तूफान के प्रभाव से निपटने को चेन्नई का दिए गए चार हजार करोड़ रूपये:स्टालिन

तूफान के प्रभाव से निपटने को चेन्नई का दिए गए चार हजार करोड़ रूपये:स्टालिन

स्टालिन ने कहा कि राज्य अन्य प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्यों के लिए, पांच हजार करोड़ रुपये की  केंद्र से अंतरिम वित्तीय सहायता की मांग करेगा।

चेन्नई। तमिलनाडु के चेन्नई शहर में हाल ही में आया शक्तिशाली तूफान मिचौंग के कारण भारी वर्षा से अचानक बाढ़ से शहर में कम तबाही होने पर मुख्यमंत्री एम.के.स्टालिन ने बुधवार को कहा कि इस तूफान से मचने वाली तबाही से शहर को सुरक्षित रखने के लिए राज्य सरकार ने चार हजार करोड़ रुपये दिए।

स्टालिन ने कहा कि राज्य अन्य प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्यों के लिए, पांच हजार करोड़ रुपये की  केंद्र से अंतरिम वित्तीय सहायता की मांग करेगा। उन्होंने कहा कि द्रमुक सांसद केंद्र से पांच करोड़ रुपये की अंतरिम राहत पाने के लिए इस मुद्दे को संसद में उठाएंगे। 

मुख्यमंत्री ने यहां संवाददाताओं से कहा कि चक्रवाती तूफान के कारण 2015 की तुलना में इस बार अभूतपूर्व और भारी बारिश के कारण होने वाली मौतें घटकर केवल सात रह गईं, जो कि 199 से अधिक मौतों की तुलना में नहीं होनी चाहिए थी। 2015 में अचानक आई बाढ़ के दौरान हुआ। उन्होंने कहा कि ये सात मौतें भी दुर्भाग्यपूर्ण थीं।     

स्टालिन ने एक्स पर लिखा, ''केरल के पिनाराई विजयन के साथ एकजुटता की सराहना करते हैं। कॉमरेड पिनाराई विजयन आपके आउटरीच के लिए आभारी हैं। चेन्नई लगातार ठीक हो रहा है और केरल के लोगों की ओर से आपकी वास्तविक ङ्क्षचता हमारे दिलों को छू जाती है। हम सब मिलकर इस चुनौती से पार पा लेंगे।''        

Read More बेंगलुरु के रामेश्वरम कैफे में धमाका, कुछ लोग घायल

स्टालिन ने शहर के विभिन्न राहत शिविरों और विशेष चिकित्सा शिविरों का भी दौरा किया और लोगों को राहत सामग्री वितरित की।

Read More ममता के राजनीतिक, कानूनी संरक्षण में संदेशखाली का मुख्य आरोपी शाहजहां शेख: भाजपा

स्पष्ट रूप से पिछले अन्नाद्रमुक शासन पर कटाक्ष करते हुए, स्टालिन ने कहा, 2015 में अचानक आई बाढ़ चेम्बरमबक्कम झील से छोड़े गए पानी के कारण कृत्रिम थी और वर्तमान बाढ़ मूसलाधार बारिश के कारण हुई। उन्होंने बताया कि वंडालूर और वेलाचेरी के पास मुदिचुर तथा आसपास के कई उपनगरीय इलाके अभी भी जलमग्न हैं, जो एक द्वीप जैसा दिख रहा है। अधिकारियों ने लोगों को बचाने के लिए फाइबर नौकाओं को लगाया और भोजन के पैकेट, दूध, दही सहित अन्य आवश्यक सामान भी वितरित किए। कुछ उपनगरीय इलाकों में खाने के पैकेट हवाई मार्ग से भी गिराए गए, क्योंकि भारी जलभराव के कारण लोगों को घर के अंदर ही रहना पड़ा। ग्रेट चेन्नई कॉर्पोरेशन के अधिकारी पानी निकालने के लिए चौबीसों घंटे काम कर रहे हैं।

Read More Sandeshkhali Case: शाहजहां शेख को संरक्षण दे रही हैं ममता बनर्जी: भाजपा

Tags: mk stalin

Post Comment

Comment List

Latest News

सारा अली खान की फिल्म 'ऐ वतन मेरे वतन' का टीजर रिलीज, आजादी के दौर की है कहानी सारा अली खान की फिल्म 'ऐ वतन मेरे वतन' का टीजर रिलीज, आजादी के दौर की है कहानी
कन्नन अय्यर के निर्देशन में बनी ए वतन मेरे वतन में सारा अली खान के अलावा सचिन खेडेकर, अभय वर्मा,...
विकास की गति में अवरोध बनी मोदी सरकार, सिर्फ मित्रों का हित साधा : राहुल
कुणाल खेमू की फिल्म मडगांव एक्सप्रेस का टीजर रिलीज
लेबनान पर इजरायल ने किए हमले, 4 लड़ाकों की मौत
अशोक गहलोत विधानसभा चुनाव की हार की हताशा में हैं : मेघवाल
घरेलू एलपीजी गैस के वाणिज्यिक उपयोग पर जब्त किए 45 सिलेंडर 
गंभीर का सियासी पिच से संन्यास का एलान, पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा को लिखा पत्र