इनक्यूबेशन सेंटर स्टार्टअप ईको सिस्टम को दे रहा बढ़ावा 

ग्रांट प्राप्तकर्ता के रूप में घोषित किया गया

इनक्यूबेशन सेंटर स्टार्टअप ईको सिस्टम को दे रहा बढ़ावा 

अब तक 5 करोड़ रुपए की प्रभावशाली राशि वितरित की है। इन चार स्टार्टअप में कोडमेट, इंश्योरेंस पड़ोसी, माई बॉडी अफेयर्स और शक्ति वियरेबल्स शामिल है।

जयपुर। जेईसीआरसी इन्क्यूबेशन सेंटर ने एक बार फिर से स्टार्टअप्स को मदद करने के उद्देश्य से पहल की है। केन्द्र सरकार के इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की योजना के अंतर्गत और राजस्थान का सबसे बड़ा अनुदान कार्यक्रम के तहत तीन स्टार्टअप को कुल 28 लाख रुपए दिए हैं, जिससे भारतीय स्टार्टअप संस्थापकों के लिए एक नए केंद्र के रूप में जयपुर की स्थिति और मजबूत हो गई है। 500 से अधिक स्टार्टअप में से 200 को प्रारंभिक दौर के दौरान अपने विचार प्रस्तुत करने का अवसर मिला और शीर्ष 4 स्टार्टअप को ग्रांट प्राप्तकर्ता के रूप में घोषित किया गया। 

अब तक 5 करोड़ रुपए की प्रभावशाली राशि वितरित की है। इन चार स्टार्टअप में कोडमेट, इंश्योरेंस पड़ोसी, माई बॉडी अफेयर्स और शक्ति वियरेबल्स शामिल है। जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी के डिजिटल स्ट्रेटजीस हेड धीमंत अग्रवाल ने बताया कि जेईसीआरसी इनक्यूबेशन सेंटर निरंतर समर्थन और मार्गदर्शन के लिए जाना जाता है। इन स्टार्टअप्स को सफलता के लिए मार्गदर्शन करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। 

Tags: center

Post Comment

Comment List

Latest News

BJP 1st List : राजस्थान की 15 सीटों पर प्रत्याशियों का एलान, ओम बिड़ला को कोटा-बूंदी से बनाया प्रत्याशी BJP 1st List : राजस्थान की 15 सीटों पर प्रत्याशियों का एलान, ओम बिड़ला को कोटा-बूंदी से बनाया प्रत्याशी
लोकसभा चुनाव 2024 के लिए भारतीय जनता पार्टी की पहली सूची जारी कर दी गई है। जिसमें कुल 195 उम्मीदवारों...
BJP Lok Sabha Election 2024 First List: BJP की पहली सूची जारी, 195 सीटों पर उम्मीदवारों का एलान
Google ने 10 से ज्यादा भारतीयों ऐप्स को प्ले स्टोर से हटाया
गौतम गंभीर के बाद जयंत सिन्हा ने भी लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने की कही बात
हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बरकरार, वक्त आने पर होगी बगावतियों पर कार्रवाई : दिग्विजय सिंह
पाकिस्तान ने चुनावी विसंगतियों की जांच के अमेरिका के सुझाव को किया खारिज 
हर साल 20 करोड़ रुपए का पेट्रोल डीजल फूंक रहा नगर निगम