biological park
राजस्थान  कोटा 

असर खबर का - खुश खबरी : आज से बायोलॉजिकल पार्क में दौड़ेंगी गोल्फ कार्ट

असर खबर का - खुश खबरी : आज से बायोलॉजिकल पार्क में दौड़ेंगी गोल्फ कार्ट पर्यटकों की परेशानियों को लेकर नवज्योति ने लगातार खबरें प्रकाशित गंभीर मुद्दों प्रमुखता से उठाया था।
Read More...
राजस्थान  जयपुर 

एक हजार किमी का सफर तय कर पहली बार जैविक उद्यान पहुंचा ऊदबिलाव का जोड़ा

एक हजार किमी का सफर तय कर पहली बार जैविक उद्यान पहुंचा ऊदबिलाव का जोड़ा दैनिक नवज्योति ने सबसे पहले खबर प्रकाशित कर जानकारी दी थी कि प्रदेश के जैविक उद्यानों में पहली बार जयपुर स्थित नाहरगढ़ जैविक उद्यानों में ऊदबिलाव की उपस्थिति देखने को मिलेगी।  
Read More...
राजस्थान  कोटा 

मुकुंदरा को झटका, सज्जनगढ़ जाएगा टी-104

 मुकुंदरा को झटका, सज्जनगढ़ जाएगा टी-104 एनटीसीए की अनुमति के बाद बाघ टी-104 की शिफ्टिंग का रास्ता साफ हो गया है। ऐसे में साढ़े तीन साल के बाद टी-104 को रणथम्भौर के भिड नाके में बने एनक्लोजर से सज्जनगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में शिफ्ट किया जाएगा।
Read More...
राजस्थान  कोटा 

20 करोड़ मिले तो बदले बायोलॉजिकल पार्क की सूरत

20 करोड़ मिले तो बदले बायोलॉजिकल पार्क की सूरत बायोलॉजिकल पार्क के निर्माण के दौरान 44 एनक्लोजर बनने थे लेकिन प्रथम चरण में मात्र 13 ही बन पाए। जबकि, 31 एनक्लोजर अभी बनने बाकी हैं। जब तक यह एनक्लोजर नहीं बनेंगे तब तक पुराने चिड़ियाघर में मौजूद अजगर, मगरमच्छ, बंदर व कछुए व ऐमु सहित एक दर्जन से अधिक वन्यजीव बायलॉजिकल पार्क में शिफ्ट नहीं हो पाएंगे।
Read More...
राजस्थान  कोटा 

लॉयन और टाइगर की धमक से ही बायोलॉजिकल पार्क मालामाल

लॉयन और टाइगर की धमक से ही बायोलॉजिकल पार्क मालामाल इस वर्ष बायोलोजिकल पार्क ने लॉयन-टाइगर की रिलीज के साथ ही पिछले साल मार्च में हुई कमाई के सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। साथ ही पर्यटकों की संख्या में भी 3 हजार की बढ़ोतरी हुई है। इस वर्ष बायोलोजिकल पार्क 7 हजार 828 पर्यटकों के साथ 3 लाख 7 हजार 740 रुपए की आय कर चुका है।
Read More...
राजस्थान  कोटा 

दो दिन बाद पर्यटकों को होंगे महारानी सुहासिनी के दीदार

दो दिन बाद पर्यटकों को होंगे महारानी सुहासिनी के दीदार सुहासिनी ने एनक्लोजर के लगातार 6 चक्कर काटे थे। उसने घूम-घूम कर बायोलॉजिकल पार्क का अवलोकन किया और तेज दहाड़ के साथ अन्य वन्यजीवों को अपनी मौजूदगी का अहसास कराया। आधे घंटे तक एनक्लोजर में विचरण करती रही। इसके बाद वह नाइट शेल्टर में चली गई।
Read More...
राजस्थान  कोटा 

कोटा में 1.50 करोड़ से बनेगा इंटरप्रिटेशन सेंटर

कोटा में 1.50 करोड़ से बनेगा इंटरप्रिटेशन सेंटर इंटरप्रिटेशन सेंटर में थियेटर भी बनाया जाएगा। जिस पर पर्यटकों को वन्यजीवों की फिल्म दिखाई जाएगी। रात में वन्यजीव जंगल में कैसे विचरण करते हैं और कैसे शिकार करते हैं, यह फिल्म के माध्यम से पर्यटकों को रुबरू कराया जाएगा।
Read More...
राजस्थान  कोटा 

15 जनवरी तक कोटा में गूंजेगी बब्बर शेर की दहाड़!

15 जनवरी तक कोटा में गूंजेगी बब्बर शेर की दहाड़! सज्जनगढ़ उदयपुर से कोटा बायोलॉजिकल पार्क के लिए बब्बर शेर अली और शेरनी सुहासिनी को लाया जाना है। सीडब्ल्यूएलडब्ल्यू से परमिशन मिलने के साथ ही विभागीय तैयारियां पूरी कर ली गई है।
Read More...
राजस्थान  जयपुर 

नाहरगढ़ जैविक उद्यान में भालू ने दिया बच्चे को जन्म

नाहरगढ़ जैविक उद्यान में भालू ने दिया बच्चे को जन्म मादा भालू  झुमरी ने बच्चे को जन्म दिया है। अभी मादा ने बच्चे को मांद में ही रखा है।
Read More...
राजस्थान  जयपुर 

‘शिवाजी’ पहुंचा बायोलॉजिकल पार्क, 3 सप्ताह क्वारेंटीन रहने के बाद 'रानी' के साथ बनाएंगा जोड़ी

‘शिवाजी’ पहुंचा बायोलॉजिकल पार्क,  3 सप्ताह क्वारेंटीन रहने के बाद 'रानी' के साथ बनाएंगा जोड़ी जयपुर। नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में मंगलवार सुबह 11.30 बजे नर बाघ 'शिवाजी' को लाया गया। डॉ. अरविंद माथुर, दिग्विजय सिंह, मधोलाल मीना की टीम इसे लेकर जयपुर पहुंची।
Read More...
राजस्थान  कोटा  Top-News 

कोटा के भालू खा रहे दलिया, जयपुर के फ्रूट आइसक्रीम

कोटा के भालू खा रहे दलिया, जयपुर के फ्रूट आइसक्रीम अभेड़ा बायोलॉजिकल पार्क में वन्यजीवों को गर्मी के प्रकोप से बचाने के लिए उनकी डाइट में बदलाव तो कर दिया लेकिन जरूरी पोषक तत्वों को शामिल नहीं किया। जिससे वन्यजीवों में डिहाइडेÑशन का खतरा बढ़ रहा है। यहां भालू को दलिया खाने को दिया जाता है जब कि जयपुर में भालू को नियमित फ्रूट आइसक्रीम दी जा रही है।
Read More...
राजस्थान  कोटा 

अब पर्यटकों को बायोलॉजिकल पार्क में दिखाई देगा दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा पक्षी ऐमू

अब पर्यटकों  को बायोलॉजिकल पार्क में दिखाई देगा दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा पक्षी ऐमू पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए रविवार को चिड़ियाघर से चार एमू को अभेड़ा बायोलॉजिकल पार्क में शिफ्ट किया है। दुनिया का दूसरा बड़ा नोन फ्लाई बर्ड यानी (उड़ने में अक्षम) पक्षी की झलक अब चिड़ियाघर में नहीं,अभेड़ा बायलॉजिकल पार्क में देखने को मिलेगी।
Read More...

Advertisement