नार्वे में 26 घंटे का दिन लागू करने का प्लान, घड़ी की सूई 13 बजे तक जाएगी

देश के आर्कटिक हिस्से में होगा 26 घंटे के टाइम जोन

नार्वे में 26 घंटे का दिन लागू करने का प्लान, घड़ी की सूई 13 बजे तक जाएगी

देश के आर्कटिक हिस्से में 26 घंटे का टाइम जोन चलेगा। इस बाबत नार्वे ने यूरोपीय कमीशन को पत्र लिखकर मंजूरी मांगी है।

नार्वे। हमारे कलाई पर बंधी घड़ी या दीवार पर लगी घड़ी मनुष्य की दिनचर्या की अहम हिस्सा है। मनुष्य सारे काम घड़ी के अनुसार ही करता है। हमारी घड़ी का टाइम जोन 24 घंटे के टाइम जोन के हिसाब से सेट है। लेकिन अगर हम बात करे कि कोई इस टाइम जोन को 24 घंटे की बजाय 26 घंटे का करने जा रहा है। तो यह हैरानीजनक तो लगेगा ही। लेकिन यूरोप महाद्वीप का एक देश नार्वे ऐसा करने जा रहा है। नार्वे में 26 घंटे का टाइम जोन लागू करने का प्लान तैयार कर लिया है। नार्वे की घड़ियों में अब सूई 12 तक नहीं बल्कि 13 तक जाएगी।  

देश के आर्कटिक हिस्से में 26 घंटे का टाइम जोन चलेगा। इस बाबत नार्वे ने यूरोपीय कमीशन को पत्र लिखकर मंजूरी मांगी है।

 

  •  
  •  

Post Comment

Comment List

Latest News

सिंधीकैंप बस स्टैंड से दूर हो निजी बसें तो बढ़े रोडवेज की आय सिंधीकैंप बस स्टैंड से दूर हो निजी बसें तो बढ़े रोडवेज की आय
जानकारी के अनुसार रोडवेज के अधिकृत बस स्टैंड के बाहर निजी बसेंखड़ी होने से रोडवेज को यात्रीभार के साथ राजस्व...
पेयजल सिस्टम गड़बड़ाया : पानी का प्रेशर कम, सप्लाई समय भी घटाया
लोकसभा चुनाव : 2019 की क्लोज कॉन्टेस्ट वाली वो सीटें जिनपर टिका है एनडीए और इंडिया दोनों का 2024 का चुनावी गणित!
म्यांमार में हिंदुओं और बौद्धों पर आफत, 5000 घर जलाए 
चार जून को करौली-धौलपुर का सबसे पहले और बाड़मेर का अंत में होगा नतीजा घोषित
कंप्यूटर पार्ट्स फैक्ट्री में लगी भीषण आग
नौतपा से पहले ही तपा प्रदेश, अगले तीन-चार दिन तक भीषण गर्मी का रेड अलर्ट