रतिशत एम-सैंड लेंगे काम निकायों के निर्माण कार्यों में एम-सैंड का उपयोग अनिवार्य, प्रोजेक्ट्स में न्यूनतम 25 प्रतिशत एम-सैंड लेंगे काम
नगरीय विकास एवं आवासन विभाग ने एक आदेश जारी किया है, जिसमें निर्माण कार्यों में खनिज बजरी के विकल्प के...
जल जीवन मिशन कामों की कल होगी समीक्षा, प्रति ग्राम पंचायत दो-दो नल जल मित्र के प्रस्ताव होंगे पारित
राज्य सरकार एवं हुडको के मध्य हुआ एमओयू
शंभू बॉर्डर किसान आंदोलन: बैरिकेडिंग पर सुप्रीम कोर्ट ने दिया स्वतंत्र समिति बनाने का सुझाव
राजस्थान को मिला 9959 करोड़ रुपए का बजट
कस्टम ड्यूटी में कटौती के बाद सोना-चांदी की खरीदारी में वृद्धि
AAP ने लगाए आरोप- केंद्र सरकार ने बजट में दिल्ली और पंजाब के साथ किया सौतेला व्यवहार